Submit your post

Follow Us

सागर धनकड़ हत्याकांड में पुलिस की चार्जशीट सुशील कुमार के किरदार के बारे में क्या कहती है?

टोक्यो में ओलंपिक चल रहा है और रोज़ ही खबरों में ओलिंपियन बने रहते हैं. लेकिन एक ओलिंपियन है जो पिछले कुछ महीनों से अपने खेल की वजह से नहीं, बल्कि अपराध की वजह से चर्चा में है. पहलवान सुशील कुमार (Sushil Kumar). जिन्होंने दो ओलिंपिक में पदक जीते. पहली बार 2008 में बीजिंग में और दूसरी बार 2012 में लंदन में. फिलहाल सुशील कुमार जेल में हैं. उन पर आरोप है कि वो एक जूनियर पहलवान सागर धनकड़ की हत्या में शामिल हैं. 2 अगस्त को दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने इस मामले में सुशील कुमार और अन्य आरोपियों के खिलाफ दिल्ली की रोहिणी कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर दी. ये चार्जशीट 1100 पन्ने की है. आइए जानते हैं कि पुलिस ने अपनी चार्जशीट में पहलवान सुशील कुमार पर क्या आरोप लगाए हैं और क्या ब्यौरा दिया है.

सबसे पहले सागर धनकड़ हत्याकांड के बारे में जान लीजिए

4 मई 2021 की तारीख़. रात के करीब 11 बजे थे. दिल्ली के मॉडल टाउन के एम ब्लॉक इलाके में कुछ लोग एक फ्लैट पर पहुंचे. इन लोगों के हाथ में हॉकी स्टिक और डंडे थे. आजतक की रिपोर्ट के मुताबिक, आरोप है कि इन लोगों ने यहां रहने वाले 27 साल के युवा रेसलर सागर धनखड़ और उसके साथियों को विवाद के चलते अगवा कर लिया. पीड़ितों ने पुलिस को जो बयान दिया है, उसके मुताबिक सुशील कुमार नीचे कार में बैठे थे हाथ में पिस्टल लिए. गन पॉइंट पर होंडा सिटी कार में सागर और उसके साथियों को छत्रसाल स्टेडियम ले जाया गया. वही छत्रसाल स्टेडियम, जिसे देश में कुश्ती के सबसे बड़े केंद्र के रूप में जाना जाता है. यहां से योगेश्वर दत्त और रवि दहिया जैसे पहलवान निकले हैं. वही छत्रसाल स्टेडियम जहां सुशील कुमार और उनके ससुर सतपाल की तूती बोलती है. आरोप लगा कि यहां सागर धनकड़ और उसके साथियों को जमकर पीटा गया. वे सभी बुरी तरह घायल हुए. बाद में उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां सागर ने दम तोड़ दिया. इस वारदात में सागर और उसके साथियों को पीटने वालों में नाम आया ओलंपियन सुशील कुमार का.

सुशील कुमार ने शुरुआत में ही इन आरोपों से इंकार कर दिया. हालांकि उसके बाद वो फरार हो गए. कुछ दिनों बाद ही एक वीडियो सामने आया जिसमें कथित तौर पर सुशील कुमार पीड़ित को पीटते हुए दिख रहे हैं. इसके बाद पुलिस ने सुशील कुमार की तलाश तेज कर दी. 23 मई 2021 को दिल्ली के मुंडका इलाके से सुशील कुमार और उनके साथी अजय को गिरफ्तार किया गया. दोनों कार छोड़ स्कूटी पर सवार होकर किसी से मिलने जा रहे थे. आरोपी पहलवान सुशील कुमार को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस ने पंजाब के भटिंडा, मोहाली समेत कई राज्यों में ताबड़तोड़ छापेमारी की थी. गिरफ्तारी के बाद पहले उन्हें दिल्ली की मंडोली जेल रखा गया. फिर 25 जून को तिहाड़ में शिफ्ट कर दिया गया. तब से सुशील कुमार वहीं बंद हैं.

Sushil
पुलिस की गिरफ्त में सुशील पहलवान. फोटो- PTI

पुलिस ने अपनी चार्जशीट में क्या कहानी बताई?

