Thelallantop

इंग्लैंड के वो पांच धुरंधर जो चल गए तो विपक्षी टीम का भुर्ता बनना तय है

तस्वीर में जोस बटलर, मॉर्गन और जॉनी बेयरस्टो ( फोटो क्रेडिट : PTI)

इंग्लैंड. व्हाइट बॉल फॉर्मेट की सबसे ताकतवर टीम. वनडे में विश्व चैंपियन और T20I World Cup 2021 की प्रबल दावेदार. ऑयन मॉर्गन इंग्लैंड की अगुवाई कर रहे हैं. और टीम की निगाहें खिताब पर है. इंग्लैंड पिछले T20 विश्वकप की रनरअप है. फाइनल में इंग्लैंड को वेस्टइंडीज ने हराया था. और इस बार ऑयन मॉर्गन चूकना नहीं चाहते हैं. इंग्लिश टीम में एक से एक धुरंधर बल्लेबाज हैं. जो किसी भी गेंदबाजी अटैक की धज्जियां उड़ाने का माद्दा रखते हैं.

गेंदबाजी अटैक के साथ ऑयन मॉर्गन के रूप में टीम के पास बेहतरीन कप्तान भी हैं. हालांकि इस बार इंग्लैंड को जोफ्रा आर्चर और बेन स्टोक्स की कमी खलने वाली है. लेकिन इंग्लैंड में ऐसे कई खिलाड़ी हैं. जो अपने आप में बड़े मैच विनर हैं. और T20 विश्वकप में इंग्लैंड के ट्रम्प कार्ड साबित हो सकते हैं. आइये एक नजर डालते हैं उन पांच खिलाड़ियों पर.

# Jos Buttler

जोस बटलर. दुनिया के बेस्ट विकेटकीपर बल्लेबाजों में से एक. T20 में जेसन रॉय के साथ ओपन करते हैं. जोस बटलर और जेसन रॉय दोनों अटैकिंग बल्लेबाज हैं. लेकिन बटलर पारी बनाना जानते हैं. उनकी बल्लेबाजी में स्थिरता और आक्रामकता दोनों है. इसी वजह से UAE की धीमी पिच पर उनका रोल सबसे ज्यादा अहम हो जाता है. इंग्लैंड के इस बल्लेबाज ने T20 में पारी की शुरुआत करते हुए 51 के ऐवरेज से 875 रन ठोके हैं. इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 148 का रहा है और साथ ही बटलर ने 10 पचासे भी जड़े हैं.

IPL 2020 का आयोजन UAE में हुआ था. और बटलर ने 13 मैचों में 144 के स्ट्राइक रेट से 328 रन बनाए थे. जबकि IPL2021 के पहले लेग में एक शतक की मदद से 254 रन कूटे. बटलर के पास अनुभव है. और ढेर सारे शॉट्स भी. लेकिन धीमी पिच पर टिके रहना उनके लिए सबसे बड़ी चुनौती होगी.

# Jonny Bairstow

वैसे तो जॉनी बेयरस्टो ओपनर बल्लेबाज हैं. लेकिन T20 में उन्हें मिडल ऑर्डर में उतारा जाता है. इंग्लैंड के इस तूफानी बल्लेबाज के पास UAE में खेलने का अनुभव है. IPL 2020 सीजन में उन्होंने 11 मुकाबलों में तीन अर्धशतक की मदद से 345 रन ठोके थे. वहीं, भारत में खेले गए IPL 2021 के पहले लेग में बेयरस्टो ने सात मैचों में 142 के स्ट्राइक रेट से 248 रन बनाए.

हालांकि, इंग्लैंड मैनेजमेंट के पास बेयरस्टो की बैटिंग पोजीशन को लेकर भी माथापच्ची है. आमतौर पर वह नंबर चार या पांच पर खेलते हैं. लेकिन आंकड़े देखें तो बेयरस्टो ने नंबर तीन पर बल्लेबाजी करते हुए सात पारियों में 160 के स्ट्राइक रेट से 242 रन ठोके हैं. जबकि नंबर चार पर बेयरस्टो का स्ट्राइक रेट गिरकर 125 का हो जाता है. और नंबर पांच पर 112 का. और इंग्लैंड के लिए आजकल नंबर तीन पर दाविद मलान खेलते हैं, ऐसे में देखने वाली बात होगी कि इंग्लैंड मैनेजमेंट बेयरस्टो को लेकर क्या प्लान बनाता है.

