Submit your post

Follow Us

IMPACT FEATURE: किताबों के हैं शौक़ीन, तो साल 2020 लाया है आपके लिए 20 नायाब तोहफे

2020 की शुरुआत हो चुकी है. और नया साल हर शख्स के लिए नयी उम्मीदें और नया जोश लाता है. कहीं न्यू ईयर रिजोल्यूशंस बनते हैं, तो कहीं गोवा ट्रिप की प्लानिंग की जाती है. नए साल की तरह ही आपके साथ नए लोग भी जुड़ते हैं और नई कहानियां भी. इसी तरह साल दर साल इंसान की ज़िन्दगी में कहानियों का इज़ाफ़ा होता चला जाता है.

अब बात हो कहानियों की, तो यह सच है कि कहानियां सुनना और सुनाना एक मज़ेदार अनुभव है. बचपन में सुनी नानी दादी की कहानियां हों या जवानी में दोस्तों के चटपटे किस्से, इनसे शायद ही किसी का मन भरता होगा. और कहानियों के शौकीनों के लिए किताबों से अच्छा दोस्त कौन होगा भला? बस पन्ने पलटने शुरू किये और किताबों की दुनिया में घंटों के लिए खो गए.

लेकिन आज दुनिया पहले से कहीं तेज़ हो चुकी है. रोज़मर्रा की भागदौड़ में किताबें पढ़ने के लिए अब वक़्त कहां  निकल पाता है? लेकिन पढ़ाकू लोगों को निराश होने की बिलकुल भी ज़रूरत नहीं है, क्यूंकि अब वह चाहे कहीं भी हों और कितने ही बिज़ी हों, किताबों का भरपूर लुत्फ़ उठा सकेंगे. अब आप पूछेंगे कैसे, तो आपको बता दें की किताबें अब सिर्फ पढ़ी ही नहीं, सुनी भी जा सकती हैं. जी हां, ऑडियोबुक्स के ज़रिये अब आप अपनी मनपसंद किताबें सुन भी सकते हैं. है ना दिलचस्प बात? तो आइये इसे और दिलचस्प बनाते हैं.

इस नए साल स्टोरीटेल लाया है किताबी कीड़ों के लिए एक लाजवाब तोहफा. स्टोरीटेल एक स्वीडिश ऑडियोबुक सब्सक्रिप्शन सर्विस है जहां हिंदी, उर्दू, अंग्रेजी, और बंगाली, मराठी, और मलयालम जैसी स्थानीय भाषाओं में 100,000 से भी ज़्यादा ऑडियोबुक्स मौजूद हैं. 2020 में इसी ज़ोरदार कलेक्शन में स्टोरीटेल जोड़ने जा रहा है 20 नए टाइटल्स. आइये ज़रा उन पर नज़र डाली जाए.

1. मृत्युंजय (हिंदी ट्रांसलेशन) – शिवाजी सावंत

ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित मशहूर उपन्यासकार शिवाजी सावंत की रचना ‘मृत्युंजय’ महारथी दानवीर कर्ण के विराट व्यक्तित्व पर आधारित है. साथ ही यह उपन्यास महाभारत के कई मुख्य पात्रों के बीच के संबंधों को बेहतरीन तरीके से पेश करता है.

Mrytunjay

2. तुग़लक़ (हिंदी ट्रांसलेशन) – गिरीश कर्नाड

जाने माने अभिनेता और नाटककार गिरीश कर्नाड द्वारा लिखा गया यह नाटक मुहम्मद-बिन-तुग़लक़ की ज़िन्दगी और उसके शासन की कहानी बताता है. कर्नाड ने अपनी इस रचना में तुग़लक़ की हर नीति को काफी सरलता से पेश किया है, फिर चाहे वो चांदी और ताम्बे के सिक्कों के मूल्य को बराबर करना हो या फिर मज़हब की दीवारों को तोड़ना.

Tughlaq

3. खामोश! अदालत जारी है (हिंदी ट्रांसलेशन) – विजय तेंदुलकर

प्रसिद्ध मराठी लेखक विजय तेंदुलकर के सबसे बेहतरीन नाटकों में से एक है ‘खामोश! अदालत जारी है’. 1967 में लिखे गए इस नाटक को दुनिया भर में 16 से भी ज़्यादा भाषाओँ में पेश किया जा चुका है.

Khamosh

4. आप खुद ही बेस्ट हैं (हिंदी ट्रांसलेशन) – अनुपम खेर

अनुपम खेर को बॉलीवुड में एक बड़ा नाम माना जाता है. 450 से अधिक फिल्मों में काम कर चुके अनुपम ने इस किताब के ज़रिये लोगों को उनके अंदर छिपी खूबियों से रूबरू कराने की ऐसी लाजवाब कोशिश की है, कि आप बोल उठेंगे “हां, मैं खुद ही बेस्ट हूं”.

Ap Best

5. मौन मुस्कान की मार – आशुतोष राणा

बॉलीवुड के जाने माने कलाकार आशुतोष राणा किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं. फिर चाहे वो अभिनय हो या भाषा की पकड़, दोनों ही चीज़ों में उनका जवाब नहीं. ‘मौन मुस्कान कि मार’ के ज़रिये उन्होंने आज कल के हालातों पर ऐसा ज़बरदस्त कटाक्ष किया है, जो आपको सोचने पर मजबूर कर देगा.

