0
कुछ महीनों पहले तो शाइनी आहूजा नसीरुद्दीन शाह का बेटा बनने की एक्टिंग कर रहे थे. दरअसल नसीर भाई एक नंबर के गुंडे बन गए हैं और शाइनी उनका प्लेबॉय किस्म का बेटा. चौंकिए मत, ये सब हुआ है सितंबर में रिलीज हुई अनीज बज्मी की फिल्म वेलकम बैक में. इसके अलावा उनकी प्रीटी जिंटा के साथ एक फिल्म ‘हर पल’ भी 2016 में रिलीज हो सकती है. बरसों पहले बनी यह फिल्म अब तक डिब्बाबंद थी. डिब्बा खुल गया है, ऐसी खबर है. डिब्बे से एक और फिल्म निकल सकती है, जिसका नाम है एक एक्सिडेंट. इसकी हीरोइन हैं सोहा अली खान. एक्टिंग के अलावा शाइनी इन दिनों दो काम और कर रहे हैं. पहला, मां की सेवा. मां जी का डेढ़ साल पहले कैंसर का ऑपरेशन हुआ था मुंबई में. अभी वह बेटे के साथ ही रहती हैं. दूसरा, कोर्ट में अपना रेप केस लड़ना. पिछले साल उन्होंने मुंबई हाई कोर्ट से कहा था कि प्लीज, मेरा मामला जल्दी सुन लीजिए. लोअर कोर्ट ने मुझे सजा सुनाई है. इसलिए कोई भी प्रॉड्यूसर बेल पर बाहर होने के बावजूद मुझे काम नहीं देता. कोर्ट नहीं मानी. कोर्ट भावनाओं से नहीं, भयंकर दलीलों से चलता है. कोर्ट ने कहा, 94-95 के मामले चल रहे हैं. और आपको अपने केस की पड़ी है. अरे बेल पर बाहर हैं न. तो फिर. गौरतलब है कि एक्टर शाइनी आहुजा पर 9 जून 2009 को उनकी घरेलू नौकरानी ने रेप का इल्जाम लगाया था. शाइनी पहले बोले, रेप नहीं, रजामंदी थी ये माईलॉर्ड. फिर नौकरानी ने कहा, मैंने दबाव में झूठ बोला था. शाइनी बोले, हां, गलती हो गई मुझसे. 2011 में फैसला सुनाते हुए कोर्ट ने कहा, नौकरानी पर तो एक अलग केस ठांसो. इसने गीता की सौगंध खा झूठ क्यों बोला. और शाइनी को भी जेल भेजो. सात साल के लिए. वह भी कैद ए बामशक्कत वाली कैटिगरी में. साथ में तीन हजार का जुर्माना भी जमा करो. फिर मुंबई हाईकोर्ट ने शाइनी को बेल दे दी. बेल मिल गई. पर रोजी चली गई. अजब हाल था. लोग बोले, अब क्या करोगे इंडिया में. परदेस चले जाओ. बकौल शाइनी, मैं भाग जाता तो मेरी बेटी अर्शिया क्या सीखती. मैं उसके लिए रुका. अपने परिवार के लिए रुका. अपनी पत्नी अनुपम के यकीन के लिए रुका.
चंचल शुभी edited question ago
    लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें