The Lallantop

यूपी: 'बीवी से सेक्स करने दो और ट्रांसफर लो', JE की भद्दी डिमांड से तंग लाइनमैन ने दी जान

मरने से पहले गोकुल ने साफ़ कहा कि वे नागेंद्र कुमार से परेशान थे क्योंकि वो तबादला कराने के बदले उनकी बीवी को अपने पास भेजने की बात करता था. इसीलिए उन्हें अपना जीवन खत्म करने का फैसला किया.

post-main-image
lakhimpur-palia

सेक्स के लिए सरकारी ताकत का इस्तेमाल! सुनने में जितना अजीब है, जानने में उतना ही घिनौना. हाल में बिहार से ऐसी खबर आई थी. और अब यूपी से भी ऐसा मामला देखने को मिला है. पहले नए मामले की बात कर लेते हैं.

तबादले के बदले पत्नी से सेक्स?

उत्तर प्रदेश का लखीमपुर खीरी (Lakhimpur khiri) जिला. यहां बिजली विभाग के एक लाइनमैन ने जेई (JE) की प्रताड़ना से तंग आकर जान दे दी. आजतक से जुड़े अभिषेक वर्मा की रिपोर्ट के मुताबिक JE कथित तौर पर लाइनमैन से तबादला कराने के बदले उसकी बीवी को अपने पास भेजने की बात करता था. बताया गया है कि इससे परेशान होकर लाइनमैन ने खुद पर पेट्रोल डालकर आग लगा ली.

खबर के मुताबिक मामला लखीमपुर के पलिया कलां स्थित बमनगर इलाके का है. यहां के रहने वाले गोकुल प्रसाद बिजली विभाग में लाइनमैन के पद पर तैनात थे. शनिवार 9 अप्रैल की देर रात उन्होंने हाइडिल कॉलोनी में आत्महत्या कर ली. पेट्रोल डालकर खुद को आग लगा ली. इसके लिए उनकी पत्नी राजकुमारी ने विभाग के JE नागेंद्र कुमार को जिम्मेदार ठहराया. मीडिया से बातचीत में उन्होंने बताया,

 

'पिछले 3 साल से मेरे पति का ट्रांसफर विभाग के लोग कभी महंगापुर, कभी अलीगंज तो कभी गोला कर देते थे. मेरे पति जब भी अपना ट्रांसफर पलिया कराने की बात कहते थे तो बिजली विभाग में तैनात JE नागेंद्र कुमार उनसे कहते थे कि पहले अपनी बीवी को लाकर हमारे पास सुलाओ, तब हम ट्रांसफर करेंगे.'

राजकुमारी के मुताबिक इसी से तंग आकर उनके पति ने खुद को आग लगा ली. परिजनों ने पड़ोसियों की मदद से आग बुझाई और गोकुल को फौरन निजी अस्पताल लेकर गए. वहां से उन्हें जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया. हालत गंभीर होने पर गोकुल को इलाज के लिए लखनऊ ले जाया गया. लेकिन तमाम कोशिशें धरी की धरी रह गईं. रविवार, 10 अप्रैल को पीड़ित की मौत हो गई.

पीड़ित ने क्या कहा?

मरने से पहले गोकुल प्रसाद ने पुलिस को बयान दे दिया था. आजतक की खबर के मुताबिक इसमें उन्होंने भी वही बात कही जो उनकी पत्नी ने मीडिया को बताई. गोकुल ने साफ़ कहा कि वे नागेंद्र कुमार से परेशान थे क्योंकि वो तबादला कराने के बदले उनकी बीवी को अपने पास भेजने की बात करता था. इसीलिए उन्हें अपना जीवन खत्म करने का फैसला किया.

डीएम ने JE पर क्या कार्रवाई की?

आजतक की खबर के मुताबिक मामले की गंभीरता को देखते हुए लखीमपुर खीरी जिले के डीएम महेंद्र बहादुर सिंह ने JE नागेंद्र कुमार को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया है. साथ ही उसके खिलाफ विभागीय जांच शुरू करने के लिए निर्देश दिया है.

वहीं, लखीमपुर खीरी जिले के एसपी संजीव सुमन ने बताया,

'पलिया में रविवार को एक लाइनमैन की मृत्यु हो गई है. उसने ये आरोप लगाया है कि JE उनके ट्रांसफर के बदले पैसे और अनाचार की बात करता था. इस मामले में FIR दर्ज कर ली गई है, धारा 306 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है. विभागीय कार्रवाई हुई है जिसमें JE को सस्पेंड कर दिया गया है और उसके खिलाफ एक जांच की संस्तुति भी की गई है. सभी पहलुओं पर जांच की जा रही है.दोषी पाए जाने पर निश्चित तौर पर आरोपी JE को जेल भेजा जाएगा.'

मृतक लाइनमैन के परिजनों ने बताया है कि उन्होंने JE नागेंद्र कुमार के साथ-साथ बिजली विभाग के कुछ अन्य कर्मचारियों के खिलाफ भी पलिया थाने में तहरीर दी है.

रेप पीड़िता से सेक्स की मांग

कुछ-कुछ इसी तरह का मामला बिहार के बेगूसराय में देखने को मिल चुका है. यहां के एक दारोगा सुधीर कुमार पर आरोप लगा था कि उसने एक रेप पीड़िता को इंसाफ दिलाने के बदले उससे सेक्स करने की मांग की थी. मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक आरोपी सब-इंस्पेक्टर ने पीड़िता को धमकी तक दी थी कि अगर उसने ये डिमांड पूरी नहीं कि तो उसका केस बिगाड़ दिया जाएगा. हालांकि उस मामले में पीड़िता ने हार नहीं मानी थी. उसने सीनियर अधिकारियों से संपर्क किया और सुधीर कुमार का धमकी भरा ऑडियो और वॉट्सऐप मेसेज उनसे शेयर कर दिए. इसके बाद सुधीर कुमार गिरफ्तार हुआ और उसे जेल भेज दिया गया.

वीडियो देखें :-

बिहार: सिंचाई अधिकारी बनकर आए, 60 फुट लंबा पुल चुरा ले गए चोर!