Thelallantop

'यस बॉस' वाले आदित्य पंचोली आज कल कहां हैं?

पहली तस्वीर में न्यूकमर आदित्य पंचोली. दूसरी तस्वीर फिल्म 'यस बॉस' से. आखिरी तस्वीर आदित्य के करियर के सेकंड हाफ की है.

वो एक्टर जो अपनी फिल्मों से ज़्यादा विवादों की वजह से चर्चा में रहा. फिल्मी दुनिया से आने वाले लोगों के लिए ये बहुत नई या अनोखी बात नहीं है. मगर संजय दत्त और सलमान खान से उलट इस चीज़ ने इनके एक्टिंग करियर को रॉकेट बनाने की बजाय बर्बाद करके छोड़ दिया. आज हम जिनकी बात करने वाले हैं उनका नाम है- निर्मल उर्फ आदित्य पंचोली.

# मम्मी-पापा के फिल्मों में होने के बावजूद नेवी में जाना चाहते थे

निर्मल पंचोली का जन्म का 4 जनवरी, 1965 को रायबरेली में हुआ था. ऐसा कई मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है. मगर ये गलत इनफॉरमेशन है. निर्मल उर्फ आदित्य पंचोली 12 सितंबर, 1965 को मुंबई में ही पैदा हुए थे. मां अरुणा और पिता राजन पंचोली फिल्मी दुनिया से ताल्लुक रखते थे. राजन पंचोली ने अपने करियर में कुछ फिल्में डायरेक्ट की थीं. मगर उनका रिकॉर्ड बहुत ढूंढने पर भी नहीं मिल सका. आदित्य की शुरुआती पढ़ाई-लिखाई बॉम्बे के St. Joseph’s High School से हुई. आदित्य अपने एक इंटरव्यू में बताते हैं कि फैमिली के फिल्म बिज़नेस में होने के बावजूद उन्होंने कभी फिल्मों में जाने के बारे में नहीं सोचा था. वो अच्छी कद-काठी के थे, इसलिए देश की सेवा करने के लिए नेवी में जाना चाहते थे. मगर एक दिन कुछ यूं हुआ, जिसने आदित्य की ज़िंदगी हमेशा के लिए बदलकर रख दी.

आदित्य पंचोली का एक्टिंग करियर चलती ट्रेन में शुरू हो गया.

# खूबसूरती देखकर डायरेक्टर ने काम ऑफर कर दिया

आदित्य पंचोली एक बार मुंबई लोकल ट्रेन में ट्रैवल कर रहे थे. ये तब की बात है, जब उनकी उम्र कुछ 18-20 साल रही होगी. उसी ट्रेन में उन्हें पहली बार एक फिल्ममेकर ने नोटिस किया. वो आदित्य की खूबसूरती देखकर इंप्रेस हो गए. उन्होंने पूछा एक्टिंग करोगे, आदित्य ने हां कह दिया. बात बन गई. उस फिल्मकार ने आदित्य को एक सिट-कॉम में छोटा सा रोल दिला दिया. मगर ये उनका ऑफिशियल एक्टिंग डेब्यू नहीं था. 1985 स्टारडस्ट मैग्ज़ीन के मालिक हीरा नारी, हीबा फिल्म्स नाम की कंपनी के लिए टेली-फिल्म प्रोड्यूस कर रहे थे. इस फिल्म में लीड रोल के लिए आदित्य पंचोली को कास्ट कर लिया गया. फिल्म का नाम था- ‘शहादत’. अगले कुछ दिनों में आदित्य सोने का पिंजरा, स्याही, कलंक का टीका समेत 5-6 टेली-फिल्म्स में नज़र आए. मगर जैसा कि हमने आपको बताया कि ये सारी टेली-फिल्म्स थीं. यानी ये फिल्में सिर्फ टीवी पर दिखाई जानी थीं, थिएटर्स में नहीं. मगर इसी साल वो ‘सस्ती दुल्हन महंगा दुल्हा’ नाम की फिल्म में नज़र आए. इस फिल्म को बप्पी सोनी ने डायरेक्ट किया था. बतौर डायरेक्टर के उनकी आखिरी फिल्म साबित हुई. बप्पी वही डायरेक्टर हैं, जिन्होंने सुनील दत्त और वहीदा रहमान के साथ ‘एक फूल चार कांटे’ नाम की फिल्म बनाई थी. इसके अलावा उन्होंने ऋषि कपूर के साथ ‘बड़े दिलवाला’ और अशोक कुमार-विनोद खन्ना को लेकर ‘जेल यात्रा’ जैसी फिल्में बना रखी थीं. ‘सस्ती दुल्हन महंगा दुल्हा’ में क्रेडिट प्लेट पर लीड हीरो का नाम निर्मल पंचोली लिखा गया था. इस फिल्म के बाद निर्मल ने अपना नाम बदलकर आदित्य पंचोली कर लिया.

