Thelallantop

जब अनुष्का के चक्कर में कोहली के पीछे पड़ी BCCI की एंटी करप्शन यूनिट!

Virat Kohli और Gautam Gambhir Fight ने खूब सुर्खियां बटोरी थी (ट्विटर, गेटी फाइल)

कैप्टन कोहली. अब IPL में यह सुनने को शायद ही मिले. RCB की कप्तानी से हटने का फैसला कर चुके कोहली ने साफ कर दिया है कि वह अपने करियर के अंत तक इसी फ्रेंचाइजी के साथ खेलेंगे. और अगर ऐसा हुआ तो उन्हें शायद ही हम दोबारा कप्तान के रूप में देख पाएंगे. कोहली लंबे वक्त तक RCB के कप्तान रहे हैं.

साल 2013 से लेकर 2021 तक RCB की कप्तानी करते हुए कोहली ने टीम को कई मैच जिताए. उनके अंडर RCB कई मैच हारी भी. और टीम अभी तक एक बार भी IPL नहीं जीत पाई है. हार-जीत के अलावा कोहली की कप्तानी में कई विवाद भी हुए. आज बात ऐसे ही पांच विवादों की.

# Kohli vs Gambhir

साल 2013. कोहली पहली बार RCB के फुलटाइम कप्तान बने थे. और उनकी कप्तानी में टीम कोलकाता नाइट राइडर्स से भिड़ रही थी. KKR की कमान उस वक्त कोहली के सीनियर गौतम गंभीर के हाथों में थी. RCB की बैटिंग का 10वां ओवर. लक्ष्मीपति बालाजी द्वारा फेंकी गई ऑफ स्टंप के बाहर की गेंद पर कोहली ने शॉट खेला.

गेंद सीझे गई डीप कवर में खड़े ऑयन मॉर्गन के हाथों में. और कोहली 35 के निजी स्कोर पर आउट हो गए. और फिर गंभीर ने आउट होकर जाते कोहली से कुछ कहा. और इतना होने की देर थी, दोनों प्लेयर्स भिड़ गए. लगा कि कहीं मारपीट ही ना हो जाए. लेकिन प्लेयर्स और अंपायर्स ने बीच-बचाव कर दोनों को रोका. बीचबचाव करने में सबसे आगे रहे दिल्ली के वेटरन क्रिकेटर रजत भाटिया.

# Kohli vs Wankhede Crowd

कोहली की कप्तानी का पहला साल काफी इवेंटफुल रहा. और इन्हीं मे से एक इवेंट घटा मुंबई के वानखेडे स्टेडियम में. जहां मुंबई इंडियंस ने कोहली की RCB को 58 रन से पीटा. और इस पिटाई के दौरान फ़ैन्स ने कोहली के साथ जो किया, उसने कैप्टन कोहली को गुस्सा दिला दिया.

इस मैच के दौरान कोहली ने डायरेक्ट हिट के जरिए दो MI प्लेयर्स को रनआउट किया था. और इसमें दूसरे थे अंबाती रायुडु. बात मुंबई की पारी के 18वें ओवर की है. कायरन पोलार्ड ने विनय कुमार की गेंद को एक्स्ट्रा कवर की ओर पंच किया और अभी-अभी क्रीज पर आए रायुडु नॉन-स्ट्राइकर एंड से दौड़ पड़े. इधर कोहली ने गेंद कलेक्ट की और उधर राडुयु वापस अपनी क्रीज की ओर भागे.

लेकिन वह वापस नहीं पहुंच पाए. बोलर विनय कुमार गेंद कलेक्ट करने के लिए वापस स्टंप की ओर भाग रहे थे. और रायुडु का बल्ला भागते विनय के पैर से लगा और जमीन से उठ गया. वह क्रीज में नहीं पहुंच पाए. और अंपायर ने उन्हें आउट दे दिया. रायुडु बिना कोई गेंद खेले, शून्य के निजी स्कोर पर आउट हो गए.