Maun Muskaan

6. पालतू बोहेमियन – प्रभात रंजन

‘पालतू बोहेमियन’ में हिंदी फ़िल्मों और डेली सोप ओपेरा के लीजेंडरी राइटर मनोहर श्याम जोशी के जीवन के कुछ ऐसे पहलुओं पर रौशनी डाली गयी है जिन्हे आज तक किसी ने नहीं देखा होगा. प्रभात रंजन की इस किताब में जोशी जी के जीवन से जुड़े कई किस्से हैं जो काफ़ी दिलचस्प हैं.

Boheimian

7. विटामिन ज़िन्दगी – ललित कुमार

महज़ 4 साल की उम्र में पोलियो ने ललित कुमार को अपनी चपेट में ले लिया, लेकिन उन्होनें कभी हार नहीं मानी. ज़िन्दगी में आई अनगिनत चुनौतिओं को कैसे उन्होंने अवसरों में बदल दिया, बस उनके इसी जज़्बे और ज़िंदादिली की कहानी है ‘विटामिन ज़िन्दगी’.

Vitamin Zindagi

8. क़िस्सा क़िस्सा लखनऊवाहिमांशु बाजपाई

लखनऊ के नवाब और उनके क़िस्से पूरी दुनिया में फेमस हैं, पर शायद ही किसी किताब में लखनऊ के आम लोगों बारे में कभी इतने विस्तार से बताया गया हो. लखनऊ में ही पले बढ़े हिमांशु बाजपाई मशहूर दास्तानगो और युवा लेखक हैं जिन्होंने इस किताब में लखनऊ की अदब और तहज़ीब वाली संस्कृति को बड़ी सरलता से पेश किया हैं.

Kissa Kissa

9. अर्थलाविवेक कुमार

विवेक कुमार वैसे तो पेशे से इंजीनियर हैं, लेकिन शब्दों से जादूगरी करना भी उन्हें बखूबी आता है. उनकी इस कहानी में कई किरदार हैं, एक जानदार प्लॉट है, और ऐसा सस्पेंस है की आप नाख़ून चबाने पर मजबूर हो जायेंगे.

Arthala

10. चाणक्य और जीने की कला (हिंदी ट्रांसलेशन) – बकुल बक्शी

चाणक्य के व्यक्तित्व और उनकी बुद्धिजीविता से कौन वाक़िफ़ नहीं है. उनकी आर्थिक नीतियों और नैतिक मूल्यों का लोहा आज तक माना जाता है. बस उसी चाणक्य के जीवन का सार है यह किताब जिसको बकुल बक्शी ने बखूबी लिखा है.

Chanakya

11. इमरजेंसी की इनसाइड स्टोरी (हिंदी ट्रांसलेशन) – कुलदीप नायर

हैरत की बात है कि आज भी कई लोग इस बात से अनजान हैं की 1975 में इमरजेंसी आखिर लगी क्यों थी. यह किताब उस काले दौर से जुड़े तमाम सवालों का जवाब देती है. वहीं कुलदीप नायर ने इमरजेंसी पे लगे कई आरोपों से भी पर्दा उठाने की सराहनीय कोशिश की है.

Emergency

12. कारगिल की अनकही कहानी (हिंदी ट्रांसलेशन) – हरिंदर बवेजा

1999 में कारगिल में पाकिस्तानी सेना द्वारा की गयी घुसपैठ का पूरा विवरण हरिंदर बवेजा ने ‘कारगिल की अनकही कहानी’ में दिया है. किताब उन पहलुओं पर रौशनी डालती है जिनकी वजह से युद्ध शुरू हुआ और साथ ही उन तमाम भारतीय शूरवीरों की कहानी बताती है जिन्होंने देश के लिए अपनी जान गंवा दी.

Kargil

13. हिम्मत है (हिंदी ट्रांसलेशन) – किरण बेदी

किरण बेदी को बेजोड़ हौंसले की जीती जागती मिसाल माना जाता है. उनकी मेहनत, बेबाकी और बेझिझक एटीट्यूड के चलते युवा लड़कियाँ आज भी उनसे प्रेरणा लेती हैं. अपने जीवन के सिद्धांतों को उन्होंने इस बेमिसाल किताब में उतार दिया है.

Himmat Hai

14. चित्तकोबरा – मृदुला गर्ग

चित्तकोबरा कहानी है मनु की, जो अपनी शादीशुदा ज़िन्दगी से खुश नहीं है और अपने अकेलेपन को दूर करने के लिए वो एक स्कॉटिश मिशनरी पादरी के साथ रिश्ता बना लेती है. मृदुला गर्ग हिंदी साहित्य की जानी मानी शख्सियत हैं और चित्तकोबरा उनका सबसे विवादास्पद उपन्यास है. इतना विवादास्पद की 1980 में इस किताब के कुछ हिस्सों की वजह से इसकी राइटर को जेल भी जाना पड़ा था.

