Submit your post

Follow Us

प्लेन हाइजैक की फर्ज़ी चिट्ठी लिखी, कोर्ट ने ऐसी सज़ा दी कि होश ठिकाने आ जाएंगे

84
शेयर्स

एक शख्स का नाम है बिरजू सल्ला. चर्चा में है. वजह उम्रकैद की सजा और 5 करोड़ का जुर्माना. इन्हें एंटी हाईजैकिंग एक्ट 2016 के तहत सजा मिली है. ये अपने किस्म की पहली सजा है. इससे पहले किसी को इस मामले में इस तरह की सजा नहीं सुनाई गई थी.

# क्या था पूरा मामला?

30 अक्टूबर, 2017 की बात है. बिरजू सल्ला मुंबई से दिल्ली बिजनेस क्लास में सफर कर रहे थे. जेट एयरवेज़. वही जो कुछ दिनों से बंद पड़ी है. आगे की स्टोरी बताने से पहले ये बता दें कि बिरजू सल्ला साउथ मुंबई के एक बिजनेस मैन हैं. उनका परिवार हीरों का व्यापार करता है. हां तो, इस मुंबई-दिल्ली वाले सफर के दौरान उन्होंने हाईजैक की झूठी अफवाह फैलाई थी. अब सवाल ये कि फैलाई कैसे थी? उन्होंने सफर के दौरान टॉयलेट में जाकर एक धमकी भरी चिट्ठी छिपा दी. चिट्ठी में लिखा कि इस फ्लाइट में 12 अपहरणकर्ता हैं. ये प्लेन यहां से सीधा पीओके (पाक अधिकृत कश्मीर) ले जाया जाएगा. अगर इस दौरान इसे कहीं भी लैंड करने की कोशिश की गई, तो लोगों के मरने का सिलसिला शुरू हो जाएगा. हमने प्लेन के कार्गो हिस्से में भी एक बम छुपा रखा है.

इस धमकी भरी चिट्ठी की तैयारी सल्ला ने पहले ही कर ली थी. अपने मुंबई स्थित ऑफिस में बैठकर उसने आराम से ये चिट्ठी टाइप की और गूगल ट्रांसलेशन की मदद से उसका उर्दू अनुवाद किया था. अपने ऑफिस से ही उन्होंने चिट्ठी का प्रिंट ले लिया था. बिरजू ने इस चिट्ठी को प्लेन के टॉयलेट में टिशू पेपर के साथ छुपा दिया था. चिट्ठी एक फ्लाइट अटेंडेट को मिली थी. पायलट को खबर मिलते ही प्लेन की अहमदाबाद में इमरजेंसी लैंडिंग करवाई गई थी.

# गर्लफ्रेंड के प्यार में उठाया था ये कदम

क्यों किया गया था ये काम? गर्लफ्रेंड के प्यार में. बिरजू का मकसद जेट एयरवेज को बदनाम करना था. उसने सोचा था कि उसके ऐसा करने से जेट एयरवेज बंद हो जाएगी. जिससे उसका दिल्ली ऑफिस बंद होने की संभावना बढ़ जाएगी. दिल्ली ऑफिस में उसकी गर्लफ्रेंड काम करती थी. यानी उसकी नौकरी भी छूट जाती. तब उसकी गर्लफ्रेंड के पास वापस आने के अलावा कोई और रास्ता नहीं रह जाता. उसने ये सब अपनी गर्लफ्रेंड को वापस मुंबई लाने के लिए किया था.

# संदेह के घेरे में कैसे आया बिरजू?

फ्लाइट में किसी को ये खबर नहीं थी कि ये काम बिरजू सल्ला का है. मगर उसकी एक बेवकूफी से उसका जुर्म सामने आ ही गया. बिरजू फ्लाइट में टॉयलेट इस्तेमाल करने वाला पहला यात्री था. उसने सारे टिशू पेपर फेंककर बचे हुए कुछ टिशू में चिट्ठी को लपेट कर रखा था. उसके बाद टॉयलेट इस्तेमाल फ्लाइट अटेंडेट शिवानी मल्होत्रा ने किया. टॉयलेट में कम टिशू देखकर शिवानी ने दूसरी अटेंडेट नितिका जुनेजा को रीफिल करने के लिए कहा. जुनेजा जैसे ही रीफिल करने लगी, उनके हाथ बिरजू का धमकी भरा ख़त लगा. उन्होंने तुरंत इसकी जानकारी पायलट को दी. पायलट ने मामले को गंभीरता से लेते हुए अहमदाबाद ATC से इमरजेंसी लैंडिंग की मांग कर ली. इन्वेस्टिगेशन के दौरान शिवानी ने बिरजू के टॉयलेट जाने की बात बता दी. सुरक्षा कर्मचारियों ने जब जांच शुरू की तो बिरजू घबराने लग गया. उसे सवाल-जवाब के लिए तुरंत क्राइम ब्रांच ले जाया गया. जहां आखिर में उसने गुनाह स्वीकार कर लिया.

