Submit your post

Follow Us

ये जो उर्दू है, उसे यहां से सुनिए...

उर्दू को और उसमें मौजूद अदब को कैसे बचाया और संभाला जाए, इसे लेकर इतनी बातें सुनाई पड़ती हैं कि कान दर्द करने लगते हैं.

इस तरह की बातों से बहुत दूर कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो चुपचाप अपने काम में लगे रहते हैं. ये काम को इश्क समझते हैं और इनका काम होता है भाषा और उसमें मौजूद अदब को समाज के लिए संभालना-बचाना.

‘अदबी दुनिया’ नाम का एक ब्लॉग ऐसी ही कोशिशों में लगा हुआ है. यहां संसाधन सीमित हैं, लेकिन हौसला बेहद बड़ा है.

इन दिनों ‘अदबी दुनिया’ ऑडियो लिटरेचर को लेकर की गई अपनी पहल से कुछ चर्चा में है. यू-ट्यूब पर ‘अदबी दुनिया’ ने एक चैनल के जरिए गए 10 महीनों में करीब 150 ऑडियो फाइल्स अपलोड की हैं. बेहतरीन उर्दू फिक्शन, शाइरी और दूसरी भाषाओँ के साहित्य से कुछ चुनिंदा अनुवादों के सहारे यह सिलसिला चल निकला है.

मंटो को समग्रता में यहां कुछ दिनों में पूरा सुना जा सकेगा.

अदबी दुनिया पर मंटो का एक खत यहां सुनिए :

समाज में साहित्य को सुनाना उसे नए माध्यमों के बीच नए सिरे से आगे बढ़ाना भी है. सआदत हसन मंटो, उपेंद्रनाथ अश्क, नैयर मसऊद, सैयद मुहम्मद अशरफ़, ख़ालिद जावेद, ज़किया मशहदी, जावेद सिद्दीक़ी जैसे उर्दू कहानीकारों की कहानियां और मज़ीद अमजद, मीराजी, जावेद अनवर, अज़रा अब्बास और शारिक़ कैफ़ी की शाइरी सुनते हुए इस प्रयोग की शक्ति पता चलती है.

हालांकि इससे जुड़ी दिक्कतें अपनी जगह हैं. जैसे उच्चारण का मसला है, जैसे सीमित संसाधनों का मसला है, जैसे कॉपीराइट का मसला है. इस पर ‘अदबी दुनिया’ के संचालक और युवा उर्दू लेखक तस्नीफ़ हैदर कहते हैं :

‘‘हमने शुरू से लेकर अब तक बगैर किसी कानूनी पॉलिसी के इस लिटरेचर को रिकॉर्ड किया है. इसकी वजह यह थी कि हम तमाम तरह की साहित्यिक रचनाओं को इस चैनल के माध्यम से लोगों तक पहुंचाना चाहते थे. हमारा ब्लॉग चलते हुए 2 साल से ज्यादा हो गए हैं. उस पर भी जरूरी साहित्य को यूनीकोड में अपलोड करने का सिलसिला जारी है.’’

‘अदबी दुनिया’ का दायरा और बढ़ सके, इसके लिए इसे जल्द ही एक वेबसाइट में तब्दील करने की कोशिश भी तस्नीफ़ और उनके साथी कर रहे हैं. कभी उर्दू की मशहूर वेबसाइट ‘रेख्ता’ के लिए काम कर चुके तस्नीफ़ हैदर जब ‘हम’ कहते हैं तो उनका इशारा अपने इन्हीं साथियों की तरफ होता है :

‘‘हमारी कोशिशों को पसंद किया जा रहा है और हमारी आलोचना भी हो रही है. जाहिर है कि हमें इस कार्यक्षेत्र का बहुत तजुर्बा नहीं है और अपने सीमित साधनों से ही हम जो बेहतर कर सकते हैं, कर रहे हैं. हमने उच्चारण शुद्ध रखने की हर संभव कोशिश की, ताकि उर्दू भाषा को सुन कर सीखने वाला कोई भी व्यक्ति कुछ गलत न सीखे और न ही किसी भाषाविद् को इस पर कोई आपत्ति हो.

शुरू में हमारे पास कोई स्टूडियो नहीं था, दिन में कमरे के बाहर कुकर की सीटी बजती, छत के ऊपर से कोई हवाई जहाज गड़गड़ाता हुआ गुजरता या फिर घर के किसी सदस्य को छींक भी आ जाती तो हमें लंबे-लंबे वाक्यों को फिर से बोलने के लिए रुकना पड़ता. इसका इलाज हमने इस तरह ढूंढ़ निकाला कि रात को बैठ कर रिकॉर्डिंग करनी शुरू की.’’

adbi

तस्नीफ़ और उनके साथी उर्दू को लेकर तमाम आग्रहों से मुक्त नजर आते हैं. ‘अदबी दुनिया’ को उन्होंने लिपि के बंधनों से आजाद रखा है और उर्दू के चाहने वालों पर उनकी नजर है. बकौल तस्नीफ़ :

