Submit your post

Follow Us

क्या ओवल में 50 सालों का सूखा खत्म कर पाएगी टीम इंडिया?

भारत और इंग्लैंड के बीच सीरीज़ का चौथा टेस्ट मैच केनिंगटन ओवल में खेला जाएगा. पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में इस समय दोनों टीमें 1-1 से बराबरी पर है. लॉर्ड्स में ऐतिहासिक जीत हासिल करने वाली विराट सेना को हेंडिग्ली में हार मिली. इंग्लैंड ने मेहमान टीम को पारी और 76 रनों के अंतर से हराया. अब काफ़िला ओवल पहुंचा है. जहां दोनों टीमें सीरीज में बढ़त हासिल करने के इरादे से उतरने वाली है. पिछले मैच में रूट एंड कंपनी ने एकतरफा जीत हासिल की है. लिहाजा, अंग्रेज खिलाड़ियों के हौंसले बुलंद हैं. वहीं भारत से वापसी की उम्मीद होगी. चूंकि मैच ओवल में खेला जाएगा. तो इसलिए इस मैदान पर भारत के प्रदर्शन का जिक्र करना तो बनता है.

आपको बता दें, ओवल में भारत का रिकॉर्ड डराने वाला है. ओवल में पिछले 50 सालों से टीम इंडिया नहीं जीती है. इस मैदान पर भारत और इंग्लैंड ने आपस में 13 टेस्ट मैच खेले हैं. इन 13 मैचों में टीम इंडिया को सिर्फ एक ही मैच में जीत मिली है. वहीं, 7 मैच ड्रॉ और 5 मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा है. पिछले 5 मैचों में इंग्लैंड ने इस मैदान पर भारत को तीन बार पटका है. और दो मुकाबले ड्रॉ रहे हैं. 50 साल पहले यानी कि साल 1971 में भारत ने पहली और आखिरी बार यहां टेस्ट मैच जीता था. जबकि साल 2018 में भारत को ओवल में इंग्लैंड के हाथों 118 रनों से हार मिली थी.

# ओवल में भारत का इतिहास

गौर हो, साल 1936 में पहली बार ओवल में भारत और इंग्लैंड के बीच मुकाबला खेला गया था. इंग्लैंड ने भारत को 9 विकेटों से हराया था. फिर 1946 और 1952 में टीम इंडिया ने यहां ड्रॉ खेला. जबकि 1959 में टीम इंडिया को इंग्लैंड ने पारी और 27 रनों से हराया था. उस मुकाबले में भारत की पहली पारी 140 रनों पर सिमट गयी थी. जवाब में इंग्लैंड ने 361 रन बना दिए. मेजबान टीम की तरफ से माइक स्मिथ और रमन सुब्बा रॉव ने 90 प्लस स्कोर किया था. इसके बाद जब दूसरी पारी में टीम इंडिया बैटिंग करने के लिए उतरी. तो टीम के बल्लेबाज फिर फ्लॉप रहे. 194 रन पर भारत ऑलआउट हो गया. लिहाजा, पारी और 27 रनों से टीम इंडिया को हार मिली.

#वाडेकर की कप्तानी में मिली जीत

साल 1971 में टीम इंडिया ने फिर इंग्लैंड का दौरा किया था. और ओवल में भारत को पहली और आखिरी जीत मिली. इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए स्कोरबोर्ड पर 355 रन लगा दिए थे. जवाब में टीम इंडिया की पारी 284 रनों पर सिमट गयी. इंग्लैंड को बढ़त मिली. लेकिन भारतीय गेंदबाजों ने अंग्रेजों को दूसरी पारी में 101 रनों पर ही समेट दिया. दूसरी पारी में भागवत चंद्रशेखर ने छह विकेट चटकाए थे. इसके बाद भारत ने छह विकेट गंवाकर 174 रन बना दिए. और वाडेकर की कप्तानी में टीम इंडिया ने मुकाबला जीत लिया.

