Submit your post

Follow Us

प्राइवेट बैंकों से लोन लें या सरकारी से, कंफ्यूजन यहां दूर करिए

यह शिकायत बहुत पुरानी है कि बैंक, ब्याज दरें बढ़ाने में तो आगे रहते हैं, लेकिन घटाने की नौबत आए तो ‘नौ दिन चले अढ़ाई कोस’ वाला हाल हो जाता है. इस मामले में प्राइवेट बैंक तो माशा अल्लाह ! लेकिन अब सीन बदल रहा है. RBI की ओर से जारी ताजा आंकड़े बताते हैं कि पॉलिसी दरों (Repo rate) में कटौती का लाभ ग्राहकों तक पहुंचाने में बैंकों ने तेजी दिखाई है. इससे भी अच्छी बात यह कि राहत देने में प्राइवेट बैंक सरकारी बैंकों से आगे निकल गए हैं. यह संभव हुआ है ‘EBLR’ से जिसका नाम-पता बाद में समझाएंगे. अभी यह जान लीजिए कि मार्च 2020 से अक्टूबर 2021 के बीच बैंकों ने ब्याज दरों में लगभग उतनी कटौती कर डाली है, जितनी होनी चाहिए थी. ऐसा इसलिए कि RBI ने इस पीरियड में 115 बेसिस पॉइंट यानी 1.15 प्रतिशत की कटौती की थी और बैंकों ने औसतन 100 बेसिस पॉइंट यानी 1 प्रतिशत ब्याज घटाया है. आसानी से समझना हो तो मानिए कि RBI ने 1 रुपये 15 पैसे की राहत दी थी और बैंकों ने 1 रुपये की राहत ग्राहकों तक पहुंचा दी. अब आपको इसमें 15 पैसे की कोताही नजर आ रही हो तो यह जानना जरूरी है कि मार्च 2020 से पहले करीब दो साल के भीतर RBI ने 1 रुपये 35 पैसे की कटौती की थी, लेकिन बैंकों ने आप तक सिर्फ 15 पैसे की राहत पहुंचाई थी.

प्राइवेट बैंकों ने ज्यादा दी राहत ?

RBI के आंकड़े बताते हैं कि मार्च 2020 से अब तक पॉलिसी रेट में जो 1.15 प्रतिशत की कटौती हुई उसे कस्टमर्स तक पहुंचाने के मामले में प्राइवेट बैंक सरकारी बैंकों से आगे निकल गए हैं. 115 बेसिस पॉइंट के मुकाबले प्राइवेट बैंको ने 109 अंकों की कटौती की है, जबकि सरकारी बैंकों ने सिर्फ 85 अंक यानी 0.85 पर्सेंट ब्याज घटाया है.

किस बैंक का लोन है सस्ता?

हालिया कटौती का असर यह है कि आज आप होम या ऑटो लोन लेने जाएं तो एक बार सोचने लगेंगे कि प्राइवेट बैंक से लें या सरकारी बैंक से. हालांकि पर्सनल लोन पर ब्याज के मामले में सरकारी बैंकों ने किफायत का अंतर कायम रखा है.

फिलहाल ज्यादातर बैंकों के होमलोन और पर्सनल लोन के इंटरेस्ट रेट फेस्टिव सीजन ऑफर के लेवल पर बने हुए हैं. 75 लाख रुपये तक के लोन पर HDFC 6.7 से 7.50 प्रतिशत ब्याज ऑफर कर रहा है. ICICI Bank और कोटक महिंद्रा बैंक के होमलोन रेट भी 6.7 से ही शुरू हो रहे हैं. सरकारी बैंकों के रेट पर नजर डालें तो SBI, BOB, PNB के होमलोन रेट भी 6.7 से ही शुरू हो रहे हैं. हालांकि सरकारी बैंक प्रोसेसिंग फीस में छूट दे रहे हैं और रकम की कोई सीमा नहीं रखी है.

दूसरी ओर पर्सनल लोन के मामले में SBI, CBI, UBI, PNB जैसे सरकारी बैंक 5 साल के लिए 5 लाख रुपये के लोन पर 8.90 से 9.15 प्रतिशत तक ब्याज ऑफर कर रहे हैं. वहीं, सभी प्राइवेट बैंकों के पर्सनल लोन का ब्याज 10 प्रतिशत से ज्यादा है. हालांकि इस मायने में यह कम है कि हाल तक ये रेट 14-16 प्रतिशत तक हुआ करते थे. यहां दिए गए सभी रेट 2 नवंबर तक के बदलावों पर आधारित हैं और आपको लोन लेने से पहले संबंधित बैंक से रेट कन्फर्म कर लेना चाहिए.

जादू की छड़ी भी जान लें

जिस EBLR के चलते बैंकों के रेट तेजी से घटने लगे हैं, उसका पूरा नाम है – External Benchmark Lending Rate. इसे इस तरह समझिए कि पहले हर बैंक का अपना एक बेंचमार्क रेट हुआ करता था, जिसके आधार पर वह ऑटो, होम, पर्सनल लोन के रेट तय करता था. मसलन, बैंक का बेंचमार्क रेट अगर 6 प्रतिशत था तो उससे 8 प्रतिशत ऊपर पर्सनल लोन देता था, जो  14 प्रतिशत हो जाता था. इसलिए इसे इंटरनल बेंचमार्क कहते थे.

अक्टूबर 2019 में RBI ने बैंकों के रेट को बहुत हद तक REPO रेट से जोड़ दिया और एक तरह से बैंकों को विवश किया कि इसमें जितनी कटौती होगी, लोन पर रेट भी उतना ही घटाना होगा. लगे हाथ REPO को भी समझते चलिए. जैसे आप बैंक से लोन लेते हैं और वह एक तय रेट से ब्याज वसूलता है, ठीक वैसे ही ये बैंक रोजमर्रा की जरूरतों के लिए RBI से लोन लेते हैं और ब्याज चुकाते हैं. जिस रेट पर वे ब्याज चुकाते हैं, उसी को REPO रेट कहते हैं. ऐसे में आम आदमी के लिए भी यह जानना आसान हो गया कि कब-कब ब्याज दरें घटी हैं और उसके बैंक ने कितनी राहत दी है.


विडियो-बैंकों के प्राइवेटाइजेशन का कर्मचारियों पर क्या असर होगा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

पहले स्पाइडरमैन टोबी मैग्वायर की कहानी, जिनका सबसे हिट रोल उनके लिए शाप बन गया

पहले स्पाइडरमैन टोबी मैग्वायर की कहानी, जिनका सबसे हिट रोल उनके लिए शाप बन गया

शुद्ध और असली स्पाइडरमैन टोबी मैग्वायर करियर ग्राफ़ बाद में गिरता ही चला गया.

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

जगह थी मुंबई एयरपोर्ट. अब दस साल बाद फिर से दोनों का नाम एक साथ सुर्ख़ियों में है.

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

अली का रोल करने वाले इंडियन एक्टर अनुपम त्रिपाठी का सलमान-शाहरुख़ कनेक्शन क्या है?

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

पहला चुनाव हार गए थे, बीजेपी ने राज्य की जिम्मेदारी सौंपी है.