‘‘हम लिपि के झगड़ों से आगे निकल कर भाषा के लिए काम करना चाहते हैं. हम कठमुल्लों और जटाधारियों, दोनों के ही जुल्म के खिलाफ हैं. हमारा मानना है कि उर्दू हिंदी से अलग न कोई चीज थी और न है और न ही आगे कभी होगी. सियासी झगड़े पैदा करने वाले कुछ बगैर दाढ़ी और चोटी के मौलवियों, पंडितों ने हिंदी-उर्दू के बीच द्वेष की इस तार को मजबूत किया है और धीरे-धीरे इसे एक मोटी दीवार में तब्दील कर दिया है ताकि इधर वाले उधर और उधर वाले इधर की जिंदगियों को जानने और समझने से महरूम रह जाएं. हम 70 सालों से अपने ही अक्स और अपने ही जैसे सादा इंसानों से लड़ रहे हैं, जिनकी हकीकत न कल हम से अलग थी और न आज है.’’

अब आगे और क्या कहा जाए, सिर्फ ‘आमीन’ ही कहा जा सकता है.

‘अदबी दुनिया’ के यू-ट्यूब चैनल का लिंक नीचे दिया गया है. इस मुहिम से जुड़े. इसे देखें, सुनें, सब्सक्राइब करें और इस उर्दू की इस दुनिया को देश-दुनिया के कोने-कोने तक पहुंचाएं :

अदबी दुनिया

***

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

ये क्विज जीत नहीं पाए तो तुम्हारा बचपन बेकार गया

ये क्विज जीत नहीं पाए तो तुम्हारा बचपन बेकार गया

आज कार्टून नेटवर्क का हैपी बड्डे है.

रणबीर कपूर की मम्मी उन्हें किस नाम से बुलाती हैं?

रणबीर कपूर की मम्मी उन्हें किस नाम से बुलाती हैं?

आज यानी 28 सितंबर को उनका जन्मदिन होता है. खेलिए क्विज.

करीना कपूर के फैन हो तो इ वाला क्विज खेल के दिखाओ जरा

करीना कपूर के फैन हो तो इ वाला क्विज खेल के दिखाओ जरा

बेबो वो बेबो. क्विज उसकी खेलो. सवाल हम लिख लाए. गलत जवाब देकर डांट झेलो.

रवनीत सिंह बिट्टू, कांग्रेस का वो सांसद जिसने एक केंद्रीय मंत्री के इस्तीफे का प्लॉट तैयार कर दिया!

रवनीत सिंह बिट्टू, कांग्रेस का वो सांसद जिसने एक केंद्रीय मंत्री के इस्तीफे का प्लॉट तैयार कर दिया!

17 सितंबर को किसानों के मुद्दे पर बिट्टू ऐसा बोल गए कि सियासत में हलचल मच गई.

मोदी जी का बड्डे मना लिया? अब क्विज़ खेलकर देखो उनको कितना जानते हो मितरों

मोदी जी का बड्डे मना लिया? अब क्विज़ खेलकर देखो उनको कितना जानते हो मितरों

अच्छे नंबर चइये कि नइ चइये?

KBC में करोड़पति बनाने वाले इन सवालों का जवाब जानते हो कि नहीं, यहां चेक कर लो

KBC में करोड़पति बनाने वाले इन सवालों का जवाब जानते हो कि नहीं, यहां चेक कर लो

करोड़पति बनने का हुनर चेक कल्लो.

विधायक विजय मिश्रा, जिन्हें यूपी पुलिस लाने लगी तो बेटियां बोलीं- गाड़ी नहीं पलटनी चाहिए

विधायक विजय मिश्रा, जिन्हें यूपी पुलिस लाने लगी तो बेटियां बोलीं- गाड़ी नहीं पलटनी चाहिए

चलिए, विधायक जी की कन्नी-काटी जानते हैं.

नेशनल हैंडलूम डे: और ये है चित्र देखो, साड़ी पहचानो वाली क्विज

नेशनल हैंडलूम डे: और ये है चित्र देखो, साड़ी पहचानो वाली क्विज

कभी सोचा नहीं होगा कि लल्लन साड़ियों पर भी क्विज बना सकता है. खेलो औऱ स्कोर करो.

सौरव गांगुली पर क्विज़!

सौरव गांगुली पर क्विज़!

सौरव गांगुली पर क्विज़. अपना ज्ञान यहां चेक कल्लो!

कॉन्ट्रोवर्सियल पेंटर एमएफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

कॉन्ट्रोवर्सियल पेंटर एमएफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

एमएफ हुसैन की पेंटिंग और विवाद के बारे में तो गूगल करके आपने खूब जान लिया. अब ज़रा यहां कलाकारी दिखाइए.