फिल्म ‘सस्ती दुल्हन महंगा दुल्हा’ के पोस्टर पर आदित्य पंचोली (सबसे आखिर में). 

# तमाम टॉप स्टार्स के साथ फिल्में करने के बावजूद क्यों बर्बाद हो गया आदित्य का करियर

आदित्य पंचोली के करियर की पहली बड़ी फिल्म थी ‘दयावान’. कमल हासन स्टारर ब्लॉकबस्टर तमिल फिल्म ‘नायकन’ की इस हिंदी में विनोद खन्ना और माधुरी दीक्षित ने मुख्य किरदार निभाए थे. फिल्म में आदित्य का रोल विनोद खन्ना के दामाद का था. ये फिल्म सुपरहिट साबित हुई. आदित्य को दनादन काम मिलने लगा. मगर अपने प्रोजेक्ट्स कायदे से चुनने की बजाय आदित्य हर दूसरी फिल्म में नज़र आने लगे. लीड रोल में उनके करियर की पहली फिल्म थी के.सी. बोकाड़िया के प्रोडक्शन में बनी ‘कब तक चुप रहूंगी’. फिल्म नहीं चली. इसके साथ-साथ वो तमाम फिल्में भी पिटती चली गईं, जिसमें आदित्य लीड एक्टर के तौर पर दिखाई दिए थे. आदित्य को भी धीरे-धीरे ये समझ आने लगा था कि हीरो के तौर पर उनका करियर खत्म हो चुका है. इसलिए अब वो सपोर्टिंग रोल्स करने लगे थे. आगे उन्होंने संजय गुप्ता की ‘आतिश’, शाहरुख खान- जूही चावला स्टारर ‘यस बॉस’ और अमिताभ बच्चन के साथ ‘आंखें’ जैसी फिल्मों में काम किया. ‘यस बॉस’ में नेगेटिव रोल करने के लिए उन्हें फिल्मफेयर बेस्ट विलन का नॉमिनेशन भी मिला था. मगर उनकी बदकिस्मती रही कि उसी साल ‘गुप्त’ जैसी तगड़ी थ्रिलर रिलीज़ हुई थी. फिल्म में बेहतरीन परफॉर्मेंस के लिए ये अवॉर्ड काजोल को मिल गया.

अपने करियर पर बात करते हुए आदित्य बताते हैं कि जब उन्होंने एक्टिंग शुरू किया, तब वो मात्र 18 साल के थे. उन्हें इतनी कम उम्र में ढेर सारा पैसा और फेम मिल गया. उन्हें समझ नहीं आया कि इन चीज़ों को कैसे हैंडल करना है. मगर वो अपनी सबसे बड़ी कमी ये मानते हैं कि उन्होंने कभी अपनी इमेज पर ध्यान नहीं दिया. समय के साथ उनकी छवि एक बिगड़ैल फिल्म स्टार की बनती चली गई, जिसने उनके करियर और जीवन को बहुत नुकसान पहुंचाया. मगर अपने इस अफसोस को वो पॉज़िटिविटी में लपेटकर कहते हैं-

”हर एक्टर के करियर में 10 अच्छी फिल्में होती हैं, मेरे करियर में 5 हैं. बट नो रिग्रेट्स”

फिल्म ‘यस बॉस’ के एक सीन में जूही चावला के साथ आदित्य पंचोली.