# Adil Rashid

UAE में स्पिनर्स का रोल सबसे ज्यादा अहम होने वाला है. और इंग्लैंड यहीं पर कमजोर पड़ती दिख रही है. आदिल रशीद वर्ल्ड क्लास लेग स्पिनर हैं. लेकिन समस्या ये है कि वह अकेले हैं. दूसरे एंड से सपोर्ट के नाम पर उनके पास सिर्फ मोईन अली हैं. और अली मुख्यतः एक ऑलराउंडर हैं. IPL2021 में उन्हें ज्यादा बोलिंग के मौके नहीं मिले.

बात आदिल की करें तो इंग्लैंड के लिए खेलते हुए उन्होंने T20 65 विकेट अपने नाम किये हैं. यह विकेट 24 के ऐवरेज और सात के इकॉनमी रेट से आए हैं. इस साल 10 T20 मुकाबलों में राशिद ने 19 के ऐवरेज से 14 विकेट निकाले हैं. फॉर्म में हैं. लेकिन UAE में राशिद का प्रदर्शन बहुत उत्साहजनक नहीं है.

IPL2021 के दूसरे लेग में आदिल रशीद को पंजाब किंग्स ने चुना था. यहां उन्होंने एक मैच खेला और तीन ओवर की गेंदबाजी में 35 रन लुटा डाले. जमकर कुटाई हुई थी. और फिर पंजाब ने उन्हें दोबारा गेंद नहीं सौंपी. हालांकि इसके बाद भी वह UAE में बने रहे और टीम को निश्चित तौर पर उनके इस अनुभव का फायदा मिलेगा.

# Mark Wood

जोफ्रा आर्चर की गैरमौजूदगी में मार्क वुड का रोल बढ़ जाता है. मार्क वुड फॉर्म में हैं. उनके पास गति है. 150 KMPH प्लस फेंकते हैं. मार्क वुड के तरकश में सटीक बाउंसर भी है. इस साल उन्होंने भारत दौरे पर कमाल की गेंदबाजी की थी. T20 सीरीज में भारतीय टॉप ऑर्डर को खूब परेशान किया था. लेकिन ध्यान देने वाली बात ये है कि T20 विश्व कप भारत में नहीं हो रहा है.

मार्क वुड ने UAE में एक भी मैच नहीं खेला है. हालांकि अगर वह आर्चर की कमी नहीं खलने देते, तो इंग्लैंड को फिर ज्यादा सोचने की जरूरत नहीं होगी. वुड का साथ देने के लिए टायमल मिल्स और क्रिस वोक्स भी होंगे.

# Eoin Morgan

ऑयन मॉर्गन इंग्लैंड के कप्तान हैं. और इसलिए उनकी भूमिका सबसे ज्यादा अहम है. IPL 2021 के दूसरे लेग में मॉर्गन ने कमाल की कप्तानी की. KKR को फाइनल तक पहुंचाया. UAE में खेले गए 10 मुकाबलों में KKR को सात में जीत मिली. मॉर्गन की कप्तानी पर कोई संदेह नहीं है. लेकिन इस दौरान मॉर्गन का बल्ला खामोश रहा है.

IPL 2021 में उन्होंने 17 मैच खेले और 11 के ऐवरेज से 133 रन ही बना सके. ऑयन मॉर्गन इंग्लैंड के मिडल ऑर्डर की जान हैं. और फिनिशर की भूमिका निभाते रहे हैं. मॉर्गन 107 T20 पारियों में 138 के स्ट्राइक रेट से 2360 रन ठोक चुके हैं. जिसमें 14 अर्धशतक भी शामिल हैं.

ऐसे में टीम को उनसे काफी उम्मीदें होंगी. बता दें कि मॉर्गन की फॉर्म 2021 में ही खराब हुई है. 2020 की 10 T20 पारियों में मॉर्गन ने तीन फिफ्टी की मदद से 276 रन कूटे थे. मॉर्गन ने यह रन 168 की स्ट्राइक रेट से बनाए थे. और इससे पहले साल 2019 की नौ T20 पारियों में उन्होंने 173 के स्ट्राइक रेट 268 रन बनाए थे. आंकड़ों से साफ़ पता चलता है कि मॉर्गन कितने खतरनाक बल्लेबाज हैं. और अगर वह अपनी फॉर्म वापस हासिल कर लेते हैं, तो फिर विपक्षी टीम को डरने की जरूरत होगी.

IPL 2021 के वो पांच खिलाड़ी जिन्हें लेकर उम्मीद न के बराबर थीं

Read more!

Recommended