# भारी भरकम जुर्माना भी लगा 

नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) की कोर्ट ने बिरजू को झूठी अफवाह फ़ैलाने के जुर्म में एंटी हाईजैकिंग एक्ट 2016 के तहत सजा सुनाई है. सज़ा हुई उम्र कैद की और जुर्माना लगा 5 करोड़ का. जज ने इन पर लगाए गए 5 करोड़ के जुर्माने की राशि को 116 यात्रियों और 7 क्रू मेंबर्स के बीच बांटने का फैसला सुनाया है. पायलट और को पायलट को एक-एक लाख, एयर होस्टेस को 50 – 50 हजार और सभी यात्रियों को 25 – 25 हजांर रूपये दिए जायेंगे. नेशनल नो फ्लाई लिस्ट में नाम आने के बाद बिरजू सल्ला कभी हवाई यात्रा नहीं कर पायेंगे.

# एंटी हाईजैकिंग कानून 2016 क्या है?

1982 में बना ये कानून हाईजैक की अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ कोई सख्त कदम नहीं उठा पाता था. इसलिए संसद ने 2016 में इसमें संशोधन किया था.

एक्ट 2016 को एंटी हाईजैकिंग एक्ट भी कहा जाता है. ये एक्ट ‘हेग हाईजैकिंग कनवेन्शन’( ये एक संधि थी. जिसके जरिए एयरक्राफ्ट हाईजैकिंग पर सभी देशों में एक समान सजाएं और प्रतिबंध तय किए थे) को सख्ती से लागू करता है. ये कनवेन्शन किसी भी तरह के मिलिट्री एयरक्राफ्ट, सीमा शुल्क पर लागू नहीं होता. इसे सिर्फ सिविलियन एयरक्राफ्ट की सुरक्षा के लिए बनाया गया है. ये सिर्फ उन परिस्थितियों में लागू होता है, जब एयरक्राफ्ट अपने रजिस्टर्ड स्थान से किसी दूसरी जगह से टेक ऑफ या लैंड करता है. संधि पर सहमत हुए देश, अपराधी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई कर सकते हैं.

इस संशोधित कानून के तहत अगर कोई प्लेन को हाईजैक करता है और ऐसे में किसी की मौत हो जाती है. तो अपराधी को मौत की सजा सुनाई जाएगी. अगर कोई हाईजैक करने की कोशिश में किसी को डराता, धमकाता है, या ऐसा करने का दिखावा करता है, या किसी टेक्नोलॉजी के जरिए हाईजैकिंग की कोशिश करता है तो इसे संगीन जुर्म माना जाएगा. ऐसा करने पर उसे उम्रकैद या जुर्माने की सजा सुनाई जाएगी.


ये खबर हमारे साथ इन्टर्न कर रही कामना ने की है.


वीडियो देखें:

मोदी के मुख्य आर्थिक सलाहकार रहे अरविंद सुब्रमण्यन के पेपर से जीडीपी पर नया बखेड़ा-

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

KBC क्विज़: इन 15 सवालों का जवाब देकर बना था पहला करोड़पति, तुम भी खेलकर देखो

आज से KBC ग्यारहवां सीज़न शुरू हो रहा है. अगर इन सारे सवालों के जवाब सही दिए तो खुद को करोड़पति मान सकते हो बिंदास!

क्विज: अरविंद केजरीवाल के बारे में कितना जानते हैं आप?

अरविंद केजरीवाल के बारे में जानते हो, तो ये क्विज खेलो.

क्विज: कौन था वह इकलौता पाकिस्तानी जिसे भारत रत्न मिला?

प्रणब मुखर्जी को मिला भारत रत्न, ये क्विज जीत गए तो आपके क्विज रत्न बन जाने की गारंटी है.

ये क्विज़ बताएगा कि संसद में जो भी होता है, उसके कितने जानकार हैं आप?

लोकसभा और राज्यसभा के बारे में अपनी जानकारी चेक कर लीजिए.

संजय दत्त के बारे में पता न हो, तो इस क्विज पर क्लिक न करना

बाबा के न सही मुन्ना भाई के तो फैन जरूर होगे. क्विज खेलो और स्कोर करो.

बजट के ऊपर ज्ञान बघारने का इससे चौंचक मौका और कहीं न मिलेगा!

Quiz खेलो, यहां बजट की स्पेलिंग में 'J' आता है या 'Z' जैसे सवाल नहीं हैं.

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

आन्हां, ऐसे नहीं कि योग बस किए, दिखाना पड़ेगा कि बुद्धिबल कित्ता बढ़ा.

रोहित शेट्टी के ऊपर ऐसी कड़क Quiz और कहां पाओगे?

14 मार्च को बड्डे होता है. ये तो सब जानते हैं, और क्या जानते हो आके बताओ. अरे आओ तो.

परफेक्शनिस्ट आमिर पर क्विज़ खेलो और साबित करो कितने जाबड़ फैन हो

आज आमिर खान का हैप्पी बड्डे है. कित्ता मालूम है उनके बारे में?

चेक करो अनुपम खेर पर अपना ज्ञान और टॉलरेंस लेवल

अनुपम खेर को ट्विटर और व्हाट्सऐप वीडियो के अलावा भी ध्यान से देखा है तो ये क्विज खेलो.