Submit your post

Follow Us

वो कर्रा भारतीय, जिसने अंग्रेजों को ऐसा मारा कि कप्तान ने सोने की घड़ी गिफ्ट कर दी

सितंबर-नवंबर में हुआ IPL2020. फिर वहीं से टीम इंडिया निकल गई ऑस्ट्रेलिया. यानी टीम इंडिया कोविड काल से बाहर निकल गई. दोबारा से एक्शन शुरू हो गया. लेकिन इस बीच सवाल था कि जो भारतीय टीम में नहीं खेल रहे, उनका क्या? डोमेस्टिक क्रिकेट के सितारे वापसी के लिए व्याकुल थे. लेकिन BCCI कुछ तय नहीं कर पा रहा था. लंबी खींचतान के बाद पता चला कि इंडियन डोमेस्टिक सीजन सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी से शुरू होगा.

यानी 2021 सीजन का पहला टूर्नामेंट होगा सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी. जैसा कि सारे क्रिकेट प्रेमी जानते हैं कि यह एक T20 टूर्नामेंट है. यानी इसे इंडिया का घरेलू IPL कह सकते हैं. घरेलू इसलिए, क्योंकि IPL तो बस नाम का डोमेस्टिक टूर्नामेंट है. स्टेट्स वाला गेम तो सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में ही होता है. अब इस ट्रॉफी की इतनी बात कर ली तो इस ट्रॉफी के नामकरण वाले व्यक्ति की भी बात कर लें.

# No Mushtaq No Test

शुरुआत एक क़िस्से से करेंगे. ऑस्ट्रेलिया की सर्विसेज साइड इंडिया में थी. इस टीम को कलकत्ता में भारतीय टीम के साथ एक अनऑफिशल टेस्ट खेलना था. इस टेस्ट के लिए भारतीय टीम घोषित हुई तो इसमें मुश्ताक अली का नाम नहीं था. बस, फिर क्या था. लोग गुस्सा गए. कलकत्ता के लोगों ने सेलेक्शन कमिटी के चेयरमैन दलीपसिंहजी को घेर लिया. नारे लगने लगे, नो मुश्ताक, नो टेस्ट. ये हंगामा ऐसा बढ़ा कि बाद में मुश्ताक को इस टेस्ट की टीम में शामिल करना ही पड़ा.

मुश्ताक अली. जाबड़, धमाकेदार, कर्रे ओपनर. जरूरत के वक्त वह मिडल ऑर्डर में भी खेल सकते थे, लेकिन खेल जो था वो धूम-धड़ाकों वाला ही था. बैटिंग के साथ वह स्लो लेफ्ट आर्म ऑर्थोडॉक्स स्पिन बोलिंग भी करते थे. हालांकि इंटरनेशनल क्रिकेट में उन्होंने उतनी बोलिंग नहीं की. लेकिन डोमेस्टिक में उनके नाम 162 विकेट थे. मुश्ताक ने अपने करियर की शुरुआत लेफ्ट आर्म स्पिनर के रूप में की थी. 1933-34 में ईडन गार्डन्स में हुए इस टेस्ट में मुश्ताक अली ने सातवें नंबर पर बैटिंग की.

लेकिन जल्दी ही उन्हें प्रमोट कर दिया गया. और साल 1936 के इंग्लैंड टूर पर तो गज़ब ही हो गया. ओपनिंग करने में विजय मर्चेंट का साथ मिलते ही मुश्ताक ने जो कुटाई करी, कि होलकर से हेडिंग्ले तक उनका एक जैसा भौकाल हो गया. हालांकि इस भौकाल की शुरुआत बहुत भौकाली नहीं रही. मुश्ताक को दूसरे टेस्ट में ओपनिंग का जिम्मा मिला. मैनचेस्टर में हुए इस टेस्ट में मुश्ताक ने अभी 13 रन ही बनाए थे, कि हादसा हो गया.

# रुख बदलने वाले प्लेयर

विजय मर्चेंट की एक ड्राइव मुश्ताक के बल्ले से लगकर शॉर्ट मिड ऑन पर खड़े ऑर्थर फाग के पास गई. जिन्होंने उसे विकेट पर मार मुश्ताक को रनआउट कर दिया. बाद में भारतीय टीम 203 पर सिमट गई. जवाब में इंग्लैंड ने 571-8 बनाकर पारी घोषित की. यह सारा काम दूसरे दिन के चायकाल तक हो गया था. दूसरे दिन इंग्लैंड ने 398 रन कूटे थे. मतलब पिच बैटिंग के लिए सही थी. इस दिन के आखिरी सेशन में मुश्ताक और मर्चेंट ने मिलकर 190 रन जोड़ डाले.