#पिछले दशक में सिर्फ मिली हार

आपको बता दें, साल 1971 में मिली जीत के बाद ओवल में भारत ने अगले पांच दौरों पर इंग्लैंड के साथ ड्रॉ खेला. लेकिन पिछले दशक में टीम इंडिया को 3 बार ओवल में हार मिली. दो बार धोनी की कप्तानी में मिली. और एक बार कोहली की.

ओवल में पिछली टक्कर में क्या हुआ था?

साल 2018 में जब भारत ने आखिरी बार ओवल में मुकाबला खेला था. तो भारत की तरफ से कुछ बेहतरीन प्रदर्शन देखने को मिले थे. ऋषभ पंत ने अपने करियर का पहला टेस्ट शतक लगाया था. जबकि केएल राहुल ने दूसरी पारी में 149 रन कूटे थे. ये एलेस्टेयर कुक का आखिरी मुकाबला भी था. और अपने अंतिम मैच में उन्होंने शतक लगाया था. 464 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया 345 रन ही बना सकी थी और उसे 118 रनों से हार झेलनी पड़ी थी.

बहरहाल, ओवल में भारत का इतिहास जरूर खराब रहा है. लेकिन अब उससे आगे बढ़ने का वक्त है. इससे पहले हमने कई बार टीम इंडिया को वापसी करते हुए देखा है. इस समय सीरीज नाजुक मोड़ पर है. ऐसे में कोहली एंड कंपनी को जीत हासिल करनी है. तो फिर पिछली गलतियों से सबक लेना होगी. प्लेइंग इलेवन में बदलाव की जरूरत है. और कप्तान कोहली ने भी पिछले मैच में मिली हार के बाद बदलाव के संकेत दिए थे.

#क्या हो सकती है भारत की प्लेइंग 11?

ओपनिंग में छेड़खानी की जरूरत नहीं है. रोहित शर्मा और केएल राहुल ही पारी की शुरुआत करेंगे. चूंकि हेडिंग्ली टेस्ट की दूसरी पारी में पुजारा ने 91 रनों की पारी खेली थी. तो कोहली उन्हें बाहर नहीं करेंगे. तीसरे नंबर पर पुजारा और चौथे नंबर पर खुद कोहली आएंगे. जबकि पांचवें नंबर पर उपकप्तान अजिंक्य रहाणे. इस सीरीज में अजिंक्य का प्रदर्शन जरूर खराब रहा है. लेकिन उम्मीद कम ही है कि कोहली उन्हें बाहर करें. वैसे लॉर्ड्स में रहाणे ने दूसरी पारी में 61 रन बनाए थे. और जीत में अहम भूमिका निभाई थी.

छठे नंबर पर ऋषभ पंत. टीम इंडिया इस मुकाबले में आर अश्विन के साथ उतर सकती है. ऐसे में जडेजा और अश्विन की जोड़ी देखने को मिल सकती है. जबकि बचे तीन पेसरों में मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद सिराज का खेलना लगभग तय है. ईशांत शर्मा को आराम दिया जा सकता है. बता दें, शार्दुल ठाकुर को लेकर भी चर्चा है. और अगर ठाकुर खेलें तो जडेजा को ही बाहर होना पड़ेगा. जोकि संभव होता नहीं दिख रहा है.


विराट को क्या इंग्लैंड में कुछ समझ नहीं आ रहा? नासिर हुसैन ने बताई वजह

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

अली का रोल करने वाले इंडियन एक्टर अनुपम त्रिपाठी का सलमान-शाहरुख़ कनेक्शन क्या है?

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

पहला चुनाव हार गए थे, बीजेपी ने राज्य की जिम्मेदारी सौंपी है.

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

उनके गाए 'पल' गाने के बगैर आज भी किसी कॉलेज का फेयरवेल पूरा नहीं होता.

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

आन्हां, ऐसे नहीं कि योग बस किए, दिखाना पड़ेगा कि बुद्धिबल कित्ता बढ़ा.