Submit your post

Follow Us

स्क्रीन पर सोनाली बेंद्रे को देख कच्ची बेर की महक भर जाती थी

5.78 K
शेयर्स

कच्ची बेर की महक भर जाती है सोनाली को देखकर

छुटपन में बेर ऐसी नाजुक होती है कि दांतों के बीच रख हल्के से दबा दो तो ‘कच्च से’ हो जाए. उस बेर के ‘कच्च से’ हो जाने का अपना स्वाद है. थोड़ा कसैला सा. बेर के हरे टुकड़ों के बीच गुठली के भी टुकड़े रह जाते हैं. सारे मुंह में बेर के दूध सा कुछ लग जाता है. ये स्वाद भी बस उनको पता होता है जो इतना भी सब्र नहीं कर पाते कि बेर को बढ़ जाने दें. पक जाने दें. याद रहने को रह जाती है कच्ची बेर की वो महक जो मुंह से नाक तक पहुंचती है.

Source- tumblr
Source- tumblr

उसकी नजर के उठने में कुछ तो था

पहले-पहल जब देखा था तब सात-आठ साल का रहा होऊंगा. इश्क करने को ये उम्र भी कम नहीं होती.  ‘ए नाजनीं सुनो न,हमें तुमपे हक तो दो न’ किसी ऊंची चट्टान पर जिसके हर तरफ समंदर उछल रहा हो,वहां सोनाली हाथ फैलाए खड़ी है. हीरो लाल जैकेट पहने उसकी ओर बढ़ता है. हाथ बढ़ाता है. मुझे फर्क नहीं पड़ता था अगर सोनाली उसका हाथ पकड़ भी ले. सोनाली उसका हाथ नहीं पकड़ती. वो खड़ी रहती है, आंखों को जरा सा झुकाकर. फिर नजरें उठाती है. उसकी नजर के उठने में कुछ तो था जो आज तक अटका है.

ये बेर के कच्चे होने की निशानी है 

काला गाउन,काली आंखें. कोई काले में इतना भी सुन्दर लग सकता है. रेसिस्ट मन नही मानता. कैमरा एंगल बदलता है. सोनाली की पीठ की ओर से आते कुणाल सिंह दिखते हैं. खुदा जन्नत बख्शे कुणाल को. कोई तीस बरस की उम्र में यूं भी जाता है क्या. पर मेरा ध्यान कुणाल पर नहीं सोनाली के ब्लैक गाउन की स्ट्रिप पर अटका था. कैसा तो लगा था. क्या लगा था? पता नहीं. ये बेर के कच्चे होने की निशानी थी. और सोनाली से पहले इश्क़ की भी.

wo0rl

जब मैं भी अफ्रीकन सफारी वाला गाइड हो जाता

उसका ऐड याद है. सौन्दर्य साबुन निरमा. दूरदर्शन पर चलता. ‘श्री कृष्णा’ के टाइम पर. आसपास सयाने होते जब ऐड आता आंखे छुपाने लगाते. स्क्रीन पर नहाती हुई लड़की देख लें ये उनसे न हो पाता, या शायद वो ऐसा दिखाते. पर मुझसे हो पाता. इंतजार रहता. कब विज्ञापन शुरू हों. कब सोनाली दिखे. वो जिराफ दौड़ते देख खुश होती. मैं भी खुश हो लेता. वो शेर के दो-दो बच्चों को गोद में उठा लेती. मैं सिहर जाता. मैं आज भी इतनी हिम्मत न कर पाऊं. अंत में वो ट्रेन से चली जाती अफ्रीकन सफारी कराने वाला गाइड दोस्त उसे टेडी बियर नहीं दे पाता. ट्रेन के बाहर से हाथ हिलाता. सोनाली ट्रेन में बैठी मुस्कुराती. मैं मायूस हो जाता. टीवी स्क्रीन के सामने बैठा. जिसपर  सिर्फ दूरदर्शन आता था. उस वक़्त मैं अफ्रीकन सफारी वाला गाइड हो जाता. एक बार फिर सोनाली से इश्क़ हो जाता.

हिवड़ा में मोर नाचता हमारी आंखों में झुमका

वही सोनाली. फिल्मों में देखो तो लगता मानो चौमासे में पानी बरस कर मौसम खुल गया है. उस खुले मौसम में जितना साफ़ आसमान दिखता. वैसी ही दिखती सोनाली. उसके हिवड़ा में मोर नाचता और हमारी आंखों के सामने उसका वो झुमका नाचता रहता जो हाथी पर बैठे उसने पहन रखा है. हमने ही तो पहनाया था. एक नहीं हजार बार. हर बार वो झुमके पहनाने के बाद पहले से ज्यादा इश्क हो जाता.

tumblr_lv8cnkqmSQ1qdvoyoo1_500
Source- tumblr

चूमकर जो गुलाब तुम पर फेंका था वो हमने फेंका था.

