Submit your post

Follow Us

बड़े लोग इसी काम के लिए बेदांता नाम के हस्पताल में जाते हैं

31 अगस्त, 1954 को करौली (राजस्थान) में जन्मे असद ज़ैदी को दिल्ली/एनसीआर में रहते हुए साढ़े तीन दशक से अधिक हो गया है. उनके अब तक तीन कविता संग्रह प्रकाशित हो चुके हैं, क्रमशः ‘बहनें और अन्य कविताएं’, ‘कविता का जीवन’ और ‘सामान की तलाश’.

आइये आज एक कविता रोज़ में सामाजिक सरोकारों से जुड़ी उनकी एक कविता दान-पुण्य आपको पढ़वाते हैं:


***दान-पुण्य*** 

सिर्फ एक भूला-बिसरा सरकारी ज़िला अस्पताल ही
इक्कीसवीं सदी से आपकी रक्षा कर सकता है
और एक ज्ञानी कम्पाउंडर जो हजामत के बाद
चेहरे पर फिटकरी की बट्टी रगड़ता है

मरने के लिए यह जगह बुरी नहीं है हकीम जी
कहता है वह बेड नम्बर 14 पर लेटे आदमी से
जो दरअसल घर के झगड़े-टंटे से तंग आकर अक्सर
अस्पताल में भर्ती हो जाया करता है

सुना है, बड़े लोग इसी काम के लिए
बेदांता नाम के हस्पताल में जाते हैं
और एक एक पार्टी जाते-जाते अरे इतना दान
बेदांता में कर जाती है जितने में
हम हों तो दो-दो गऊशाला चार-पांच पक्के प्याऊ बनवा दें
और एक कुआं भी खुद जाए कि
मनुष्य का कल्याण हो और पशु का
और बाक़ी रहे जगत में दानकर्ता का नाम भी

कुछ लोग कुआं खुदवाकर नामी हों
कुछ उसमें कूदकर

***


गुजरात चुनाव से जुड़ी ‘द लल्लनटॉप’ ख़बरें मिस मत कीजिए: 

शहीद की बेटी को पुलिस घसीटती रही, गुजरात के CM खड़े देखते रहे
गुजरात चुनावः उस ज़िले की कहानी जिसे अंग्रेज़ कभी नहीं जीत पाए
गुजरात का वो गांव जो सरकार की नाकामी के कारण आत्मदाह करने वाला है
सोमनाथ मंदिर: बीजेपी और कांग्रेस, दोनों को कोई ‘चुल्लू भर पानी’ दे दो
गुजरात की इस सीट पर कांग्रेस को छोटू वसावा से दोस्ती काम आ सकती है
कहानी उस जिले की, जिसने बीजेपी को राजनीति में एक नए मुकाम पर पहुंचा दिया
मोदी जी PM तो बन गए, पर PM वाला बड़प्पन कब सीखेंगे?
मितरों, राहुल गांधी के हिंदू होने का प्रमाण मिल गया है!
गुजरातः जहां आदिवासियों के इतने सुंदर घर देखकर कोई भी जल जाएगा


विडियो देखें: इस आदमी ने गुजरात के सभी मुख्यमंत्री बनते देखे:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

धान खरीद के मुद्दे पर बीजेपी की नाक में दम करने वाले KCR की कहानी

धान खरीद के मुद्दे पर बीजेपी की नाक में दम करने वाले KCR की कहानी

KCR की बीजेपी से खुन्नस की वजह क्या है?

कौन हैं सीवान के खान ब्रदर्स, जिनसे शहाबुद्दीन की पत्नी को डर लगता है?

कौन हैं सीवान के खान ब्रदर्स, जिनसे शहाबुद्दीन की पत्नी को डर लगता है?

सीवान के खान बंधुओं की कहानी, जिन्हें शहाबुद्दीन जैसा दबदबा चाहिए था.

'द्रविड़ ने बहुत नाजुक शब्दों से मुझे धराशायी कर दिया था'

'द्रविड़ ने बहुत नाजुक शब्दों से मुझे धराशायी कर दिया था'

रामचंद्र गुहा की किताब 'क्रिकेट का कॉमनवेल्थ' के कुछ अंश.

पहले स्पाइडरमैन टोबी मैग्वायर की कहानी, जिनका सबसे हिट रोल उनके लिए शाप बन गया

पहले स्पाइडरमैन टोबी मैग्वायर की कहानी, जिनका सबसे हिट रोल उनके लिए शाप बन गया

शुद्ध और असली स्पाइडरमैन टोबी मैग्वायर करियर ग्राफ़ बाद में गिरता ही चला गया.

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

जगह थी मुंबई एयरपोर्ट. अब दस साल बाद फिर से दोनों का नाम एक साथ सुर्ख़ियों में है.

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

अली का रोल करने वाले इंडियन एक्टर अनुपम त्रिपाठी का सलमान-शाहरुख़ कनेक्शन क्या है?

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.