Submit your post

Follow Us

पाकिस्तान के खिलाफ इंडिया जीत रही थी, फिर कप्तान ने कहा, 'चीटर्स के साथ हम नहीं खेलेंगे'

इंडिया वर्सेज़ पाकिस्तान. तारीख 3 नवंबर 1978. वन डे क्रिकेट के इतिहास का 56वां मैच. 40 ओवर का. पाकिस्तान में साहिवाल के ज़फ़र अली स्टेडियम में. मुश्ताक़ मोहम्मद ने टॉस जीता और पहले बैटिंग करने की ठानी. फ़्लैट विकेट. माजिद खान और अजमत राणा ने अच्छी शुरुआत दी. लेकिन इंडियन बॉलर्स ने बीच में रोक लिया. रोका क्या, संभाल लिया. वरना जिस तरह की शुरुआत थी, बड़ा स्कोर दूर नहीं लग रहा था. आसिफ़ इकबाल ने 72 गेंद पर 62 रन बनाये. लेकिन आखिरी ओवर में अंधाधुंध हिटिंग के बावजूद केडी घावरी, वेंकटराघवन और मोहिंदर अमरनाथ ने पाकिस्तान को 205 रन पर रोका.

चूंकि टेस्ट सीरीज़ में सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले सुनील गावस्कर इस मैच में नहीं खेल रहे थे इसलिए ओपेनिंग के लिए चेतन चौहान और अंशुमन गायकवाड़ आये. पहली पार्टनरशिप से ही इंडियन टीम ने जीत की ओर बढ़ना शुरू किया. पहला विकेट गिरा 44 रन पर. 23 रन पर चेतन चौहान चल पड़े. अगली पार्टनरशिप ने गद्दा बिछा दिया. जिसपे इंडियन टीम आराम कर रही थी. 119 रन, सुरिंदर अमरनाथ और गायकवाड़ की मिलीभगत.

मुश्ताक़ मोहम्मद हल्के ठंडे मौसम में फील्डिंग बदल रहे थे. कुछ फल नहीं. इंडिया को जीत के लिए 43 रन चाहिए थे. आसिफ इकबाल ने कुछ स्कोप बनाया. सुरिंदर अमरनाथ आउट हुए. अन्दर आये गुंडप्पा विश्वनाथ. विश्वनाथ ने पक्का किया कि इंडिया को कोई दिक्कत न हो. एक एंड पकड़ लिया. 37 ओवर के अंत में इंडिया के पास 2 विकेट बचे हुए थे.इंडिया को 23 रन चाहिए थे.

गेंद फेंकने आये सरफ़राज़. इंडिया फेवरिट टीम थी.

पहली गेंद. बाउंसर. बहुत ऊंची गेंद. कीपर वसीम बारी के हाथ में. बैट्समैन अम्पायर की ओर देख रहा था. वाइड नहीं दी गयी. बात आई-गई हो गयी. 17 गेंदें अभी भी बाकी थीं.

दूसरी गेंद. फिर बाउंसर. फिर से काफ़ी ऊंची गेंद. अम्पायर फिर खामोश.

तीसरी गेंद. फिर बाउंसर. फ़िर उतनी ही ऊंची. इस बार भी अम्पायर ने वाइड नहीं दी.

यही हाल रहा चौथी गेंद का भी. वो गेंद इतनी ऊंची थी कि उसको मारने का 78 रन पर खेल रहे 6 फुट लम्बे गायकवाड़ के पास कोई तरीका ही नहीं था.

पाकिस्तानी बॉलर्स का प्लान समझ में आ रहा था. गायकवाड़ से इतनी दूर फेंको कि मार ही न पाए. और उनकी इस स्कीम में साथ निभा रहे थे पाकिस्तानी अम्पायर्स. ये वो समय था जब आईसीसी ने न्यूट्रल अम्पायर्स का नियम नहीं निकाला था.

इंडियन बैट्समैन बीच मैदान में खड़े होकर पवेलियन में बैठे बिशन सिंह बेदी की ओर देख रहे थे. बेदी काफी तमतमाये हुए थे. उन्होंने गायकवाड़ और विश्वनाथ को वापस बुला लिया. पाकिस्तान से बोला कि आगे मैच नहीं होगा. उन्हें कहा गया कि इस हालत में मैच पाकिस्तान को दे दिया जायेगा. तो वो राजी हो गए. बेदी को इस बात का कोई डर नहीं था कि आगे क्या होगा. उन्हें इतना मालूम था कि उनकी टीम के साथ जो हो रहा था वो कितना ग़लत था.

पाकिस्तान 2-1 से सीरीज़ अपने नाम कर ले गया.

सालों बाद वसीम बारी ने बताया कि बाद में उन्हें अपनी उस जीत पर काफी अफ़सोस हुआ. वो कहते हैं कि उस दिन इंडिया के जीतने के पूरे चान्सेज़ थे. पाकिस्तान को वो चार गेंदें नहीं फेंकनी चाहिए थीं.


 वीडियो-मुस्तफिजुर रहमान ने पैर में चोट होने के बावजूद डाला ओवर, बांग्लादेश ने अफगानिस्तान को 3 रन से हराया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

पहला चुनाव हार गए थे, बीजेपी ने राज्य की जिम्मेदारी सौंपी है.

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

उनके गाए 'पल' गाने के बगैर आज भी किसी कॉलेज का फेयरवेल पूरा नहीं होता.

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

आन्हां, ऐसे नहीं कि योग बस किए, दिखाना पड़ेगा कि बुद्धिबल कित्ता बढ़ा.

तमिल जनता आखिर क्यों कर रही है 'फैमिली मैन-2' का विरोध, क्या है LTTE की पूरी कहानी?

तमिल जनता आखिर क्यों कर रही है 'फैमिली मैन-2' का विरोध, क्या है LTTE की पूरी कहानी?

जब ट्रेलर आया था, तबसे लगातार विरोध जारी है.