Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

SSC, बैंक और रेलवे में नौकरी चाहने वालों के लिए अब हो सकता है एक कॉमन एग्जाम

485
शेयर्स

SSC, बैंक और रेलवे में नौकरी के लिए सरकार एक नई व्यवस्था लागू करने की कोशिश में है. मार्च, 2018 में केंद्र सरकार ने राज्यसभा में एक बिल पेश किया. इस बिल में केंद्र सरकार की ग्रुप बी (नॉन-गजेडेट) नौकरियों के लिए अलग-अलग पेपर की जगह एक जैसी योग्यता वाले लोगों के लिए एक पेपर करवाने का प्रस्ताव रखा गया है. फिलहाल ये बिल राज्यसभा में अटका हुआ है लेकिन इस सत्र के खत्म होने तक इसके पास हो जाने की उम्मीद है. इस परीक्षा का नाम कॉमन इलिजिबिलिटी टेस्ट (CET) रखा जाएगा.

क्या होगा इस परीक्षा से?

कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग (DoPT) द्वारा राज्यसभा में पेश की गई रिपोर्ट के मुताबिक-

1. नौकरी के लिए अलग-अलग डिपार्टमेंट्स अपनी अलग-अलग परीक्षाएं लेते हैं. केंद्र सरकार के बहुत सारे विभागों के लिए स्टाफ सलेक्शन कमीशन (SSC) तीन स्तर- सेकेंडरी, हाई-सेकेंडरी और ग्रेजुएशन लेवल पर, बैंको के लिए IBPS और रेलवे के लिए रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड अलग-अलग स्तर पर पेपर करवाते हैं.

2. पिछले कई सालों से स्टाफ की कमी, टेस्ट के दौरान हुई टेक्निकल दिक्कतों, चीटिंग और दूसरी दिक्कतों के चलते अलग-अलग परीक्षा करवाने में परेशानियां हुई हैं. इन सबको देखते हुए वित्त मंत्री ने साल 2016-17 की अपनी बजट स्पीच में ग्रुप बी (नॉन-गजेडेट) और इससे निचले स्तर की नौकरियों के लिए एक कॉमन इलिजिबिलिटी टेस्ट का ऐलान किया था.

संसद के बिल पास करने के बाद ये नई व्यवस्था लागू होगी.
संसद के बिल पास करने के बाद ये नई व्यवस्था लागू होगी.

3. CET बैंकिंग, रेलवे और एसएससी के लिए एक स्क्रीनिंग टेस्ट की तरह होगा. ये तीनों परीक्षाओं के लिए एक कॉमन पेपर होगा. इसका स्कोर दो साल तक वैलिड होगा. ये इन सब परीक्षाओं के लिए टियर-1 की परीक्षा की तरह होगा.

4. इस पेपर को पास करने वाले परीक्षार्थियों को अपने हिसाब से रेलवे, बैंक या एसएससी की परीक्षा देनी होगी. ये परीक्षा पहले होने वाली मुख्य परीक्षा या टियर-2 परीक्षा की तरह होगी. और फिर आगे का प्रॉसेस होगा.

5. इसके लिए अप्लाई करने वाले अभ्यर्थियों को नेशनल करियर सर्विसेज पोर्टल पर रजिस्टर करना होगा. ग्रेजुएट लेवल के लिए CET, हाई-सेकेंडरी लेवल के लिए अलग CET और सेकेंडरी लेवल के लिए अलग CET होगा. सबसे पहले इस व्यवस्था को ग्रेजुएशन लेवल पर लागू किया जाएगा.

6. यह व्यवस्था लागू होने के बाद से जिन परीक्षाओं का नोटिफिकेशन आएगा, उन परीक्षाओं के लिए ये व्यवस्था लागू की जाएगी. अब तक जिन परीक्षाओं के नोटिफिकेशन जारी कर दिए गए उनके लिए यह व्यवस्था लागू नहीं होगी.

