Submit your post

Follow Us

वो क्रिकेटर, जिस पर एक मीटर से छह गोलियां चलीं, फिर भी नौ साल तक खेल गया!

अगर आपने ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ फिल्म देखी होगी, तो आप जानते होंगे कि फिल्म में कितना खून-खराबा, गोली-कारतूस दिखे हैं. लेकिन क्रिकेट जगत में एक ऐसा क्रिकेटर भी रहा है, जिसकी लाइफ में उसका गोलियों और बंदूकों से खूब वास्ता हुआ है. वास्ता ही नहीं हुआ, उन गोलियों से बचते-बचाते वो सालों-साल अपने देश के लिए क्रिकेट भी खेला.

हम बात कर रहे हैं साउथ अफ्रीका के एक ऐसे क्रिकेटर की, जिसे आप ओपनिंग करने बोल दो, कर लेगा, छठे-सातवें नंबर पर तेज़ हिटिंग करने बोल दो, कर लेगा. फील्डिंग आए, तो फील्डिंग करवा लो, गलव्स दे दो, विकेटकीपिंग कर लेगा. कप्तान कहे कि बोलिंग कर लो, तो पहला ओवर भी डालने को तैयार. नाम है एंड्र्यू हॉल. वैसे तो इस क्रिकेटर ने सिर्फ 21 टेस्ट और 88 वनडे मैच ही खेले, लेकिन फिर भी उन्होंने लगभग नौ साल तक साउथ अफ्रीका क्रिकेट में अपनी जगह बनाए रखी.

खैर, आज हम आपको बताएंगे उनकी लाइफ के ऐसे दो इंसिडेंट्स के बारे में, जब उन पर बंदूकें तनीं, गोलियां चलीं और फिर भी वो बच निकले.

एक मीटर दूर से बदमाशों ने दागीं छह गोलियां

साल 1998 में हॉल डरबन में एक मैच खेलकर लौट रहे थे. एयरपोर्ट से वो अपनी नई गाड़ी में बैठे और निकल दिए. हॉल के साथ उनकी गर्लफ्रेंड भी थी. वो गाड़ी लेकर निकले और पहले अपनी गर्लप्रेंड को उनके घर छोड़ा. इसके बाद गाड़ी में पेट्रोल खत्म होने वाली लाल लाइट जलने लगे. हॉल के पास कैश नहीं था. वो घर जाने से पहले घर के पास के ही एटीएम में पैसे निकालने पहुंच गए, जिससे की वो गाड़ी में पेट्रोल डलवा सके.

हॉल एटीएम में पहुंचे. पैसे निकाले और लेन-देन पूरा करके वो जैसे ही पलटे, देखा कि पीछे दो आदमी खड़े थे. दोनों में से एक आदमी के हाथ में बंदूक भी थी. लेकिन उन बंदों ने ना तो पैसे मांगे, ना कुछ कहा. एक मीटर की दूरी से सीधे बंदूक हॉल पर तानी. प्वॉइंट ब्लैंक यानी बिल्कुल पास से एक के बाद एक छह गोलियां दागनी शुरू कर दीं.

गोलियां चलने से पहले हॉल ने बंदूक अपनी तरफ बढ़ती देखते ही हाथ ऊपर उठा लिया और खुद झुक गए. पहली गोली सीधे उनके हाथ में लगी. दूसरी गोली उनके गाल में लगी और वो नीचे गिर गए. हालांकि हॉल की किस्मत अच्छी रही कि बाकी की चार गोलियां उन्हें लगने से चूक गई.

Shooting
Representative Image

बदमाश वहां से भाग चुके थे.

आसपास के लोगों ने देखा और तुरंत हॉल को अस्पताल पहुंचाया, जहां पर उनके हाथ से गोली निकाली गई. उनके गाल को साफ किया गया. किस्मत अच्छी थी कि गाल पर लगी गोली उनके गाल को छूकर निकली और वो बच गए. गोलियां के बहुत से छर्रे उनकी उंगली और आंख में भी चुभे थे. गोलियां का बारूद से उनके चेहरे पर भारी जलन हो रही थी.

हालांकि हॉल की किस्मत अच्छी रही और प्वॉइंट ब्लैंक यानी एक मीटर की दूरी से छह गोलियां लगने के बाद भी वो बच निकले, क्योंकि अभी उन्हें साउथ अफ्रीका के लिए क्रिकेट खेलना था.

धार्मिक स्वभाव वाले हॉल ने साधना से खुद को इस घटना को भुलाकर आगे बढ़ाया. लेकिन अब टीम में सलेक्शन नहीं हो रहा, तो मन में विचार आया कि अब ऑस्ट्रेलिया चला जाए. ऑस्ट्रेलिया में खेलने के लिए उन्हें कॉन्ट्रेक्ट भी मिल रहा था. लेकिन आखिरकार उन्होंने मन बदला और 1999 में उन्हें टीम में मौका मिल गया.