पुलिस ने अपनी चार्जशीट में सुशील कुमार के खिलाफ कई आरोप लगाए हैं. इसमें घटना के कारण और तथ्यों का सिलसिलेवार ब्यौरा है. चार्जशीट के मुताबिक,

“10 दिसंबर 2019. सुशील कुमार ने अपनी पत्नी के नाम से दिल्ली के मॉडल टाउन इलाके में एक फ्लैट खरीदा. उसने ये फ्लैट सागर धनकड़ और उसके साथी भगत को 40 हजार रुपए प्रति महीने के किराये पर दे दिया. दो महीने बाद ही किराए पर रह रहे सागर और उसके साथी का पार्किंग को लेकर मुहल्ले में झगड़ा हो गया. सुशील ने किराएदारों से मकान खाली करने को कह दिया. मकान खाली कराने के लिए सुशील ने तथाकथित रूप से अजय और रघुबीर (दोनों भी इस केस में आरोपी हैं) को भेजा. जब ये दोनों लोग मकान खाली कराने के लिए पहुंचे तो पता चला कि मकान में सागर और भगत के अलावा जयभगवान उर्फ सोनू भी रह रहा है. मकान खाली कराने की बातचीत में सोनू ने अजय और रघुबीर से कहा कि अगर फ्लैट खाली कराना है तो सुशील खुद उससे बात करें. इस बात से सुशील कुमार को गुस्सा आ गया. वो एक ओलिंपियन है और उसे पूरी दुनिया जानती है. सोनू और सागर की इस हरकत ने सुशील के अहंकार को ठेस पहुंचा दी थी. उसे ये अपनी बेज्जती महसूस होने लगी.”

अफवाहों ने खेल बिगाड़ दिया

पुलिस ने अपनी चार्जशीट में उन हालात का जिक्र भी किया है जिनमें सुशील ने हत्या जैसा अपराध करने का कदम उठाया. पुलिस चार्जशीट में लिखा है,

“मार्च-अप्रैल 2021 तक आते-आते मामले में समझौता हो गया था. हालांकि इससे सुशील, सागर और सोनू के बीच रिश्ते कड़वे हो गए. तनाव बढ़ाने में एक अफवाह ने काफी योगदान दिया. छत्रसाल स्टेडियम में ऐसी अफवाहें चलने लगीं कि सुशील कुमार जैसा बड़ा पहलवान भी सागर और जयभगवान से डर गया था. आरोपी सुशील कुमार को ये शंका भी होने लगी थी कि छत्रसाल स्टेडियम में ट्रेनिंग लेने वाले कुछ पहलवान उसके हर कदम की जानकारी सागर और जयभगवान को पहुंचा रहे हैं. इस बात से सुशील के सिर पर गुस्सा सवार हो गया. सुशील ने हमले के बारे में सोचना शुरू कर दिया. उसने हमला बोलकर बदला लेने औऱ अपना प्रभुत्व फिर से स्थापित करने का फैसला लिया.”

पुलिस का आरोप है कि सुशील अपने बारे में जानकारी बाहर जाने को लेकर इतना शक करता था कि उसने तीन पहलवानों को सस्पेंड करके स्टेडियम से बाहर का रास्ता दिखा दिया. चार्जशीट में पुलिस कहती है,

“सुशील ने फैसला कर लिया था कि वो ताकत के दम पर अपने प्रभुत्व को फिर से कायम करेगा. जब उसे पता चला कि उसके कुछ करीबी लोग ही सोनू और सागर को उसके बारे में जानकारी देते हैं तो उसका गुस्सा और बढ़ गया. छत्रसाल स्टेडियम में जो भी रेसलिंग की ट्रेनिंग के लिए आता है वो सुशील कुमार को गुरु मानता है. लेकिन जबसे उसकी पत्नी के नाम पर लिए फ्लैट को लेकर बातें होनें लगीं, तब से सुशील कुमार का गुस्सा धधक रहा था.”

पुलिस ने सबूत के तौर पर तीन स्नैपशॉट भी पेश किए हैं. इसे प्रिंस नाम के एक आरोपी के फोन से रिकॉर्ड किए गए 1 मिनट के वीडियो से निकाला गया है. पुलिस का आरोप है कि इसमें पहली तस्वीर में सुशील डंडा ले जाते दिख रहे हैं. दूसरी और तीसरी तस्वीर में वो सोनू को डंडों से पीटते और भगत का हाथ पकड़े नजर आ रहे हैं. पुलिस के मुताबिक इस वीडियो की लोकेशन भी पार्किंग के पास बने बास्केटबॉल एरिया की है. चार्जशीट में सुशील कुमार को ही सागर धनकड़ हत्याकांड का साजिशकर्ता बताया गया है. आरोप है कि उसने ही अपने हथियारबंद साथियों को दिल्ली और हरियाणा से बुलाया था.