गाना बजता ‘सावन बरसे तरसे दिल’ सोनाली पीले वन पीस में भीगती. झूला झूलती. पैर हमारे भीग जाते. आसमान तब भी साफ़ नजर आता. ‘होशवालों को खबर क्या’ बजता सोनाली भले फ्लैशबैक में जाती. हमारी आंखो के सामने तो फ्यूचर घूम जाता. वो डीयू के नार्थ कैम्पस से गुजरती. बालों में बंधा उसका स्कार्फ जो उड़ता तो आमिर नहीं हमारे चेहरे पर आ गिरता. ‘जो हाल दिल का’ ख़त्म होता. सोनाली जामुनी-नारंगी कुर्ता पहने बढ़ी आती है. चूमकर जो गुलाब तुम पर फेंका था वो हमने फेंका था.

wo11l

और फिर वो किसी और की हो गई

सात-आठ के थे तब इश्क़ हुआ था. दस के हुए होंगे कि ब्याह कर लिया उनने. पर इश्क जो था वो कहीं न कहीं बचा रहा. अफ़सोस उम्र का था. उम्र बढ़ी और चीजें पीछे छूटतीं गईं. पर टीवी पर जब भी सोनाली दिखती. एक मुस्कान तैर जाती. फिर एक दिन वो हुआ जो हमने सोचा नही था. वो फिल्मों में लौटीं. रियलिटी शो करने लगी. सीरियल्स में दिखने लगी. किताब लिखने लगीं. वो बढीं-बदलीं,थोड़ा हम भी बदल लिए. बातें दुनियावी हैं. छुपाना सीख गए हैं बड़े होकर. आज जन्मदिन है. तो याद आ गई फिर से. फिर से क्योंकि इश्क अब भी है सोनाली से.

1_072815052415


दी लल्लनटॉप के लिए ये स्टोरी अाशीष ने लिखी थी. 


 

ये भी पढ़ें:

2017 की वो सात फ़िल्में, जो ऊंची दुकान फ़ीका पकवान साबित हुईं

‘ककककककक किरन…..’ वो हकलाता था तो उसके प्यार से ‘डर’ लगता था

बंटवारे ने छीना था हिंद का एक और ‘कोहिनूर’

वीडियो:संजय मिश्रा को इस रोल की तैयारी करते हुए डायबिटीज़ हो गई थी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

KBC क्विज़: इन 15 सवालों का जवाब देकर बना था पहला करोड़पति, तुम भी खेलकर देखो

आज से KBC ग्यारहवां सीज़न शुरू हो रहा है. अगर इन सारे सवालों के जवाब सही दिए तो खुद को करोड़पति मान सकते हो बिंदास!

क्विज: अरविंद केजरीवाल के बारे में कितना जानते हैं आप?

अरविंद केजरीवाल के बारे में जानते हो, तो ये क्विज खेलो.

क्विज: कौन था वह इकलौता पाकिस्तानी जिसे भारत रत्न मिला?

प्रणब मुखर्जी को मिला भारत रत्न, ये क्विज जीत गए तो आपके क्विज रत्न बन जाने की गारंटी है.

ये क्विज़ बताएगा कि संसद में जो भी होता है, उसके कितने जानकार हैं आप?

लोकसभा और राज्यसभा के बारे में अपनी जानकारी चेक कर लीजिए.

संजय दत्त के बारे में पता न हो, तो इस क्विज पर क्लिक न करना

बाबा के न सही मुन्ना भाई के तो फैन जरूर होगे. क्विज खेलो और स्कोर करो.

बजट के ऊपर ज्ञान बघारने का इससे चौंचक मौका और कहीं न मिलेगा!

Quiz खेलो, यहां बजट की स्पेलिंग में 'J' आता है या 'Z' जैसे सवाल नहीं हैं.

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

आन्हां, ऐसे नहीं कि योग बस किए, दिखाना पड़ेगा कि बुद्धिबल कित्ता बढ़ा.

रोहित शेट्टी के ऊपर ऐसी कड़क Quiz और कहां पाओगे?

14 मार्च को बड्डे होता है. ये तो सब जानते हैं, और क्या जानते हो आके बताओ. अरे आओ तो.

परफेक्शनिस्ट आमिर पर क्विज़ खेलो और साबित करो कितने जाबड़ फैन हो

आज आमिर खान का हैप्पी बड्डे है. कित्ता मालूम है उनके बारे में?

चेक करो अनुपम खेर पर अपना ज्ञान और टॉलरेंस लेवल

अनुपम खेर को ट्विटर और व्हाट्सऐप वीडियो के अलावा भी ध्यान से देखा है तो ये क्विज खेलो.