Submit your post

Follow Us

भय्यूजी महाराज: वो गृहस्थ संत जिनकी चलाई महंगी कारें भक्त दोगुनी कीमत पर खरीद लेते थे

भय्यूजी महाराज ने 12 जून 2018 को गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी.

मध्यप्रदेश के इंदौर में सिल्वर स्प्रिंग नाम की कॉलोनी में एक आलीशान बंगले में रहने वाला एक समाजसेवी, जिसे लोगों ने गृहस्थ संत कहा. नाम भय्यूजी महाराज. जवानी में मॉडलिंग में हाथ आजमाया मगर जब वहां बात नहीं बनी तो महाराष्ट्र चले गए. वहां अपने गुरु अन्ना महाराज (अन्ना हज़ारे नहीं) के सोशल वर्क से जुड़ गए. भय्यूजी मूलत: मध्यप्रदेश के शाजापुर के थे मगर मराठी संत समाज के प्रभाव में काम करने लगे थे. उनकी छवि महिलाओं, बच्चों और अनाथ लोगों के लिए काम करने वाले की बनी. इसके साथ रसूख बनाते गए.

उनके ऐसे ही प्रभाव और पहुंच से जुड़ी पांच बातेंः

#1. जमींदार परिवार से ताल्लुक रखने वाले भय्यूजी ने श्री सदगुरु दत्त धार्मिक व परमार्थिक ट्रस्ट खोला जिसके इंदौर, पुणे, नासिक समेत महाराष्ट्र के कई शहरों में आश्रम हैं. इन्हीं के जरिए समाज सेवा के काम करते थे. इंदौर में भारत माता मंदिर और सूर्योदय आश्रम भी है जहां ट्रस्ट लावारिस मृतकों के अंतिम संस्कार, अनाथों की परवरिश, गरीब लड़कियों की शादियां आदि काम करता है. ट्रस्ट के मुताबिक उन्होंने अब तक 18 लाख पेड़ लगवाए हैं. आदिवासी जिलों देवास और धार में उन्होंने करीब एक हजार तालाब खुदवाए और करीब 10 हजार बच्चों को स्कॉलरशिप दी.

34089653_2039769449429923_2216888459782520832_o

#2. इंदौर में रहने वाले वरिष्ठ पत्रकार प्रकाश हिंदुस्तानी बताते हैं कि भय्यूजी ने अपने सामाजिक कार्यों के जरिए न सिर्फ लोगों में अपनी लोकप्रियता बढ़ाई, साथ ही राजनीति और रसूख वाले लोग भी इनके दरवाजे पर आने लगे. इनके ट्रस्ट मुख्यता दान से ही चलते हैं. साथ ही भय्यूजी कारों के बेहद शौकीन थे. वो जो भी कार खरीदते, कुछ समय बाद उसे उनके भक्त दोगुनी कीमत पर खरीद लेते थे. इससे भय्यूजी की अच्छी खासी कमाई होती थी. वो हवाई यात्राओं की जगह सड़क से चलना पसंद करते थे और खुद ही ड्राइव करते थे. दो बार जानलेवा एक्सीडेंट हुए. कई महीने बिस्तर पर रहे. एक वक्त था जब वो मर्सिडीज कारों के एक काफिले में चलते थे और रॉलेक्स की घड़ियां पहनते थे.

33472187_2030956443644557_4760767730590679040_o

#3. हालांकि इस बात के कोई प्रमाण नहीं हैं मगर भय्यूजी को जानने वाले ये भी कहते हैं कि वो तांत्रिक विद्या भी जानते थे जिसे लेकर जानी मानी हस्तियां इनके यहां आती थीं. कहा जाता है कि विलासराव देशमुख के मुख्यमंत्री बनने की भविष्यवाणी भय्यूजी ने पहले ही कर दी थी. इसी तरह जब प्रतिभा पाटिल राजस्थान की राज्यपाल थीं, उसी वक्त भय्यूजी ने कहा था कि वो राष्ट्रपति बनेंगी. फिर राष्ट्रपति बनने के बाद प्रतिभा इंदौर खासतौर पर उनसे मिलने गईं थी. इसी तरह लता मंगेशकर दो बार इंदौर गईं और दोनों बार भय्यूजी से मिलीं.