Chotkobra

15. कश्मीर और कश्मीरी पंडित – अशोक कुमार पांडे

कश्मीर की बेमिसाल खूबसूरती के किस्से तो आपने कई सुने होंगे, लेकिन अशोक कुमार पांडे की यह किताब कश्मीर के पंडितों के 1500 साल के इतिहास को बयान करती है. साथ ही 30 साल पहले उनके ऊपर हुई ज़्यादतियों और उनके विस्थापन के हर पहलू को बड़ी ही ईमानदारी से बताती है. इससे पहले अशोक कुमार पांडे 2018 में कश्मीरनामा नाम कि एक बेस्टसेलर किताब भी लिख चुके हैं.

Kashmir Pandit

16. वैधानिक गल्प – चन्दन पाण्डेय

इस हफ्ते युवा लेखक चन्दन पाण्डेय के पहले उपन्यास ‘वैधानिक गल्प’ ने साहित्य के गलियारों में ज़ोर शोर से एंट्री मार दी है और पढ़ने वालों का कहना है कि ये किताब 2020 की बेस्ट किताबों में शामिल होने लायक है.

Vaidhanik Gulp

17. गुनाहों का देवता – धर्मवीर भारती

हिंदी साहित्य के जाने माने उपन्यासकार धर्मवीर भारती की किताब ‘गुनाहों का देवता’ पहली बार 1959 में प्रिंट हुई थी, लेकिन आपको आज भी कई लोग इस किताब की चर्चा करते मिल जाएंगे. उस वक़्त के युवाओं ने तो इस नावेल को दुनिया की सबसे दर्द भरी लव स्टोरी तक कह दिया था.

Gunaho Ka Devta

18. कोरे काग़ज़ (हिंदी ट्रांसलेशन) – अमृता प्रीतम

ज्ञानपीठ, साहित्य अकादमी जैसे कई पुरस्कारों से सम्मानित अमृता प्रीतम पंजाबी साहित्य का एक मशहूर नाम रही हैं. ‘कोरे काग़ज़’ एक युवा मन की कहानी है, एक ऐसे नौजवान की जिसे पता चलता है कि जिसे वो बचपन से अपनी माँ समझता आया है, वो उसकी सगी माँ है ही नहीं. वो नौजवान किस तरह फिर एक बार अपने वजूद को ढूढ़ता है, उसी की कहानी है ‘कोरे काग़ज़’.

Kora Kaagaz

19. मेरे सपनो का भारत (हिंदी ट्रांसलेशन) – एपीजे अब्दुल कलाम

ए पी जे अब्दुल कलाम को हमेशा पूरे देश का प्यार मिला है, चाहे वो राष्ट्रपति हों या फिर लेखक. ‘मेरे सपनों का भारत’ में कलाम ने भारत को एक विकसित देश कैसे बनाएं, इस बारे में कई बेशकीमती सुझाव दिए हैं.

Mere Sapno Ka Bharat

20. 1965 इंडो-पाक युद्ध की वीरगाथाएं (हिंदी ट्रांसलेशन) – रचना बिष्ट

भारत और पाकिस्तान के बीच हुए दुसरे युद्ध को 50 से भी ज़्यादा साल हो गए हैं. 1965 के इस युद्ध में दोनों देशों के कई सैनिकों ने अपनी जानें गंवाईं थीं. इस किताब से आप जानेंगे कि किस तरह भारत के जांबाज़ों ने अपनी जान हथेली पर रख कर ये युद्ध जिताया था.

Bharat

इन ऑडियो बुक्स का आनंद लेने के लिए सिर्फ आपको डाउनलोड करनी है स्टोरीटेल ऐप. वहां आपको 30 दिन का फ्री ट्रायल भी मिलेगा, जिसमें आप सुन सकते हैं अनलिमिटेड किताबें, और उसके बाद मात्र 299 रूपये का मंथली सब्सक्रिप्शन – आप जैसे किताबों के दीवानों को और क्या चाहिए?

Sponsored: ये पोस्ट Storytel द्वारा प्रायोजित है.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

YES Bank शुरू करने वाले राणा कपूर कौन हैं, जिन्होंने नोटबंदी को 'मास्टरस्ट्रोक' बताया था

यस बैंक डूब रहा है.

सात साल पहले केजरीवाल ने वो बात कही थी जो आज वो ख़ुद नहीं सुनना चाहते

बरसों पुरानी इस बात की वजह से सोशल मीडिया पर घेर लिए गए हैं.

क्या भारत सरकार से पूछे बिना पाकिस्तान चली गई इंडियन कबड्डी टीम?

अब ढेरों खेल-तमाशा हो रहा है.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

आज इस जादूगर की बरसी है.

चाचा शरद पवार ने ये बातें समझी होती तो शायद भतीजे अजित पवार धोखा नहीं देते

शुरुआत 2004 से हुई थी, 2019 आते-आते बात यहां तक पहुंच गई.

रिव्यू पिटीशन क्या होता है? कौन, क्यों, कब दाखिल कर सकता है?

अयोध्या पर फैसले के खिलाफ ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड रिव्यू पिटीशन दायर करने जा रहा है.