Submit your post

Follow Us

वो महान गायक, जिसने इस देश में सबसे ज़्यादा बजनेवाला देशभक्ति गीत गाया है

950
शेयर्स

26 जनवरी और 15 अगस्त. झंडा उठाए हम इन दोनों दिनों के लिए सुबह-सुबह तैयार हो स्कूल पहुंचते थे. मानो पाकिस्तान को हरा के ही घर लौटना है. स्कूल में इन दो दिन बड़े-बड़े स्पीकर पर देशभक्ति के गीत बजते थे. कई गीतों के बीच कुछ गीत आज भी याद हैं, जैसे – ‘मेरे देश की धरती’, ‘भारत का रहने वाला हूं, भारत की बात सुनाता हूं’, ‘मेरा रंग दे बसंती चोला’, फिलहाल इतना ही याद आ रहा है. इन गीतों को आवाज देने वाले महेंद्र कपूर का जन्म 9 जनवरी, 1934 को हुआ था. आइये जानते है महेंद्र कपूर के लाइफ और करियर से जुड़े कुछ दिलचस्प किस्से:

करियर स्टार्ट होने से पहले ही ख़त्म हो जाता

महेंद्र कपूर ने ‘नवरंग’ फिल्म के ‘आधा है चन्द्रमा, रात आधी’ गीत से अपने सिंगिंग करियर की शुरुआत की थी. गाना डुएट था. आशा भोंसले के साथ. इसका म्यूज़िक कंपोज़ किया था सी. रामचंद्र ने. पहला गाना होने के चलते महेंद्र कपूर नर्वसाए हुए थे. ऊपर से रिकॉर्डिंग वाले कमरे में आशा के साथ गाना था. लेकिन रामचंद्र तक महेंद्र कपूर की आवाज पहुंच नहीं पा रही थी. रामचंद्र ने आशा के पास जाकर कहा कि महेंद्र आज नर्वस हैं बाद में रिकॉर्ड करेंगे. आशा ने बताया की कमरे में तो महेंद्र सही गा रहे हैं और उनको वहीं सुनने के लिए कहा. यहां वाकई उनकी आवाज सही आ रही थी. फिर पता लगा कि महेंद्र तो सही गा रहे हैं, लेकिन केबल की तार माइक्रोफोन से कनेक्टेड नहीं है. म्यूजिक डायरेक्टर तक आवाज इसलिए नहीं पहुंच पा रही थी. महेंद्र मानते हैं कि भगवती सरस्वती का आशीर्वाद था, इसीलिए कामयाबी मिली वरना करियर स्टार्ट होने से पहले ही ख़त्म हो जाता.

पहली रेकॉर्डिंग से पहले महेंद्र कपूर नर्वस है.
एक गाने की रिकॉर्डिंग के दौरान महेंद्र कपूर. 

नए दौर के गीतों में कम वक़्त दिया जा रहा है

महेंद्र कपूर का मानना था कि नए दौर के गीत, संगीत के लिए जितना वक़्त दिया जाना चाहिए उतना नहीं दिया जा रहा है. जल्दबाज़ी में गाने बनाए जा रहे हैं. पुराने गाने आत्मा में रच-बस जाते थे, क्योंकि उसके लिए कई महीने पहले ही लिरिसिस्ट को गीत के सिचुएशन के बारे में बता दिया जाता था. कई दफ़ा रिहर्सल किया जाता था. यह एक प्रमुख कारण हो सकता है कि नए गीत रूह तक कम पहुंच रहे हैं.

कम से कम एक घंटे का रियाज़

महेंद्र कपूर सुबह-सुबह रियाज़ करना पसंद करते थे. इनका मानना था – कम से कम एक घंटे का रियाज़ किया जाना चाहिए. रियाज़ के लिए कोई तय वक़्त और समय सीमा नहीं है. आप जितना रियाज़ करने उतना बेहतर करेंगे.