तीन साल बाद फिर से मौत के सामने आ खड़े हुए हॉल

पहली बार जब बदमाशों ने हॉल पर बंदूक तानी, तो समझ सकते हैं कि इस बार बदमाशों ने उन्हें नहीं पहचाना होगा. लेकिन ये क्या, एक बार फिर से मुश्किल में फंस गए एंड्र्यू हॉल. एक बार फिर से बदमाश ने उन पर बंदूक तान दी.

इस घटना के तीन बाद अब एंड्र्यू हॉल क्रिकेट जगत का जाना-पहचाना नाम बन चुके थे. अब उन्हें अपनी पुरानी कार बेचनी थी. ये बात उन्होंने डीलर को बता दी. इसके बाद कुछ लोगों ने हॉल की गाड़ी में दिलचस्पी दिखाई.

हॉल ने गाड़ी खरीदने वालों से बात की और अपने घर के पास एक शॉपिंग मॉल के पास खरीदार से मिलने की बात फिक्स कर ली. हॉल गाड़ी लेकर शॉपिंग मॉल के बाहर पहुंच गए. वहां पर गाड़ी खरीदने वाले भी आए. खरीदार ने गाड़ी देखी और उसे टेस्ट ड्राइव पर ले जाने की बात की. लेकिन हॉल ने जान-पहचान के बिना इससे इनकार कर दिया.

ENG vs WI: तीसरे टेस्ट में इंग्लैंड ने जमाया विज़डन ट्रॉफी पर कब्ज़ा, डोम बेस के साथ क्या हुआ:


लेकिन बस हॉल का मना करना उन्हें नागवार गुज़रा. गाड़ी देखने आए दो में से एक शख्स ने हॉल पर बंदूक तान दी. उन्होंने हॉल को धक्का देकर पिछली सीट पर बिठा दिया. दोनों शख्स गाड़ी में चढ़े और एक ने बंदूक हॉल पर तान दी. इसके बाद वो दोनों शख्स लगभग 40 मिनट तक जोहानिसबर्ग के आसपास गाड़ी घुमाते रहे. वो चैक कर रहे थे कि कहीं गाड़ी में कोई ट्रेकिंग सिस्टम तो नहीं लगा हुआ. हॉल से भी ट्रेकिंग के बारे में पूछा. उन्होंने इनकार किया, तो बदमाशों ने हॉल को धमकी दी अगर वो झूठ बोल रहे हैं, तो वो आज जान गंवाने वाले हैं.

लेकिन गाड़ी घुमाने के बाद जब उन्हें ये तसल्ली हो गई कि इस गाड़ी में कोई ट्रेकिंग सिस्टम नहीं है, तो उन्होंने हॉल को Soweto के बाहर उतार दिया. साथ ही ये भी कहा-

‘एक आदमी तुम पर नज़र रख रहा है. अगर अगले एक घंटे तक उस जगह से हिले, तो वो तुम्हें गोली मार देगा.’

इस घटना में हॉल की गाड़ी तो चली गई, लेकिन जैसे-तैसे उनकी जान बची. जैसे ही बदमाश वहां से फरार हुए, तो हॉल पास के गैस स्टेशन पर गए, पुलिस को फोन करके रिपोर्ट दर्ज कराई.

एंड्र्यू हॉल ने इसके बाद लगभग छह साल साउथ अफ्रीका के लिए क्रिकेट खेला. 1700 रन बनाए और 143 विकेट चटकाए. साल 2007 में टी20 टीम से बाहर रखे जाने की वजह से उन्होंने रिटायरमेंट अनाउंस कर दिया.


ENG vs WI: स्टुअर्ट ब्रॉड के 500 विकेट के साथ इंग्लैंड ने जीती विज़डन ट्रॉफी: 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

सौरव गांगुली पर क्विज़!

सौरव गांगुली पर क्विज़. अपना ज्ञान यहां चेक कल्लो!

कॉन्ट्रोवर्सियल पेंटर एमएफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

एमएफ हुसैन की पेंटिंग और विवाद के बारे में तो गूगल करके आपने खूब जान लिया. अब ज़रा यहां कलाकारी दिखाइए.

'हिटमैन' रोहित शर्मा को आप कितना जानते हैं, ये क्विज़ खेलकर बताइए

आज 33 साल के हो गए हैं रोहित शर्मा.

क्विज़: खून में दौड़ती है देशभक्ति? तो जलियांवाला बाग के 10 सवालों के जवाब दो

जलियांवाला बाग कांड के बारे में अपनी जानकारी आप भी चेक कर लीजिए.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

आज इस जादूगर की बरसी है.

इन नौ सवालों का जवाब दे दिया, तब मानेंगे आप ऐश्वर्या के सच्चे फैन हैं

कुछ ऐसी बातें, जो शायद आप नहीं जानते होंगे.