और वानखेडे में बैठे MI फ़ैन्स ने इसे खेल भावना के खिलाफ माना. वह कोहली द्वारा अपनी अपील वापस ना लेने से खफ़ा थे. और इसी गुस्से में फ़ैन्स ने कोहली के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. और इससे गुस्साए कोहली ने मैच के बाद कहा,

‘मुझे नहीं पता कि इस जगह पर लोगों के साथ क्या गलत है. यह थोड़ा अजीब लगता है क्योंकि अंततः आप भारत के लिए खेलते हैं और यहां इसलिए नहीं आते कि लोग आपसे नफरत करें. यह पहले भी कई प्लेयर्स के साथ हो चुका है. मुझे नहीं पता कि IPL के दौरान वे इतने उत्तेजित क्यों हो जाते हैं. IPL दुनिया का अंत नहीं है. वे भूल जाते हैं कि वो लोग जिन प्लेय्रस का मजाक बना रहे वो उनके देश के लिए भी खेलते हैं.’

# Kohli vs BCCI Anti Corruption Unit

बात तबकी है जब आज की दिल्ली कैपिटल्स को लोग दिल्ली डेयरडेविल्स के नाम से जानते थे. IPL2015 के एक मैच में बैंगलोर ने अपने घरेलू स्टेडियम, एम चिन्नास्वामी में दिल्ली को होस्ट किया. दिल्ली ने पहले बैटिंग करते हुए 20 ओवर्स में 187 रन बनाए. क्विंटन डि कॉक ने 69 और जेपी डुमिनी ने 67 रन की पारी खेली.

और दिल्ली की पारी खत्म होते ही मैदान में बारिश आ गई. फिर थोड़ी देर बाद खेल दोबारा शुरू हुआ. लेकिन जयंत यादव का ओवर खत्म होने के बाद ज़हीर खान की दो गेंदें फेंके जाते ही बारिश लौट आई. और इस बार आई तो लौटी ही नहीं. मैच रद्द हो गया. दोनों टीमों को एक-एक पॉइंट मिला. हालांकि मैच रद्द होने से पहले जब कोहली अपने पार्टनर क्रिस गेल के साथ वापस लौटे.

तो उन्होंने अपनी उस वक्त की गर्लफ्रेंड रही अनुष्का शर्मा को VIP बॉक्स के कॉरिडोर में बुलाकर उनसे बात की. उस वक्त तक मैच रद्द घोषित नहीं हुआ था. और इसका सीधा अर्थ हुआ कि कोहली मैच के दौरान ही किसी ऐसे व्यक्ति के साथ थे जो मैच का हिस्सा नहीं था. यह सीधे तौर पर एंटी-करप्शन और सिक्यॉरिटी यूनिट (ACSU) के नियमों का उल्लंघन था.

ACSU के एक अधिकारी ने इससे नाराज़गी जताते हुए हिंदुस्तान टाइम्स से कहा था,

‘वह टीम का कप्तान है, इसलिए उसे अच्छे से पता है कि यह नियम प्लेयर्स से ज्यादा कप्तान पर लागू होते हैं. मैच के दौरान किसी को भी प्लेयर्स से मिलने की अनुमति नहीं है. और प्लेयर्स भी किसी से मिलने के लिए अपने निर्धारित एरिया से बाहर नहीं जा सकते. प्लेयर्स की पत्नियां और गर्लफ्रेंड्स मैच देखने जरूर आते हैं लेकिन वो अलग जगह बैठते हैं. मैंने कभी भी किसी को मैच के दौरान प्लेयर्स से मिलते नहीं देखा.’

हालांकि इस मसले में कोहली पर कोई एक्शन नहीं लिया गया. BCCI ने इसे छोटा मामला बताते हुए कोहली को बरी कर दिया.

