Thelallantop

कोहली के हीरो पर टिकीं ऑस्ट्रेलिया का T20I इतिहास बदलने की उम्मीदें!

आरोन फिंच, ग्लेन मैक्सवेल और मिचेल स्टार्क ( फोटो क्रेडिट : AFP)

ऑस्ट्रेलिया. वनडे में पांच बार की विश्व चैंपियन. लेकिन T20 में एक भी खिताब नहीं. ऑस्ट्रेलिया ने 2010 T20 World Cup में फाइनल तक का सफर तय किया था. जहां उन्हें इंग्लैंड के हाथों शिकस्त झेलनी पड़ी थी. इसके बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम कभी भी फाइनल में जगह नहीं बना सकी. आखिरी बार ऑस्ट्रेलिया ने 2012 T20 विश्व कप में सेमीफाइनल तक का सफर तय किया था.

टेस्ट और वनडे फॉर्मेट पर राज कर चुकी ऑस्ट्रेलिया T20 विश्व कप में औसत टीम ही नजर आयी है. इनके हालिया प्रदर्शन पर नजर डालें तो पता चलता है कि ऑस्ट्रेलिया को पिछली पांच T20 सीरीज में हार झेलनी पड़ी और टीम अभी ICC T20 रैंकिंग में सातवें स्थान पर है. हालांकि इसके बाद भी इस टीम को T20 World Cup 2021 जीतने के दावेदारों में से एक माना जा रहा है. और इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे उन पांच प्लेयर्स के बारे में, जिनके दम पर ये लोग ऐसा सोच रहे हैं.

# Aaron Finch

ऑस्ट्रेलिया के कप्तान आरोन फिंच का T20 फॉर्मेट में अलग ही रुतबा है. खतरनाक बल्लेबाज माने जाते हैं. सिर्फ 76 पारियों में 2473 रन बना चुके हैं. इस दौरान फिंच के नाम दो शतक और 15 अर्धशतक दर्ज है. ओवरऑल T20 क्रिकेट में फिंच ने आठ शतक लगाए हैं. और 9845 रन बना चुके हैं. क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट में एरोन फिंच बड़े खिलाड़ी हैं. और T20 विश्वकप में उन्हें हर हाल में अपनी प्रतिष्ठा के अनुरूप प्रदर्शन करना होगा.

कुछ वक्त पहले तक अपने घुटने से परेशान रहे फिंच सर्जरी के बाद पूरी तरह से फिट होकर मैदान पर लौट चुके हैं. फिंच को UAE में खेलने का अनुभव भी है. पिछले IPL सीजन वह RCB का हिस्सा थे. हालांकि इस दौरान उनका प्रदर्शन कुछ ख़ास नहीं रहा था. आरोन फिंच 12 मैचों में 111 के स्ट्राइक रेट से 268 रन ही जोड़ सके थे. हालांकि इसके बाद फिंच ने साल 2021 में ऑस्ट्रेलिया के लिए 10 T20I पारियों में तीन अर्धशतक की मदद से 324 रन ठोके हैं. और इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 129 का रहा.

# Glenn Maxwell

मौजूदा ऑस्ट्रेलियाई टीम में ग्लेन मैक्सवेल ही एकमात्र ऐसे खिलाड़ी हैं. जिन्हें देख कंगारू फै़न्स राहत महसूस कर रहे होंगे. मैक्सी फॉर्म में हैं. RCB के लिए खेलते हुए इस ऑलराउंडर ने शानदार बल्लेबाजी की. 15 मैचों में 513 रन ठोके. छह पचासे और स्ट्राइक रेट 144 का. मैक्सवेल पर ऑस्ट्रेलिया की मिडल ऑर्डर बल्लेबाजी निर्भर करेगी.

ऐसे वक्त में जब मार्कस स्टोइनिस चोटिल होकर मैदान पर लौटे हों, और स्टीव स्मिथ जैसे बड़े सितारे रन के लिए तरस रहे हों, मैक्सवेल ऑस्ट्रेलिया के सबसे बड़े ट्रम्प कार्ड हैं. और उनका प्रदर्शन T20 विश्वकप में ऑस्ट्रेलिया का भाग्य भी तय करने वाला है. मैक्सी चले तो ऑस्ट्रेलियाई फै़न्स चैन की नींद सोएंगे, वरना कंगारू खिताब का सपना छोड़ ही दें. वैसे भी टीम ‘ग्रुप ऑफ डेथ’ में हैं. जहां अंतिम चार में जाने के लिए ऑस्ट्रेलिया का सामना वेस्टइंडीज, इंग्लैंड और साउथ अफ्रीका से होगा.