# जया बच्चन की उत्तराधिकारी मानी जा रहीं एक्ट्रेस के प्रेम में कैसे पड़ गए आदित्य?

1986 में आदित्य ‘कलंक’ का टीका नाम की फिल्म पर काम कर रहे थे. इस फिल्म में आदित्य पंचोली के साथ ज़रीना वहाब काम कर रही थीं. जब अमिताभ बच्चन से शादी के बाद जया बच्चन फिल्मों से दूर हो गईं, तो ज़रीना को उनकी रिप्लेसमेंट के तौर पर देखा जाने लगा था. इसके पीछे की वजह ये थी कि जया की ही तरह ज़रीना ने भी FTTI यानी पुणे फिल्म इंस्टिट्यूट से एक्टिंग की ट्रेनिंग ली थी. साथ ही उनकी एक्टिंग में एक खास तरह की सब्टलिटी पाई जाती थी. 1974 में करियर शुरू करने के पांच सालों के भीतर ज़रीना बड़ी स्टार बन चुकी थीं. उनके खाते में बासु चैटर्जी की फिल्म ‘चितचोर’ के अलावा ‘घरौंदा’ जैसी सफल फिल्में थीं. 1978 में उन्होंने कमल हासन के साथ ‘मदनोसल्वम’ नाम की मलयाली फिल्म में काम किया, जो बड़ी हिट रही. कहने का मतलब वो स्टार थीं.

‘कलंक का टीका’ के सेट पर आदित्या और ज़रीना पहली बार मिले. आदित्य उम्र में उनसे 6 साल छोटे थे. कुछ ही दिनों में इनकी खूब बनने लगी. फिल्म की शूटिंग के दौरान ही इन दोनों डेटिंग शुरू कर दी. फिल्म की रिलीज़ के अगले कुछ ही दिनों में इन दोनों शादी करने का फैसला ले लिया. मगर ज़रीना के परिवारवाले इस इंटर-रिलीज़न शादी के सख्त खिलाफ थे. मगर परिवारवालों के खिलाफ जाते हुए 1986 के आखिर में ज़रीना और आदित्य ने शादी कर ली. कागज़ पर उनकी शादी आज भी मजबूत नज़र आती है. मगर आदित्य ने खुलेआम मीडिया में इस बात को स्वीकारा है कि वो अपनी पत्नी के प्रति एक से ज़्यादा बार अन-फेथफुल रहे हैं. आदित्य पंचोली का नाम मोनिका बेदी और कंगना रनौत जैसी फिल्मी महिलाओं के साथ जुड़ चुका है.

पत्नी ज़रीना वहाब के साथ आदित्य पंचोली

# आदित्य पंचोली और उनके अनिगनत विवाद

आदित्य पंचोली आए दिन चर्चा में बने रहे रहते हैं. विवादों की वजह से. वो कभी किसी हीरोइन की मेड का रेप करने की वजह से सुर्खियों में आ जाते हैं, तो कभी पार्किंग के झगड़े में पड़ोसी की नाक पर मुक्का मार देते हैं. आदित्य ने अपने एक बार बिज़नेस पार्टनर पर हाथ उठा दिया था. मामला कोर्ट में गया. कोर्ट ने आदित्य को दोषी मानते हुए 1 साल की सज़ा सुनाई. आदित्य ने कोर्ट के इस फैसले को चुनौती दी. ये मामला अब भी चल रहा है. मगर उनके करियर को पांव के बल खड़ा कर देने वाला विवाद रहा कंगना रनौत के साथ. कंगना ने अपने कई इंटरव्यूज़ में बताया कि आदित्य पंचोली ने फिल्मों में काम दिलाने के नाम पर उनके साथ ज़्यादती की है. कंगना बताती हैं कि आदित्य ने उनके ड्रिंक्स में नशे की दवाई मिलाकर उनके साथ रेप किया. हिंसा किया. उन्हें हाउस अरेस्ट में रखा. बकौल कंगना आदित्य ने आपत्तिजनक हालत में उनकी कई तस्वीरें खींची, जिनकी मदद से वो उन्हें ब्लैकमेल करते थे. हालांकि आदित्य इन सभी आरोपों को फर्जी और निराधार बताते रहे हैं. ये तो आदित्य का मसला हो गया. दूसरी तरफ उनके बेटे सूरज फिल्मों में एंट्री से पहले ही एक्ट्रेस जिया खान की मौत के बाद से शक के घेरे में रहे. जिया की 8 पन्ने की सुसाइड के आधार पर सूरज को गिरफ्तार कर लिया गया था. सुसाइड नोट में जिया ने बताया था कि वो सूरज उन्हें मानसिक और शारीरिक रूप से प्रताड़ित करते हैं. उनके प्रेशर में आकर वो एक बार अपना अबॉर्शन भी करवा चुकी हैं. सूरज पर जिया को आत्महत्या के लिए उकसाने यानी अबेटमेंट टु सुसाइट का मामला दर्ज किया गया.

