Submit your post

Follow Us

कोरोना: केजरीवाल की नेगेटिव रिपोर्ट को आखिरी सच मान लेना कहीं जल्दबाजी तो नहीं?

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल. उनकी कोरोना टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव आई. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, केजरीवाल की तबीयत 7 जून को बिगड़ी थी. 9 जून को उनका टेस्ट हुआ और उसी दिन रिपोर्ट भी आ गई. कहने का मतलब ये है कि कोरोना जैसे लक्षण दिखने के दो दिन बाद ही केजरीवाल की जांच करा ली गई, जिसकी रिपोर्ट निगेटिव आई.

तो क्या ये माना जा सकता है कि केजरीवाल को करोना नहीं है? क्या एक बार किसी की रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद फिर से टेस्ट कराने पर रिपोर्ट पॉजिटिव आ सकती है? पहली रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद कोरोना नहीं है, ये बात मानी जा सकती है? ये जानने के लिए हमने बात की दिल्ली के सरकारी अस्पताल में काम करने वाले डॉक्टर रौनक राज से.

डॉक्टर रौनक का कहना है कि इस बात की बहुत हद तक आशंका है कि किसी की भी पहली रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद फिर से जांच कराने पर उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आ जाए. केजरीवाल का इलाज करने वाले डॉक्टरों को भी ये बात पता है. केजरीवाल को खांसी की बीमारी भी रही है. ऐसे में रिस्क और ज्यादा बढ़ जाता है. कोरोना सांस के रेस्पिरेटरी सिस्टम की ही बीमारी है.

इन्क्यूबेशन पीरियड क्या होता है?

तो क्या एक बार रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद फिर से पॉजिटिव आ सकती है. ये जानने के लिए हमें इन्क्यूबेशन पीरियड के बारे में जानना होगा. कोरोना वायरस का इन्क्यूबेशन पीरियड 14 दिनों का होता है. इन्क्यूबेशन पीरियड का मतलब ये है कि वायरस से संपर्क में आने के बाद पीड़ित इंसान में लक्षण कितने दिनों में दिखने लगते हैं. इन्क्यूबेशन पीरियड संक्रमण और लक्षण दिखने के बीच का वक़्त होता है. कोरोना वायरस का इन्क्यूबेशन पीरियड लोगों में अलग-अलग हो सकता है. औसतन ये पांच दिन का होता है.

Mumbai Coronavirus Case
कोविड-19 मरीज़ के सैंपल लेता हेल्थ वर्कर. प्रतीकात्मक तस्वीर. क्रेडिट- PTI.

वायरल बीमारी का विंडो पीरियड

डॉक्टर रौनक का कहना है कि हर वायरल बीमारी का एक विंडो पीरियड होता है. वो चाहे कोरोना हो, एड्स हो या कोई अन्य बीमारी, जिस दौरान मरीज में लक्षण दिखते हैं. वायरल बीमारी में सर्दी-खांसी आती है. इसे वायरल प्रोड्रोम कहते हैं. आम तौर पर कोई भी वायरल बीमारी होगी, उसमें प्रोड्रोम आएगा. यानी सर्दी-खांसी होगी. प्रोड्रोम आने के तुरंत बाद जरूरी नहीं कि टेस्ट पॉजिटिव आए.

कोरोना के तीन टेस्ट

डॉक्टर का कहना है कि हमने जिन लोगों को क्वरांटीन किया, उनके तीन टेस्ट करने होते थे. पांचवें दिन, आठवें दिन और 12वें दिन. पहला टेस्ट बहुत लोगों का निगेटिव आता था. लेकिन उन्हीं लोगों की रिपोर्ट आठवें या 10वें दिन पॉजिटिव आती थी. ये भी देखने को मिला है कि इंफेक्शन के दूसरे-तीसरे दिन लक्षण आने शुरू होते हैं. पांचवें, छठे दिन से टेस्ट पॉजिटिव आने लगती है. कोरोना के मामले में स्वाब बेस्ड टेस्ट हो रहे हैं. कई बार ऐसा हो सकता है कि जिस व्यक्ति का स्वाब लिया गया है, उसमें वायरस लोड कम हो, इस कारण RT-PCR टेस्ट में नेगेटिव रिजल्ट आए.

Coronavirus Doctors
डोर-टू-डोर जाकर लोगों के सैंपल लेते डॉक्टर्स और हेल्थ वर्कर्स. प्रतीकात्मक तस्वीर. क्रेडिट- PTI.