Bhagwat1
साल 2016 में जब घायल हुए तो शिवराज सिंह चौहान, आनंदीबेन पटेल से लेकर RSS प्रमुख मोहन भागवत तक हाल जानने इंदौर पहुंचे थे.

#4. बताया जाता है कि एक बार एक मराठी अखबार ने उन्हें सरकारी साधु बोल दिया था जिस पर भय्यूजी नाराज हुए. सरकारी साधु इसलिए क्योंकि वो सरकार की ही पॉलिसी को जमीनी स्तर पर अमली जामा पहनाते थे. अगर सरकार नारा देगी – पानी बचाओ, तो भय्यूजी कुएं खुदवाएंगे, तालाब बनवाएंगे. अगर सरकार कहेगी – बेटी बचाओ, तो वो बेटियों से जुड़े सामाजिक कार्य करने लगेंगे. हालांकि इस बात में कोई बुराई नहीं है, मगर इस बहाने उनकी नेताओं में पहुंच बढ़ी. लोग अपनी ट्रांसफर रुकवाने से लेकर कोई प्रमोशन पाने तक के लिए भय्यूजी से पैरवी लगवाते थे.

Bhaiyyu Maharaj dead

#5. पिछले दो साल से भय्यूजी निजी जीवन में परेशान चल रहे थे. वो अपने सोशल वर्क पर भी समय और ध्यान नहीं दे पा रहे थे. साथ ही शिवराज सरकार से भी नाराज चल रहे थे. दो महीने पहले शिवराज सिंह सरकार ने जब उन्हें राज्यमंत्री का दर्जा दिया तो उसे लेकर वो उत्साहित नहीं थे. ये भी खबरें थीं कि वो इस दर्जे को वापस करने की सोच रहे हैं. 2011 में अन्ना हजारे के जन लोकपाल के लिए आमरण अनशन तोड़ने के लिए भय्यूजी ने ही मध्यस्थता की थी.


विडियो- भय्यूजी महाराज कैसे बने राजनेताओं के चहेते आध्यात्मिक गुरु?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

कॉन्ट्रोवर्सियल पेंटर एमएफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

एमएफ हुसैन की पेंटिंग और विवाद के बारे में तो गूगल करके आपने खूब जान लिया. अब ज़रा यहां कलाकारी दिखाइए.

'हिटमैन' रोहित शर्मा को आप कितना जानते हैं, ये क्विज़ खेलकर बताइए

आज 33 साल के हो गए हैं रोहित शर्मा.

क्विज़: खून में दौड़ती है देशभक्ति? तो जलियांवाला बाग के 10 सवालों के जवाब दो

जलियांवाला बाग कांड के बारे में अपनी जानकारी आप भी चेक कर लीजिए.

मधुबाला को खटका लगा हुआ था इस हीरोइन को दिलीप कुमार के साथ देखकर

एक्ट्रेस निम्मी के गुज़र जाने पर उनको याद करते हुए उनकी ज़िंदगी के कुछ किस्से

90000 डॉलर का कर्ज़ा उतारकर प्राइवेट जेट खरीद लिया था इस 'गैंबलर' ने

उस अमेरिकी सिंगर की अजीब दास्तां, जो बात करने के बजाए गाने में ज़्यादा कंफर्टेबल महसूस करता था

YES Bank शुरू करने वाले राणा कपूर कौन हैं, जिन्होंने नोटबंदी को 'मास्टरस्ट्रोक' बताया था

यस बैंक डूब रहा है.

सात साल पहले केजरीवाल ने वो बात कही थी जो आज वो ख़ुद नहीं सुनना चाहते

बरसों पुरानी इस बात की वजह से सोशल मीडिया पर घेर लिए गए हैं.

क्या भारत सरकार से पूछे बिना पाकिस्तान चली गई इंडियन कबड्डी टीम?

अब ढेरों खेल-तमाशा हो रहा है.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.