Submit your post

Follow Us

ISIS और नाज़ियों की तरह का ही है ये अमेरिकी संगठन

5
शेयर्स

वो घोड़े की पीठ पर बैठकर रात में निकलते थे. सफेद चोगे में चेहरा ढंककर चलते और रास्ते में मिलने वाले हर अश्वेत को धमकाते, टॉर्चर करते, फसलों और घरों को नष्ट करते. नए-नए मुक्त हुए गुलाम उनका खास निशाना होते थे. बात उस नाम की जो एक समय पर अमेरिका के दक्षिणी राज्यों में अश्वेतों के लिए आतंक था. कू क्लक्स क्लान या kkk एक ऐसा संगठन है जो अमेरिकी श्वेत नस्लवाद के आतंक का प्रतीक है.

स्थापना

कू क्लक्स क्लान, एक ऐसा रेसिस्ट अमेरिकी संगठन था जिसकी स्थापना 24 दिसंबर 1866 को हुई थी. इसकी स्थापना के समय कहा गया था कि ये लोकतांत्रिक तरीके से श्वेतों की महानता की पुनर्स्थापना करेंगे. मगर हकीकत में ये एक हिंसा फैलाने वाला संगठन था. 20वीं शताब्दी की शुरुआत में क्लान में मेथोडिस्ट ईसाइयों का दबदबा बढ़ा और उन्होंने इसमें क्रॉस जलाने, उग्र रैलियां करने, शरणार्थियों, अश्वेतों और यहूदियों के खिलाफ हिंसा करना शुरू किया. 1960 के सिविल राइट मूवमेंट के बाद क्लान की हिंसा में और बढ़ोत्तरी हुई. क्लान के लोगों नें अश्वेतों के स्कूलों पर बम फेंकने चर्च जलाने के साथ-साथ समानता की बात करने वाले श्वेत ऐक्टिविस्ट्स पर भी हमले करना भी शुरू कर दिया.

क्लान का लोगो
क्लान का लोगो

 

पहला दौर

1871 में 500 नकाबपोशों ने यूनियन की जेल पर हमला करके 8 अश्वेत कैदियों को पीट-पीट कर मार डाला. इसके बाद क्लान की गतिविधियों को अपराध करार दिया गया. इसके साथ ही क्लान की गतिविधियों में बड़ी गिरावट आई. क्लान की स्थापना में कुछ कन्फेडरेट पूर्वसैनिकों का हाथ था. कन्फेडरेट सेना से ही अब्राहम लिकंन के नेतृत्व में यूनियन सेनाओं का युद्ध हुआ था. जिसमें यूनियन जीत गया था मगर अंत में लिंकन की हत्या हो गई थी. इसका नाम ग्रीक शब्द कायक्लोस से लिया गया है. इसका अर्थ घेरा होता है. कन्फेडरेट जनरल ‘नाथन बेडफोर्ड फॉरेस्ट’ को क्लान का पहला नेता चुना गया और महान जादूगर की उपाधि दी गई.

पुनर्जीवन

1915, प्रोटेस्टेंट ईसाईयों ने क्लान को पुनर्जीवित किया. 1905 की थॉमस डिक्सन की किताब, ‘द क्लान्समैन’ और DW ग्रिफिथ की 1915 की फिल्म ‘बर्थ ऑफ ए नेशन’ का हवाला देकर रोमन कैथोलिक्स, यहूदियों, विदेशियों और अश्वेतों को खत्म करने की अपील की गई. क्लान का सिंबल था जलता हुआ क्रॉस. क्लान की लोकप्रियता बढ़ने लगी. 1920 तक क्लान की लोकप्रियता चरम पर थी. उस समय इसके 40 लाख से ज़्यादा सदस्य थे. ये सब रात में एक खास तरह के मास्क पहन कर निकलते और रास्ते में मिलने वाले अश्वेतों पर हमला करते. दक्षिण अमेरिका के राज्यों में इनका आतंक सबसे ज़्यादा फैला. मगर 1930 की मंदी ने क्लान को एक बार फिर से हाशिये पर ढकेल दिया.

तीसरी बार

1960 में अमेरिका में सिविल राइट आंदोलन शुरू हुआ और क्लान की लोकप्रियता फिर से बढ़ी. लोग छिप कर क्लान के लिए काम करते रहे. 1965 में राष्ट्रपति लिंडन जॉनसन ने क्लान की सदस्यता लेने वाले को गिरफ्तार करने की घोषणा की. इसके बाद क्लान फिर से हाशिये पर चला गया. मगर फिर भी कभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ.

klan

आज भी इसकी शाखाएं हैं और वेबसाइट्स मौजूद हैं ये सभी श्वेतों के खतरे में होने और मीडिया के द्वारा उनकी खबर न दिखाने की बात करते हुए श्वेतों के लिए खड़े होने की बात करती हैं.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

आज इस जादूगर की बरसी है.

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

चाचा शरद पवार ने ये बातें समझी होती तो शायद भतीजे अजित पवार धोखा नहीं देते

शुरुआत 2004 से हुई थी, 2019 आते-आते बात यहां तक पहुंच गई.

रिव्यू पिटीशन क्या होता है? कौन, क्यों, कब दाखिल कर सकता है?

अयोध्या पर फैसले के खिलाफ ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड रिव्यू पिटीशन दायर करने जा रहा है.

इन नौ सवालों का जवाब दे दिया, तब मानेंगे आप ऐश्वर्या के सच्चे फैन हैं

कुछ ऐसी बातें, जो शायद आप नहीं जानते होंगे.

अमिताभ बच्चन तो ठीक हैं, दादा साहेब फाल्के के बारे में कितना जानते हो?

खुद पर है विश्वास तो आ जाओ मैदान में.

‘ताई तो कहती है, ऐसी लंबी-लंबी अंगुलियां चुडै़ल की होती हैं’

एक कहानी रोज़ में आज पढ़िए शिवानी की चन्नी.

मोदी जी का बड्डे मना लिया? अब क्विज़ खेलकर देखो कितना जानते हो उनको

मितरों! अच्छे नंबर चइये कि नइ चइये?

कॉन्ट्रोवर्सियल पेंटर एमएफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

एमएफ हुसैन की पेंटिंग और विवाद के बारे में तो गूगल करके आपने खूब जान लिया. अब ज़रा यहां कलाकारी दिखाइए.

इस क्विज़ में परफेक्ट हो गए, तो कभी चालान नहीं कटेगा

बस 15 सवाल हैं मित्रों!