वहीं इंफेक्शन एक्सपर्ट डॉक्टर नरेंद्र सैनी का कहना है कि आमतौर पर जब कोई बीमार होता है, तो उस बीमारी से संबंधित लक्षण दिखने लगते हैं. लेकिन कोरोना वायरस में कई बार ऐसा होता है कि पीड़ित में लक्षण ही नहीं दिखता है.

एशियन हॉस्पिटल के रेस्पिरेटरी मेडिसिन के डॉक्टर मानव मनचंदा का कहना है कि जब बीमारी के लक्षण दिखते हैं, तो उसके आधार पर ही आगे की जांच की जाती है. अगर किसी में लक्षण ही नहीं दिखेगा, तो लोग जांच भी नहीं कराएंगे.

कई बार कोरोना की पहली रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद दूसरी और तीसरी रिपोर्ट पॉजिटिव आ जाती है. इसलिए तीन बार टेस्ट का प्रावधान किया गया है.


जिस कम्युनिटी स्प्रेड की बात मोदी सरकार नकार रही है, उसके संकेत दिल्ली सरकार ने दे दिए हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

इन नौ सवालों का जवाब दे दिया, तब मानेंगे आप ऐश्वर्या के सच्चे फैन हैं

इन नौ सवालों का जवाब दे दिया, तब मानेंगे आप ऐश्वर्या के सच्चे फैन हैं

कुछ ऐसी बातें, जो शायद आप नहीं जानते होंगे.

क्विज़: नुसरत फतेह अली खान को दिल से सुना है, तो इन सवालों का जवाब दो

क्विज़: नुसरत फतेह अली खान को दिल से सुना है, तो इन सवालों का जवाब दो

आज बड्डे है.

ये क्विज जीत नहीं पाए तो तुम्हारा बचपन बेकार गया

ये क्विज जीत नहीं पाए तो तुम्हारा बचपन बेकार गया

आज कार्टून नेटवर्क का हैपी बड्डे है.

रणबीर कपूर की मम्मी उन्हें किस नाम से बुलाती हैं?

रणबीर कपूर की मम्मी उन्हें किस नाम से बुलाती हैं?

आज यानी 28 सितंबर को उनका जन्मदिन होता है. खेलिए क्विज.

करीना कपूर के फैन हो तो इ वाला क्विज खेल के दिखाओ जरा

करीना कपूर के फैन हो तो इ वाला क्विज खेल के दिखाओ जरा

बेबो वो बेबो. क्विज उसकी खेलो. सवाल हम लिख लाए. गलत जवाब देकर डांट झेलो.

रवनीत सिंह बिट्टू, कांग्रेस का वो सांसद जिसने एक केंद्रीय मंत्री के इस्तीफे का प्लॉट तैयार कर दिया!

रवनीत सिंह बिट्टू, कांग्रेस का वो सांसद जिसने एक केंद्रीय मंत्री के इस्तीफे का प्लॉट तैयार कर दिया!

17 सितंबर को किसानों के मुद्दे पर बिट्टू ऐसा बोल गए कि सियासत में हलचल मच गई.

मोदी जी का बड्डे मना लिया? अब क्विज़ खेलकर देखो उनको कितना जानते हो मितरों

मोदी जी का बड्डे मना लिया? अब क्विज़ खेलकर देखो उनको कितना जानते हो मितरों

अच्छे नंबर चइये कि नइ चइये?

KBC में करोड़पति बनाने वाले इन सवालों का जवाब जानते हो कि नहीं, यहां चेक कर लो

KBC में करोड़पति बनाने वाले इन सवालों का जवाब जानते हो कि नहीं, यहां चेक कर लो

करोड़पति बनने का हुनर चेक कल्लो.

विधायक विजय मिश्रा, जिन्हें यूपी पुलिस लाने लगी तो बेटियां बोलीं- गाड़ी नहीं पलटनी चाहिए

विधायक विजय मिश्रा, जिन्हें यूपी पुलिस लाने लगी तो बेटियां बोलीं- गाड़ी नहीं पलटनी चाहिए

चलिए, विधायक जी की कन्नी-काटी जानते हैं.

नेशनल हैंडलूम डे: और ये है चित्र देखो, साड़ी पहचानो वाली क्विज

नेशनल हैंडलूम डे: और ये है चित्र देखो, साड़ी पहचानो वाली क्विज

कभी सोचा नहीं होगा कि लल्लन साड़ियों पर भी क्विज बना सकता है. खेलो औऱ स्कोर करो.