मुश्ताक इस पारी में कुछ ज्यादा ही आक्रामक थे. उन्होंने ड्राइव और पुल जैसे शॉट्स को पूरे अधिकार के साथ खेला. वह इंग्लैंड के तेज बोलर्स को क्रीज़ से निकलकर कूट रहे थे. दूसरे दिन की शुरुआत में ही उन्होंने अपनी सेंचुरी पूरी कर ली. दिन के अंत में वह 106 रन बनाकर नॉटआउट लौटे.

यह विदेश में खेले गए टेस्ट में भारत के लिए पहली सेंचुरी थी. उनकी ये बैटिंग देख टीम के कैप्टन विज़ी (महाराजा ऑफ विज़ीनगरम) ने ड्रेसिंग रूम लौटते ही उन्हें सोने की घड़ी पहना दी. अगले दिन वह 112 रन बनाकर आउट हुए. लेकिन तब तक भारत चार दिन का यह टेस्ट बचा चुका था.

हालांकि उनका टेस्ट करियर बहुत लंबा नहीं चला. मुश्ताक, सेलेक्टर्स की गुडबुक में कभी नहीं रहे और इसके चलते ही वह सिर्फ 11 टेस्ट ही खेल पाए. लेकिन उन्हें खेलते देख चुके लोगों की मानें तो मुश्ताक अपने आंकड़ों से कहीं बड़े थे. वह टेस्ट क्रिकेट इतिहास के उन चुनिंदा लोगों में से एक थे जो पलक झपकते ही टेस्ट का रुख बदल सकते थे.


बेईमानी में कंगारुओं की मिसाल देनी हो तो सिडनी टेस्ट की इन बातों पर गौर कीजिए!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

जानते हो ऋतिक रोशन की पहली कमाई कितनी थी?

जानते हो ऋतिक रोशन की पहली कमाई कितनी थी?

सलमान ने ऐसा क्या कह दिया था, जिससे ऋतिक हो गए थे नाराज़? क्विज़ खेल लो. जान लो.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

किसान दिवस पर किसानी से जुड़े इन सवालों पर अपनी जनरल नॉलेज चेक कर लें

किसान दिवस पर किसानी से जुड़े इन सवालों पर अपनी जनरल नॉलेज चेक कर लें

कितने नंबर आए, ये बताते हुए जाइएगा.

इन नौ सवालों का जवाब दे दिया, तब मानेंगे आप ऐश्वर्या के सच्चे फैन हैं

इन नौ सवालों का जवाब दे दिया, तब मानेंगे आप ऐश्वर्या के सच्चे फैन हैं

कुछ ऐसी बातें, जो शायद आप नहीं जानते होंगे.

क्विज़: नुसरत फतेह अली खान को दिल से सुना है, तो इन सवालों का जवाब दो

क्विज़: नुसरत फतेह अली खान को दिल से सुना है, तो इन सवालों का जवाब दो

आज बड्डे है.

ये क्विज जीत नहीं पाए तो तुम्हारा बचपन बेकार गया

ये क्विज जीत नहीं पाए तो तुम्हारा बचपन बेकार गया

आज कार्टून नेटवर्क का हैपी बड्डे है.

रणबीर कपूर की मम्मी उन्हें किस नाम से बुलाती हैं?

रणबीर कपूर की मम्मी उन्हें किस नाम से बुलाती हैं?

आज यानी 28 सितंबर को उनका जन्मदिन होता है. खेलिए क्विज.

करीना कपूर के फैन हो तो इ वाला क्विज खेल के दिखाओ जरा

करीना कपूर के फैन हो तो इ वाला क्विज खेल के दिखाओ जरा

बेबो वो बेबो. क्विज उसकी खेलो. सवाल हम लिख लाए. गलत जवाब देकर डांट झेलो.

रवनीत सिंह बिट्टू, कांग्रेस का वो सांसद जिसने एक केंद्रीय मंत्री के इस्तीफे का प्लॉट तैयार कर दिया!

रवनीत सिंह बिट्टू, कांग्रेस का वो सांसद जिसने एक केंद्रीय मंत्री के इस्तीफे का प्लॉट तैयार कर दिया!

17 सितंबर को किसानों के मुद्दे पर बिट्टू ऐसा बोल गए कि सियासत में हलचल मच गई.

मोदी जी का बड्डे मना लिया? अब क्विज़ खेलकर देखो उनको कितना जानते हो मितरों

मोदी जी का बड्डे मना लिया? अब क्विज़ खेलकर देखो उनको कितना जानते हो मितरों

अच्छे नंबर चइये कि नइ चइये?