Thelallantop

151 का स्ट्राइक रेट और 150 की स्पीड वाली गेंद बना पाएगी न्यूज़ीलैंड को वर्ल्ड चैंपियन?

Devon Conway के साथ मिलकर Jimmy Neesham और Martin Guptill T20 World Cup में कमाल कर सकते हैं (पीटीआई फोटो)

न्यूज़ीलैंड क्रिकेट टीम. मतलब क्रिकेट के अच्छे बच्चे. एक ऐसी टीम जिसकी जीत पर पूरी दुनिया खुश होती है. लेकिन ये बात और है कि इस टीम ने अभी तक एक बार भी वर्ल्ड कप नहीं जीता है. वनडे और T20 वर्ल्ड कप में कई प्रयासों के बाद भी इनकी झोली खाली ही है. साल 2019 के वनडे वर्ल्ड कप में टीम फाइनल तक पहुंची थी. लेकिन वहां उन्हें इंग्लैंड के हाथों हार का सामना करना पड़ा.

और केन विलियमसन की ये टीम T20 वर्ल्ड कप में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती. हालांकि वर्ल्ड कप में उनकी शुरुआत बहुत अच्छी नहीं हुई है. उन्हें अपने दोनों वॉर्म-अप मैचों में हार का सामना करना पड़ा है. लेकिन हमारा मानना है कि इससे कुछ ज्यादा फ़र्क नहीं पड़ता. टीम के पास T20 वर्ल्ड कप में आगे जाने के लिए पांच मैच हैं.

और इन मैचों में अच्छा कर वे निश्चित तौर पर दूसरी टीमों के लिए खतरा बन सकते हैं. लेकिन ऐसा करने में उन्हें कम से कम पांच प्लेयर्स का सहयोग चाहिए होगा. ऐसे पांच प्लेयर्स जो अकेले दम पर मैच पलट सकते हैं. कौन हैं ये प्लेयर? चलिए देख लेते हैं.

# Martin Guptill

मार्टिन गप्टिल लिमिटेड ओवर्स के सबसे खतरनाक ओपनर्स में से एक हैं. दुनियाभर की T20 लीग्स में अपना जलवा बिखेर चुके हैं. सीधे बल्ले से खेलने के लिए मशहूर गप्टिल सालों से न्यूज़ीलैंड क्रिकेट टीम का अहम अंग हैं. 277 T20 मैचों में गप्टिल के नाम लगभग 32 के ऐवरेज और 131 के स्ट्राइक रेट से 7826 रन हैं. वह 100 से ज्यादा T20 इंटरनेशनल मैच खेलने वाले चुनिंदा प्लेयर्स में से भी एक हैं.

T20 इंटरनेशनल में गप्टिल के नाम 102 मैचों में 2939 रन हैं. यह रन 32 के ऐवरेज और लगभग 137 के स्ट्राइक रेट से आए हैं.

# Devon Conway

डेवॉन कॉन्वे. क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में 55 से ऊपर का ऐवरेज रखने वाले चंद क्रिकेटर्स में से एक. जाहिर है कि उनका करियर अभी बहुत लंबा नहीं है. कॉन्वे ने तीन टेस्ट, तीन वनडे और 14 T20 इंटरनेशनल ही खेले हैं. लेकिन इन मैचों में उन्होंने बेहद कमाल का प्रदर्शन किया है. T20 इंटरनेशनल की बात करें तो कॉन्वे के नाम 11 पारियों में 59 के ऐवरेज और 151 के स्ट्राइक रेट से 473 रन हैं.

सिर्फ 11 T20 इंटरनेशनल पारियों में वह चार हाफ सेंचुरी लगा चुके हैं. और इन चार पारियों में एक 92 और एक 99 रन की नॉटआउट पारी भी शामिल है. ओवरऑल T20 मैचों की बात करें तो कॉन्वे के नाम 101 पारियों में 3555 रन हैं. यह रन 44.43 के ऐवरेज और लगभग 129 के स्ट्राइक रेट से आए हैं.

# Jimmy Neesham

जिमी नीशम. ट्विटर पर सबसे मजेदार क्रिकेटर्स में से एक हैं. अपनी मौज लेने वाले ट्वीट्स से अक्सर सुर्खियां बटोरते हैं. साल 2019 के वनडे वर्ल्ड कप के फाइनल में वह अपनी टीम के स्टार रहे थे. तीन विकेट निकालने के साथ उन्होंने बल्ले से भी हाथ दिखाए. नीशम ने सुपर ओवर की पांच गेंदों पर 13 रन कूटे थे. हालांकि उनका यह प्रयास भी न्यूज़ीलैंड को वर्ल्ड कप नहीं दिला पाया.

दुनियाभर में घूमकर 166 T20 मैच खेल चुके नीशम के नाम इस फॉर्मेट में 138 के स्ट्राइक रेट से 2237 रन हैं. साथ ही उन्होंने 149 विकेट भी अपने नाम किए हैं. नीशम हार्ड हिटिंग के साथ जरूरत पड़ने पर विकेट निकालने के लिए भी जाने जाते हैं.

# Lockie Ferguson

कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए खेलने वाले तेज गेंदबाज. लॉकी को UAE में खेलने का अच्छा अनुभव है. उन्होंने यहां KKR के लिए बेहतरीन बोलिंग की है. अपनी स्पीड और सटीक बाउंसर्स के लिए फेमस हैं. लगातार 150KMPH फेंकने वाले चुनिंदा बोलर्स में से एक लॉकी न्यूज़ीलैंड के सबसे बड़े मैचविनर्स में से एक माने जाते हैं.

लिमिटेड ओवर्स में कीवी अटैक का अहम हिस्सा लॉकी के नाम 13 T20 इंटरनेशनल मैचों में 24 विकेट हैं. उन्होंने यह विकेट 6.86 की इकॉनमी से निकाले हैं. ओवरऑल लॉकी के नाम 84 T20 मैचों में 94 विकेट हैं.

# Ish Sodhi

लुधियाना में पैदा हुए ईश सोढ़ी कीवी स्पिन अटैक का अहम हिस्सा हैं. ईश कैरेबियन प्रीमियर लीग, बिग बैश लीग और इंडियन प्रीमियर लीग जैसे बड़े T20 टूर्नामेंट्स में खेल चुके हैं. अपनी अटैकिंग बोलिंग के चलते कीवी सेलेक्टर्स की पसंद बने ईश क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में अच्छा करते आए हैं. UAE की स्लो पिचों पर वह न्यूज़ीलैंड के लिए बेहतरीन काम कर सकते हैं.

ईश के नाम 57 T20 इंटरनेशनल मैचों में 73 विकेट हैं. ओवरऑल देखें तो उन्होंने 184 T20 मैचों में 203 विकेट लिए हैं. और यह विकेट 7.85 की इकॉनमी से आए हैं.

2007 में टी-20 वर्ल्ड कप जिताने वाले खिलाड़ी आजकल क्या कर रहे हैं?

Read more!

Recommended