12 साल की उम्र में रफ़ी के पास पहुंच गए थे

महेंद्र मो. रफ़ी को बहुत मानते थे. बारह साल की उम्र में रफ़ी के पास पहुंच गए थे. गीत-संगीत के गुर सीखने के लिए रफ़ी के शागिर्द बन गए. रफ़ी जहां भी जाते, वे भी पहुंच जाते. चाहे कहीं कोई रिहर्सल हो या फिर कोई मीटिंग. रफ़ी ने इनको एक बार समझाते हुए कहा था कि आप कब तक मेरी नकल करते रहेंगे. शास्त्रीय संगीत सीख लें, तो आसानी होगी. इसके बाद ही महेंद्र ने शास्त्रीय संगीत सीखी थी.

रफ़ी के कहने के बाद इन्होनें शास्त्रीय संगीत सीखी.
रफ़ी के कहने के बाद इन्होनें शास्त्रीय संगीत सीखी.

पापा कपड़े बेचते थे

महेंद्र कपूर के पापा कपड़े बेचने का काम करते थे और परिवार में संगीत को लेकर कोई ख़ास दिलचस्पी नहीं थी. मां को संगीत से थोड़ा बहुत लगाव था और बाकी बचा खुचा महेंद्र को था. कई बार जब मोहम्मद रफ़ी महेंद्र के घर आते, तो उनकी मां के हाथों की बनी छोले-पूरी खाते.

फिल्मों में गाए इनके कई गाने सुपरहिट रहे. साथ ही इनका गाया रामानंद सागर कृत महाभारत का थीम सॉन्ग भी लोगों के बीच काफी पसंद किया गया. ‘चलो इक बार फिर से अजनबी बन जाएं हम दोनों’ (गुमराह, 1963), ‘नीले गगन के तले’ (हमराज़, 1967), ‘मेरा प्यार वो है’ (ये रात फिर न आएगी, 1966) सहित कई गानों को अपनी आवाज़ देने वाले महेंद्र को 1972 में पद्मश्री दिया गया. 27 सितंबर, 2008 को महेंद्र कपूर ने अपनी आखिरी सांस ली थी.


वीडियो: जिन्हें वेब सीरीज का चस्का है उनके लिए ज़रूरी है ये लिस्ट

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Anecdotes form the life of veteran singer Mahendra Kapoor

कौन हो तुम

रोहित शेट्टी के ऊपर ऐसी कड़क Quiz और कहां पाओगे?

14 मार्च को बड्डे होता है. ये तो सब जानते हैं, और क्या जानते हो आके बताओ. अरे आओ तो.

परफेक्शनिस्ट आमिर पर क्विज़ खेलो और साबित करो कितने जाबड़ फैन हो

आज आमिर खान का हैप्पी बड्डे है. कित्ता मालूम है उनके बारे में?

चेक करो अनुपम खेर पर अपना ज्ञान और टॉलरेंस लेवल

अनुपम खेर को ट्विटर और व्हाट्सऐप वीडियो के अलावा भी ध्यान से देखा है तो ये क्विज खेलो.

Quiz: आप भोले बाबा के कितने बड़े भक्त हो

भगवान शंकर के बारे में इन सवालों का जवाब दे लिया तो समझो गंगा नहा लिया

आजादी का फायदा उठाओ, रिपब्लिक इंडिया के बारे में बताओ

रिपब्लिक डे से लेकर 15 अगस्त तक. कई सवाल हैं, क्या आपको जवाब मालूम हैं? आइए, दीजिए जरा..

जानते हो ह्रतिक रोशन की पहली कमाई कितनी थी?

सलमान ने ऐसा क्या कह दिया था, जिससे हृतिक हो गए थे नाराज़? क्विज़ खेल लो. जान लो.

राजेश खन्ना ने किस हीरो के खिलाफ चुनाव लड़ा और जीता था?

राजेश खन्ना के कितने बड़े फैन हो, ये क्विज खेलो तो पता चलेगा.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

फवाद पर ये क्विज खेलना राष्ट्रद्रोह नहीं है

फवाद खान के बर्थडे पर सपेसल.

दुनिया की सबसे खूबसूरत महिला के बारे में 9 सवाल

कुछ ऐसी बातें, जो शायद आप नहीं जानते होंगे.