Submit your post

Follow Us

टॉप खिलाड़ियों से सजी टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया से 10 विकेट से क्यों हारी?

5
शेयर्स

इंडियन क्रिकेट टीम के लिए साल की शुरुआत टी20 सीरीज में जीत के साथ हुई थी. टीम ने श्रीलंका को 2-0 हराकर शानदार आगाज़ किया था. लेकिन नए साल में वनडे क्रिकेट का सफ़र हार के साथ शुरू हुआ है. 2020 की पहली वनडे सीरीज के पहले मैच में टीम इंडिया को करारी हार मिली है. मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए पहले मुकाबले को ऑस्ट्रेलिया ने पूरे दस विकेटों के अंतर से जीत लिया है. ये मैच एकतरफा साबित हुआ.

अपनी सबसे बेहतरीन प्लेइंग इलेवन के साथ खेलने उतरी टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया के सामने बेबस साबित हुई. टीम की इस करारी हार की मुख्य वजहें ये रहीं-

1. पहले मोर्चे पर पहली हार

मैच की शुरुआत से पहले टॉस हुआ. सिक्का उछला और गिरा कंगारुओं के पाले में. टॉस जीतने के तुरंत बाद कंगारू कैप्टन आरोन फिंच ने इंडिया को बैटिंग का न्यौता दे दिया. ओस की वजह से गेंद फिसलती है. इसलिए रन चेज करना ज्यादा आसान होता है.

India Vs Australia Toss
India Vs Australia Toss (फोटो क्रेडिट, स्क्रीनग्रैब)

विराट कोहली ने भी कहा कि वे भी टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का ही फैसला लेते. पहले मोर्चे पर पिछड़ने के बाद टीम को झटका तब लगा, जब पहले ओवर में जीवनदान लेने के बाद भी रोहित शर्मा बड़ा स्कोर बना पाने में नाकाम रहे.

2. विराट कोहली का बैटिंग नंबर

इंडिया इस मैच में तीन स्पेशलिस्ट ओपनर्स के साथ खेल रही थी. रोहित शर्मा, केएल राहुल और शिखर धवन एक साथ टीम में शामिल किए गए थे. ऐसे में कप्तान कोहली नंबर तीन की बजाय चौथे नंबर पर बैटिंग करने आए. कोहली सिर्फ 16 रन बना पाए. इंडिया की बैटिंग के दौरान ये बात चर्चा में भी रही.

चौथे नंबर पर कोहली का हालिया रिकॉर्ड बहुत ही निराशाजनक रहा. चौथे नंबर पर कोहली की पिछली सात पारियों का रिकॉर्ड बेहद खराब रहा है. 9,4,3,11,12,7 और 16 रनों का स्कोर कोहली के पूरे कैरियर से कतई मेल नहीं खाता.

3. फ़ेल हुआ मिडल ऑर्डर

रोहित शर्मा के आउट होने के बाद धवन और राहुल ने 121 रनों की पार्टनरशिप की. राहुल का विकेट गिरने के बाद भारतीय बल्लेबाज़ लगातार अंतराल पर वापस लौटे. ऋषभ पंत के पास लंबी पारी खेलकर खुद को साबित करने का मौका था. लेकिन उन्होंने एक बार फिर से निराश किया. विराट कोहली और श्रेयस अय्यर के फ़ेल होने के बाद पंत क्रीज़ पर टिकने का दम नहीं दिखा पाए. धोनी वर्ल्ड कप के बाद से टीम से बाहर हैं.

Rishabh Pant Vs Australia
Australia के खिलाफ बैटिंग करते Rishabh Pant

पंत को धोनी के विकल्प के तौर पर लगातार मौके दिए जा रहे हैं, लेकिन वे भरोसा जीत पाने में लगातार नाकाम रहे हैं. अब टीम को नए ऑप्शन्स की तलाश करने चाहिए. वो तो भला हो निचले क्रम के बल्लेबाजों का, जिनके भरोसे टीम 255 तक भी पहुंच पाई.

4. बेदम गेंदबाजी

वानखेड़े में 255 के स्कोर का बचाव करना काफी मुश्किल होता है. लेकिन इंडिया के पास बुमराह और शामी की जोड़ी थी. स्पिन में कुलदीप यादव का साथ था. टीम इंडिया ने शार्दुल ठाकुर को भी मौका दिया था. लेकिन टीम की गेंदबाजी कंगारू बल्लेबाजों के सामने फ़ेल हो गई. बुमराह और शामी ने 7 से ऊपर की रन रेट से रन खरचे. शार्दुल के 5 ओवर में 43 रन बने. टीम इंडिया के खाते में एक भी विकेट नहीं आया.

वहीं ऑस्ट्रेलिया की बैटिंग का कोई जवाब नहीं था. वॉर्नर और फिंच की जोड़ी ने कंगारू की पारी की शुरुआत की और विजयी रन बनाने तक टिके रहे. दोनों ने मिलकर पहले विकेट के लिए नाबाद 258 रन जोड़े. ये वनडे में इंडिया के ख़िलाफ़ किसी भी विकेट विकेट की सबसे बड़ी पार्टनरशिप है.

David Warner And Aaron Finc
Indian Cricket Team के खिलाफ Century मारने वाले David Warner और Aaron Finch

पहले वनडे में ऑस्ट्रेलिया ने इंडिया के पत्ते खोल दिए हैं. टीम इंडिया के इतने सारे लूपहोल्स उभर कर सामने आए कि संभलने का मौका ही नहीं मिला.

कंगारू टीम पहला मैच जीतकर सीरीज में 1-0 की लीड ले चुकी है. तीन मैचों की सीरीज का दूसरा मुकाबला राजकोट में खेला जाएगा. देखना दिलचस्प होगा कि टीम इंडिया अपनी कमजोरियों से पार पा पाती है या नहीं.


वीडियो : क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 की किस बात को धोनी अब तक नहीं भूल पाए हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

आज इस जादूगर की बरसी है.

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

चाचा शरद पवार ने ये बातें समझी होती तो शायद भतीजे अजित पवार धोखा नहीं देते

शुरुआत 2004 से हुई थी, 2019 आते-आते बात यहां तक पहुंच गई.

रिव्यू पिटीशन क्या होता है? कौन, क्यों, कब दाखिल कर सकता है?

अयोध्या पर फैसले के खिलाफ ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड रिव्यू पिटीशन दायर करने जा रहा है.

इन नौ सवालों का जवाब दे दिया, तब मानेंगे आप ऐश्वर्या के सच्चे फैन हैं

कुछ ऐसी बातें, जो शायद आप नहीं जानते होंगे.

अमिताभ बच्चन तो ठीक हैं, दादा साहेब फाल्के के बारे में कितना जानते हो?

खुद पर है विश्वास तो आ जाओ मैदान में.

‘ताई तो कहती है, ऐसी लंबी-लंबी अंगुलियां चुडै़ल की होती हैं’

एक कहानी रोज़ में आज पढ़िए शिवानी की चन्नी.

मोदी जी का बड्डे मना लिया? अब क्विज़ खेलकर देखो कितना जानते हो उनको

मितरों! अच्छे नंबर चइये कि नइ चइये?