Sushil Kumar Beating Video Footage
कथित तौर पर 4-5 मई की रात को सागर की पिटाई करते सुशील कुमार. (तस्वीर: आजतक)

13 आरोपी, कई धाराएं

पुलिस की 1100 पन्नों की इस चार्जशीट में इस मामले से जुड़ी और भी अहम बाते हैं. उनमें से कुछ ये हैं.

# कोर्ट में पेश तकरीबन 1100 पेज के डॉक्युमेंट्स में से करीब 170 पेज में आरोपों का ब्योरा है और 1000 पेज एनेक्चर हैं. पुलिस ने मामले में 155 लोगों को गवाह बनाया है.

# पुलिस ने अपनी चार्जशीट में सुशील कुमार सहित 13 लोगों को आरोपी बनाया है. इस मामले में पांच आरोपी अभी भी फरार चल रहे हैं जिनमें तीन इनामी बदमाश भी शामिल हैं.

# दिल्ली पुलिस ने मॉडल टाउन पुलिस स्टेशन में FIR no 218/21 के तहत 5 मई 2021 को मामला दर्ज किया गया. पुलिस ने IPC की जिन प्रमुख धाराओं में केस दर्ज किया है उनमें शामिल हैं.

> 302 यानी हत्या
> 308 यानी जानलेवा चोट पहुंचाना
> 307 मतलब हत्या का प्रयास
> 364, 365 यानी अपहरण
> 120 (B) यानी आपराधिक साजिश
> 25/27 माने आर्म्स एक्ट

इसके अलावा पुलिस ने आईपीसी की धारा 147, 149, 269, 188, 342, 325, 452, 505 (2) 392, 394, 397 और 411 भी आरोपियों पर लगाई हैं.

चार्जशीट में पुलिस ने पहलवान सुशील कुमार के व्यवहार के बारे में भी लिखा है. पुलिस की तरफ से फॉरेंसिक असिस्टेंट ने दावा किया है, “सुशील कुमार घटना से संबंधित किसी भी जानकारी का खुलासा करने के लिए बहुत अड़ियल बने रहे”. उनमें अपराध को लेकर किसी भी तरह के पछतावे का कोई संकेत नहीं दिखा. उनका व्यवहार बेहद अहंकार और मनमानेपन से भरा था और वो खुद को कानून से ऊपर समझता दिखा.”


वीडियो – सुशील कुमार को जेल ले जा रहे दिल्ली पुलिसवालों की हरकत सुन अपना माथा पीट लेंगे

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

पहला चुनाव हार गए थे, बीजेपी ने राज्य की जिम्मेदारी सौंपी है.

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

उनके गाए 'पल' गाने के बगैर आज भी किसी कॉलेज का फेयरवेल पूरा नहीं होता.

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

आन्हां, ऐसे नहीं कि योग बस किए, दिखाना पड़ेगा कि बुद्धिबल कित्ता बढ़ा.

तमिल जनता आखिर क्यों कर रही है 'फैमिली मैन-2' का विरोध, क्या है LTTE की पूरी कहानी?

तमिल जनता आखिर क्यों कर रही है 'फैमिली मैन-2' का विरोध, क्या है LTTE की पूरी कहानी?

जब ट्रेलर आया था, तबसे लगातार विरोध जारी है.

माधुरी से डायरेक्ट बोलो 'हम आपके हैं फैन'

माधुरी से डायरेक्ट बोलो 'हम आपके हैं फैन'

आज जानते हो किसका हैप्पी बड्डे है? माधुरी दीक्षित का. अपन आपका फैन मीटर जांचेंगे. ये क्विज खेलो.

जिन मीम्स को सोशल मीडिया पर शेयर कर चौड़े होते हैं, उनका इतिहास तो जान लीजिए

जिन मीम्स को सोशल मीडिया पर शेयर कर चौड़े होते हैं, उनका इतिहास तो जान लीजिए

कौन सा था वो पहला मीम जो इत्तेफाक से दुनिया में आया?

पार्टियों को चुनाव निशान के आधार पर पहचानते हैं आप?

पार्टियों को चुनाव निशान के आधार पर पहचानते हैं आप?

चुनावी माहौल में क्विज़ खेलिए और बताइए कितना स्कोर हुआ.

लगातार दो फिफ्टी मारने वाले कोहली ने अब कहां झंडे गाड़ दिए?

लगातार दो फिफ्टी मारने वाले कोहली ने अब कहां झंडे गाड़ दिए?

राहुल के साथ यहां भी गड़बड़ हो गई.