Submit your post

Follow Us

PM Cares के पैसे से बने थे वेंटिलेटर, हॉस्पिटल ने कहा, 'ठीक से सांस देने का फ़ीचर ही नहीं है'

दिल्ली के लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल (LNJP) में PM CARES के तहत बने जो वेंटिलेटर भेजे गए थे, वो वेंटिलेटर अपनी बनावट के चलते बहुत ज़्यादा काम के साबित नहीं हो रहे हैं. अस्पताल के डॉक्टरों और अधिकारियों का कहना है कि इन वेंटिलटरों में ICU के मरीज़ों के लिए सबसे ज़रूरी फ़ंक्शन मौजूद ही नहीं है. 

अख़बार ‘इंडियन एक्सप्रेस’ ने ख़बर छापी है. LNJP के डॉक्टरों ने बताया है कि PM Cares के तहत सप्लाई किए गए इन वेंटिलेटरों में BiPAP की सुविधा ही नहीं है. BiPAP यानी Bilevel Positive Airway Pressure. ये मरीज़ को सांस देने का वो तरीक़ा है, जिसके तहत मरीज के मुंह और नाक से सांस की नली नहीं डालनी पड़ती है. बस एक मास्क पहनाना होता है, जिससे मरीज़ के शरीर में जा रही सांस में ज़्यादा से ज़्यादा ऑक्सीजन भेजा जा सके. BiPAP की सुविधा आमतौर पर वेंटिलेटरों में होती है. इसके होने से मरीज़ के शरीर में कोई नली नहीं लगानी पड़ती है, जिससे उसके शरीर में संक्रमण का भी ख़तरा कम हो जाता है. ये जो PM Cares वाले वेंटिलेटर हैं, इनमें BiPAP ने होने के कारण मरीज़ों को सांस की नली लगानी ही पड़ेगी.

कोरोना के बढ़ते संक्रमण में वेंटिलेटर बनाए गए. और अब गड़बड़ निकलने लगे.
कोरोना के बढ़ते संक्रमण में वेंटिलेटर बनाए गए. और अब गड़बड़ निकलने लगे.

अस्पताल ने दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग के डायरेक्टर जनरल को लेटर लिखकर इस मशीन का फ़ीडबैक दे दिया है. डॉक्टर नाम न छापने की शर्त पर बताते हैं,

“हमारे यहां बहुत कम मरीज़ों को सांस की नली लगाने की ज़रूरत होती है. और आमतौर पर अपने मरीज़ों को हम शरीर में बिना कोई छेद किए या बिना कोई चीरा लगाए वेंटिलेशन देते हैं. लेकिन PM Cares के तहत दिए गए वेंटिलेटरों का अगर इस्तेमाल किया जाए, तो चीरा लगाना पड़ेगा. और हमारे यहां के 10-15 प्रतिशत मरीज़ों को ही ये PM Cares वाले वेंटिलेटर लगाए जा सकते हैं. हमारे लिए ये मशीन बहुत कम काम की हैं.”

डॉक्टर ने BiPAP सुविधा के फ़ायदे बताए,

“आप सांस की नली लगाते हैं, तो मरीज़ को प्राकृतिक रूप से सांस लेने में कोई मदद नहीं मिलती है. BiPAP इसमें मदद करता है.”

इसके अलावा इन वेंटिलटरों में एक और दिक़्क़त है. डॉक्टरों ने बताया है कि जब वे मरीज़ों को बहुत ज़्यादा ऑक्सीजन देते हैं, तो आम वेंटिलेटर 40-50 लीटर ऑक्सीजन प्रति मिनट देते हैं, लेकिन नए वेंटिलेटर 25 लीटर प्रति मिनट से ज़्यादा ऑक्सीजन नहीं दे पा रहे हैं. 

LNJP अस्पताल में कुल 175 वेंटिलेटर आए हैं. इनमें से 155 मैसूर स्थिति Skanray Technologies ने बनाए हैं. और 20 वेंटिलेटर AgVA हेल्थकेयर ने बनाए हैं. AgVA हेल्थकेयर के को-फ़ाउंडर प्रोफेसर दिवाकर वैश ने कहा है कि वेंटिलेटर में BiPAP मशीन लगी हुई है, लेकिन अस्पताल ने ही उसे वेंटिलेटर से ठीक से जोड़ा नहीं. 

फ़िलहाल इस समस्या से निपटने के लिए अस्पताल ने अधिकारियों से 250 BiPAP मशीनों की मांग की है, जिसे इन वेंटिलेटर से जोड़कर काम लायक बनाया जाएगा. 

पहले भी आयी हैं समस्याएं 

दिल्ली के LNJP अस्पताल में AgVA के बनाए गए और PM Cares की फ़ंडिंग से बने वेंटिलटरों का ख़राब होना कोई पहला मुद्दा नहीं है. इसके पहले मुंबई के दो अस्पतालों में PM CARES के तहत बने AgVA वेंटिलेटर्स पर जब कोरोना के मरीज़ों को रखा गया, तो भी मरीज़ सांस नहीं ले पा रहे थे. ऐसे कुल 81 वेंटिलेटर गड़बड़ निकले. और दोनों अस्पतालों ने इन्हें बनाने वाली कम्पनी से इन्हें वापस ले जाने को कहा. सेंट जॉर्ज अस्पताल में गए 39 वेंटिलेटर और जेजे अस्पताल में गए 42 वेंटिलेटर ख़राब निकले. 19 जून को दिए गए अपने फ़ीडबैक में सेंट जॉर्ज अस्पताल के डॉक्टरों ने कहा कि इन वेंटिलेटरों के टेस्ट रन में ही ऑक्सीजन सप्लाई में 10 प्रतिशत का अंतर देखने को मिला था. एक वेंटिलेटर तो पावर सप्लाई देने के 5 मिनट के अंदर ही फ़ेल हो गया. और जब ICU के मरीज़ों को इन AgVA वेंटिलेटर पर डाला गया, तो उसके भीतर का ऑक्सीजन लेवल आशा के अनुरूप नहीं बढ़ा.