इसके फायदे क्या होंगे?

1. अलग-अलग परीक्षाओं के लिए अलग-अलग फॉर्म की जगह एक ही बार एप्लाई करना होगा.

2. CET में एक बार अच्छा स्कोर करने पर वो बैंक, एसएससी और रेलवे जैसी अलग-अलग नौकरियों की मुख्य परीक्षा में बैठ सकेंगे. ऐसे में एक ही पेपर पास करने से एक से ज्यादा नौकरी के मौके खुलेंगे.

3. एक पेपर का स्कोर दो साल तक वैलिड रहेगा. ऐसे में स्टूडेंट्स के लिए फोकस होकर पेपर की तैयारी करने के लिए ज्यादा टाइम होगा.

SSC-CGL की परीक्षा में गड़बड़ी के चलते बहुत हंगामा हुआ.
SSC-CGL की परीक्षा में गड़बड़ी के चलते बहुत हंगामा हुआ था.

नुकसान क्या हो सकता है?

1. एक कॉमन पेपर होने की वजह से सिलेबस बढ़ जाएगा. जैसे एसएससी वालों को बैंक का सिलेबस पढ़ना होगा और बैंक वालों को एसएससी का.

2. अगर साल में सिर्फ एक बार पेपर होने की व्यवस्था की गई तो परीक्षार्थियों को साल में बस एक पेपर का मौका मिलेगा. अगले मौके के लिए उन्हें सालभर का इंतजार करना होगा.

मार्च, 2018 में पेश की गई इस रिपोर्ट के मुताबिक पहली बार इस पेपर को एसएससी ही कंडक्ट करवाएगा. और पहली बार इस परीक्षा को फरवरी, 2019 में आयोजित की जाएगी. लेकिन अभी तक ये बिल अभी संसद से पास नहीं हुआ है. ऐसे में फरवरी, 2019 में इसके आयोजित होने की संभावना कम है.


वीडियो-पीएम वी पी सिंह ने मंडल कमीशन लागू किया और पूरा देश जल उठा

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Common Eligibility Test CET will replace tier 1 exam of SSC, Banks and Railways if bill passes in parliament

कौन हो तुम

राजेश खन्ना ने किस हीरो के खिलाफ चुनाव लड़ा और जीता था?

राजेश खन्ना के कितने बड़े फैन हो, ये क्विज खेलो तो पता चलेगा.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

फवाद पर ये क्विज खेलना राष्ट्रद्रोह नहीं है

फवाद खान के बर्थडे पर सपेसल.

दुनिया की सबसे खूबसूरत महिला के बारे में 9 सवाल

कुछ ऐसी बातें, जो शायद आप नहीं जानते होंगे.

कोहिनूर वापस चाहते हो, लेकिन इसके बारे में जानते कितना हो?

आओ, ज्ञान चेक करने वाला खेल खेलते हैं.

कितनी 'प्यास' है, ये गुरु दत्त पर क्विज़ खेलकर बताओ

भारतीय सिनेमा के दिग्गज फिल्ममेकर्स में गिने जाते हैं गुरु दत्त.

इंडियन एयरफोर्स को कितना जानते हैं आप, चेक कीजिए

जो अपने आप को ज्यादा देशभक्त समझते हैं, वो तो जरूर ही खेलें.

इन्हीं सवालों के जवाब देकर बिनिता बनी थीं इस साल केबीसी की पहली करोड़पति

क्विज़ खेलकर चेक करिए आप कित्ते कमा पाते!

सच्चे क्रिकेट प्रेमी देखते ही ये क्विज़ खेलने लगें

पहले मैच में रिकॉर्ड बनाने वालों के बारे में बूझो तो जानें.

कंट्रोवर्शियल पेंटर एम एफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

एम.एफ हुसैन की पेंटिंग और विवाद तो गूगल कर आपने खूब समझ लिया. अब जरा यहां कलाकारी दिखाइए