बेटे सूरज को मीडिया से बचाकर ले जाने की कोशिश करते आदित्य.

# आज कल कहां हैं आदित्य पंचोली और क्या कर रहे हैं?

संजय गुप्ता की 2004 में आई फिल्म ‘मुसाफिर’ में मेन विलन का रोल करने के बाद आदित्य फिल्मों से गायब हो गए. उन्होंने 6 साल बाद ‘स्ट्राइकर’ नाम की एक्शन थ्रिलर फिल्म से वापसी की. उसके बाद से वो कई छोटी-बड़ी फिल्मों में काम कर चुके हैं. वो मल्टी-स्टारर फिल्म ‘रेस 2’ में गॉडफादर अन्ज़ा के रोल में दिखाई दिए थे. इसके बाद आई सलमान खान स्टारर फिल्म जय हो, इसमें वो एक करप्ट पुलिसवाले के रोल में नज़र आए. वो आखिरी बार संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘बाजीराव मस्तानी’ में दिखे थे. तब से लेकर अब तक आदित्य ने किसी फिल्म में काम नहीं किया है. मगर उनके बच्चे फिल्मों में एक्टिव हैं.

आदित्य के बेटे सूरज को सलमान खान ने अपने प्रोडक्शन में बनी फिल्म ‘हीरो’ से लॉन्च किया था. ये फिल्म 1983 में आई सुभाष घई फिल्म ‘हीरो’ का ऑफिशियल रीमेक थी. इस फिल्म में सूरज के साथ आदित्य भी नज़र आए थे. हालांकि इतने जतन के बाद भी ये फिल्म चल नहीं पाई. इसके बाद सूरज गायब हो गए. उन्होंने 2019 में आई फिल्म ‘सैटेलाइट शंकर’ से वापसी की मगर ये फिल्म भी सफल नहीं हो पाई. आदित्य की बेटी सना भी फिल्मों में आना चाहती थीं. बताया जाता है कि उन्हें सुनील दर्शन की फिल्म ‘शाका लाका बूम बूम’ में बॉबी देओल के अपोज़िट कास्ट किया गया था. सना फिल्म की शूटिंग के लिए साउथ अफ्रीका भी जा चुकी थीं. मगर उन्हें वहां से वापस भेज दिया गया. और उनके रोल में कगना रनौत की कास्टिंग हो गई. हालांकि इसके पीछे की वजह साफ नहीं हो पाई. इस घटना के कुछ ही समय बाद सना को मुंबई के क्लब से गिरफ्तार किया गया, जहां रेव पार्टी चल रही थी. यहां शक्ति कपूर के बेटे सिद्धांत कपूर भी मौजूद थे. मगर बाद में ये दोनों ही स्टार किड्स छूट गए. सना अब फिल्मों से दूर गोवा में एक रेस्टॉरेंट चलाती हैं. आदित्य पंचोली अपने बेटे सूरज और पत्नी ज़रीना के साथ मुंबई में ही रहते हैं.

पत्नी जरीना, बेटे सूरज और बिटिया सना के साथ आदित्य पंचोली.

वीडियो देखें: सिर्फ एक फिल्म ‘तुमसे अच्छा कौन है’ के बाद नकुल कपूर कहां गायब हो गए?

Read more!

Recommended