AgVa वेंटिलेटर. मुंबई के दो अस्पतालों ने बनाने वाली कम्पनी से कहा है कि इसे अब ले जाइए.
AgVa वेंटिलेटर. मुंबई के दो अस्पतालों ने बनाने वाली कम्पनी से कहा कि इसे अब ले जाइए.

100 परसेंट पर भी AgVa वेंटिलटरों को सेट करने के बाद मरीज़ों का ऑक्सीजन लेवल 86 प्रतिशत के ऊपर नहीं बढ़ रहा था. लेकिन जैसे ही मरीज़ों को दूसरे वेंटिलटरों पर डाला गया, उनका ऑक्सीजन लेवल तुरंत सुधरने लगा. 

इसके पहले अहमदाबाद के सिविल अस्पताल के मेडिकल सुपरिंडेंट जेवी मोदी ने कहा कि AgVa वेंटिलेटर पर जब मरीजों को रखा गया, तो अस्पताल को जो नतीजे चाहिए थे, वो नहीं मिल रहे थे.

इन मुद्दों पर भी जब बनाने वाली कम्पनियों से बात की गयी, तो कम्पनी ने कहा कि वेंटिलेटर बिलकुल ठीक हैं.

क्या है इन वेंटिलेटरों की कहानी?

केंद्र सरकार ने 23 जून को पीएम केयर्स फंड से दो हज़ार करोड़ रुपए जारी किए. 50 हज़ार ‘मेड इन इंडिया’ वेंटिलेटर्स की सप्लाई के लिए. लाइव मिंटके मुताबिक, इनमें 30 हज़ार वेंटिलेटर भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (BEL) बना रहा है. बाकी के लिए AgVa हेल्थकेयर, AMTZ Basic, AMTZ हाई एंड और एलाइड मेडिकल जैसी कंपनियां काम कर रही हैं.


वीडियो : PM CARES फंड के तहत बनाए गए देसी वेंटिलेटर ऐसी हालत में पाए गए हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

उनके गाए 'पल' गाने के बगैर आज भी किसी कॉलेज का फेयरवेल पूरा नहीं होता.

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

आन्हां, ऐसे नहीं कि योग बस किए, दिखाना पड़ेगा कि बुद्धिबल कित्ता बढ़ा.

तमिल जनता आखिर क्यों कर रही है 'फैमिली मैन-2' का विरोध, क्या है LTTE की पूरी कहानी?

तमिल जनता आखिर क्यों कर रही है 'फैमिली मैन-2' का विरोध, क्या है LTTE की पूरी कहानी?

जब ट्रेलर आया था, तबसे लगातार विरोध जारी है.

माधुरी से डायरेक्ट बोलो 'हम आपके हैं फैन'

माधुरी से डायरेक्ट बोलो 'हम आपके हैं फैन'

आज जानते हो किसका हैप्पी बड्डे है? माधुरी दीक्षित का. अपन आपका फैन मीटर जांचेंगे. ये क्विज खेलो.

जिन मीम्स को सोशल मीडिया पर शेयर कर चौड़े होते हैं, उनका इतिहास तो जान लीजिए

जिन मीम्स को सोशल मीडिया पर शेयर कर चौड़े होते हैं, उनका इतिहास तो जान लीजिए

कौन सा था वो पहला मीम जो इत्तेफाक से दुनिया में आया?

पार्टियों को चुनाव निशान के आधार पर पहचानते हैं आप?

पार्टियों को चुनाव निशान के आधार पर पहचानते हैं आप?

चुनावी माहौल में क्विज़ खेलिए और बताइए कितना स्कोर हुआ.

लगातार दो फिफ्टी मारने वाले कोहली ने अब कहां झंडे गाड़ दिए?

लगातार दो फिफ्टी मारने वाले कोहली ने अब कहां झंडे गाड़ दिए?

राहुल के साथ यहां भी गड़बड़ हो गई.

रोहित शेट्टी के ऊपर ऐसी कड़क Quiz और कहां पाओगे?

रोहित शेट्टी के ऊपर ऐसी कड़क Quiz और कहां पाओगे?

14 मार्च को बड्डे होता है. ये तो सब जानते हैं, और क्या जानते हो आके बताओ. अरे आओ तो.

आमिर पर अगर ये क्विज़ नहीं खेला तो दोगुना लगान देना पड़ेगा

आमिर पर अगर ये क्विज़ नहीं खेला तो दोगुना लगान देना पड़ेगा

म्हारा आमिर, सारुक-सलमान से कम है के?

परफेक्शनिस्ट आमिर पर क्विज़ खेलो और साबित करो कितने जाबड़ फैन हो

परफेक्शनिस्ट आमिर पर क्विज़ खेलो और साबित करो कितने जाबड़ फैन हो

आज आमिर खान का हैप्पी बड्डे है. कित्ता मालूम है उनके बारे में?