Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

भैरंट

लल्लन ख़ास

उस कवि की कविताएं जिसे 30 साल के लिए जेल में बंद कर दिया गया

कविता क्या है? एक खूबसूरत ग़लत झूठ, एक आक्षेपित सत्य.

लल्लन ख़ास

गुजरात की इस रानी की कहानी जानते हैं, जिसने जौहर कर लिया

गुजरात के लोग उन्हें देवी की तरह पूजते हैं.

लल्लन ख़ास

वो एक्ट्रेस, जिसके दो गाने घर-घर, गली-गली, ट्रक, टेम्पो, बस में खूब बजे लेकिन हमने भुला दिया

तीन साल की उम्र में कैमरा फेस किया और 18 साल की उम्र में मिस इंडिया बनीं.

लल्लन ख़ास

गुजरात चुनाव: कहानी उस सीट की, जिसने सबसे बुरे वक्त में बीजेपी का साथ दिया

जब बीजेपी के पास कुछ नहीं था, तब ये सीट थी. मगर इस बार के चुनाव में यहां बीजेपी के पसीने छूट रहे हैं.

लल्लन ख़ास

कभी सोचा है, बिना रंग का आसमान नीला क्यों दिखाई देता है?

ये बताने वाले सीवी रमन को भारत में साइंस के लिए एकमात्र नोबेल मिला हुआ है. आज के दिन दुनिया से विदा ली थी.

लल्लन ख़ास

जानिए, उस ड्रामे की असलियत जिसके दम पर सालों से पब्लिक को 'मूर्ख' बना रही है कांग्रेस

गांधी परिवार को आगे रखने के लिए कांग्रेस ने बहुत नाटक किया है. इस ड्रामे का लोकतंत्र से कोई लेना-देना नहीं है.

लल्लन ख़ास

गुजरात की वो झामफाड़ सीट जहां से जीतने वाले राज्यपाल, CM और PM बने

जानिए इस बार यहां से किसकी किस्मत चमकने वाली है.

लल्लन ख़ास

लल्लन ख़ास

उन नामों को तो जान लीजिए, जिनकी वजह से गुजरात में भसड़ मची है

बीजेपी और कांग्रेस की लिस्ट आने के बाद से हंगामा मचा हुआ है.

लल्लन ख़ास

फ़ैज़ ने जो नज़्म लिखी थी वो अब भी ज़िन्दा है, गुड़िया होती तो न बचती!

एक कविता रोज़ में आज पढ़िये फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ की वो नज़्म जो युवा क्रांतियों का नारा बन गयी.

Loading…