# Josh Hazelwood

जोश हेजलवुड. लंबी कद-काठी वाले तेज गेंदबाज. हेजलवुड IPL 2021 के दूसरे लेग में चेन्नई सुपर किंग्स का हिस्सा थे. कमाल की गेंदबाजी की. नौ मैचों में 11 विकेट झटके. और चेन्नई के पेस अटैक को लीड किया. हेजलवुड के लिए अच्छी बात ये रही कि उन्हें UAE में खेलने का अनुभव और आत्मविश्वास मिला. और यहीं पर अब T20 विश्वकप खेला जाना है.

बता दें कि साल 2021 से पहले तक जोश हेजलवुड को सिर्फ नौ T20 मुकाबलों का अनुभव था. लगभग चार साल तक उन्होंने कोई फ्रेंचाइजी क्रिकेट भी नहीं खेला. इस दौरान हेजलवुड इंजरी की वजह से टीम से बाहर भी हुए. और जब लिमिटेड ओवर फॉर्मेट में वापसी हुई. तो उन्होंने मौका हाथ से जाने नहीं दिया.  T20 विश्वकप से पहले ऑस्ट्रेलिया ने वेस्टइंडीज और बांग्लादेश का दौरा किया. और इन दौरों पर हेजलवुड ने आठ T20 मुकाबलों में 17 के एवरेज से 12 विकेट चटकाए. इकॉनमी रेट सात से भी कम. अब हेजलवुड विश्वकप में धमाल मचाने के लिए तैयार हैं.

# Mitchell Starc

ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज और बड़े इवेंट्स के बड़े प्लेयर. लेकिन पिछले दो साल से मिचेल स्टार्क T20I क्रिकेट में जूझ रहे हैं. आंकड़े कुछ ख़ास नहीं है. इस साल स्टार्क ने बांग्लादेश और वेस्ट इंडीज़ दौरे पर कुल छह T20I मुकाबले खेले. और चार विकेट ही निकाल सके. इकॉनमी रेट लगभग नौ का. जबकि 2020 में मिचेल स्टार्क ने सात T20 मुकाबलों में आठ विकेट झटके थे. आप स्टार्क जैसे बड़े खिलाड़ी से इस तरह के प्रदर्शन की उम्मीद नहीं करते हैं.

हालांकि, वेस्ट इंडीज़ दौरे पर हुई वनडे सीरीज में ‘विंटेज मिचेल स्टार्क’ की झलक देखने को मिली थी. स्टार्क ने यहां सिर्फ तीन वनडे में 11 की ऐवरेज से 11 विकेट झटके थे. मिचेल स्टार्क उस तरह के गेंदबाज हैं, जिन्हें शुरुआत में लय मिल गयी, तो फिर बड़े से बड़े बल्लेबाजों के पसीने छूट जाते हैं. और लय में नहीं दिखे तो फिर काफी महंगे साबित होते हैं.

मिचेल स्टार्क की ये कहानी पिछले कुछ सालों से चलती आ रही है. लेकिन जैसा कि हमने शुरुआत में ही कहा है. मिचेल स्टार्क बड़े टूर्नामेंट के खिलाड़ी हैं. और अगर वो बढ़िया गेंदबाजी करेंगे तो फिर ऑस्ट्रेलिया का काम आसान हो जाएगा.

#Ashton Agar

T20 फॉर्मेट में ऑलराउंडर का बड़ा रोल होता है. और ऑस्ट्रेलिया के लिए एश्टन एगर इस रोल में बिल्कुल फिट बैठे हैं. एश्टन एगर बाएं हाथ के स्पिन ऑलराउंडर हैं. निचले क्रम में बल्लेबाजी भी कर लेते हैं. एश्टन एगर ने पिछले दो साल में T20 क्रिकेट में 132 रन बनाने के अलावा 32 विकेट भी झटके हैं. इस दौरान उन्होंने हैट्रिक सहित दो बार फाइव विकेट हॉल लेने का कारनामा भी किया है.

एश्टन एगर के T20 करियर का सैम्पल पैकेज काफी छोटा है. लेकिन क्या फ़र्क पड़ता है? वह मिडल ओवर्स में विकेट चटकाकर देते हैं. और जरूरत पड़ने पर बल्ले से भी योगदान देते हैं. साथ ही एश्टन एगर फील्डर भी कमाल के हैं. रविन्द्र जडेजा को अपना आइडल मानने वाले एश्टन एगर ऑस्ट्रेलिया के 3D प्लेयर साबित हुए हैं. और UAE की धीमी पिच पर उनसे टीम को बहुत उम्मीदें होगी.

IPL 2021 के वो पांच खिलाड़ी जिन्हें लेकर उम्मीद न के बराबर थीं

Read more!

Recommended