# Kohli vs Match Referee

बात IPL 2019 की है. विराट कोहली की टीम को अपने घर, चिन्नास्वामी स्टेडियम में मुंबई इंडियंस के हाथों हार का सामना करना पड़ा. और इस हार में अंपायर के एक ब्लंडर का बड़ा रोल था. इस मैच के आखिरी चार ओवर्स में जीत के लिए RCB को 41 रन बनाने थे. लेकिन जसप्रीत बुमराह और लसिथ मलिंगा के दम पर मुंबई ने मैच को छह रन से जीत लिया.

हालांकि जल्दी ही मुंबई की जीत से ज्यादा चर्चा अंपायर एस रवि की होने लगी. दरअसल मलिंगा द्वारा फेंकी गई मैच की आखिरी गेंद नो-बॉल थी और रवि इसे नहीं देख पाए. RCB को जीत के लिए आखिरी गेंद पर सात रन चाहिए थे. और मलिंगा की ये गेंद डॉट गई. कोहली को इस बात पर बहुत गुस्सा आया कि रवि ने इतना बड़ा ब्लंडर कर दिया.

मैच के बाद कोहली ने कहा था,

‘हम IPL खेल रहे हैं, ना कि क्लब क्रिकेट. अंपायर्स को अपनी आंख खोलकर रखनी चाहिए.’

टाइम्स नाउ के मुताबिक प्रजेंटेशन सेरेमनी के तुरंत बाद कोहली भागते हुए मैच रेफरी मनु नैय्यर के कमरे में गए थे. और वहां गुस्सा दिखाते हुए उन्होंने कुछ अपशब्दों का भी प्रयोग किया था. रिपोर्ट के मुताबिक कोहली ने यहां तक कह दिया था कि उन्हें इस बात की परवाह नहीं है कि कोड ऑफ कंडक्ट तोड़ने के लिए उन पर एक्शन हो सकता है.

# Kohli vs Suryakumar Yadav

IPL 2020. अबू धाबी में टॉस जीतकर मुंबई इंडियंस के कप्तान कायरन पोलार्ड ने कोहली को पहले बैटिंग का न्यौता दिया. देवदत्त पडिक्कल के 74 रन की बदौलत RCB ने 20 ओवर्स में 164 रन बनाए.

जवाब में मुंबई की शुरुआत बहुत अच्छी नहीं रही. 37 के टोटल पर ही क्विंटन डि कॉक आउट हो गए. फिर आए सूर्यकुमार यादव ने क्रीज पर लंगर डाल दिया. वह एक छोर पकड़ खड़े हो गए और धीरे-धीरे पारी बिल्ड करने लगे. इस बीच ईशान किशन और सौरभ तिवारी भी आउट हो गए. लेकिन सूर्यकुमार एक ओर टिके रहे. और इस बात ने कोहली का सरदर्द बढ़ा दिया.

फिर आया इस पारी का 13वां ओवर. सूर्यकुमार ने एक गेंद को कवर्स की ओर खेला. जहां कोहली ने गेंद पकड़ी और फिर सूर्यकुमार को घूरने लगे. उनकी इस हरकत के जवाब में सूर्यकुमार ने भी पलटकर उन्हें घूरा. हालांकि इस दौरान दोनों प्लेयर्स में कहासुनी नहीं हुई. लेकिन घूरने की इस अखिल IPL प्रतियोगिता ने बता दिया की माहौल गर्म है.

और कोहली की ये हरकत लोगों को एकदम पसंद नहीं आई. ट्विटर से लेकर फेसबुक तक लोगों ने उन्हें लानतें भेजीं और अंततः सूर्यकुमार ने भी अपने बल्ले से कोहली को भरपूर जवाब दिया. सूर्यकुमार ने 79 रन की नाबाद पारी खेलते हुए मुंबई को पांच विकेट से जीत दिला दी.

IPL 2021: कप्तान के तौर पर अपने आखिरी मैच में ये क्या कर गए विराट कोहली!

Read more!

Recommended