Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

हमले की दूसरी बरसी पर शार्ली एब्दो फिर खबरों में है

7 जनवरी 2015 की शाम को अचानक से पूरी दुनिया में खबर लिखने और देखने वाले सदमे में आ गए थे. फ्रांस की ‘शार्ली एब्दो’ मैग्ज़ीन पर कट्टरपंथियों ने हमला किया था और 12 पत्रकारों, कार्टून बनाने वालों को मार दिया था. बंदूक रखने वाले कलम से डर गए थे.

इस घटना के ठीक दो साल बाद ‘शार्ली एब्दो’ फिर चर्चा में है. मगर बिलकुल अलग वजह के कारण. मैग्ज़ीन की सबसे ज़्यादा मुखर पत्रकार ज़िनेब एल रहज़ोई ने इस शुक्रवार ‘शार्ली एब्दो’ से इस्तीफा दे दिया है. कारण बताया है पत्रिका का इस्लामिक कट्टरपंथियों के आगे नरम पड़ जाना.

ज़िनेब ने कहा है कि उस नरसंहार के बाद से पत्रिका इस्लाम और उससे जुड़े प्रतीकों पर कुछ भी कहने से बच रही है. उन्होंने ये भी कहा कि सितंबर से ही उनकी बाकी स्टाफ से असहमति चल रही थी.

ज़िनेब
ज़िनेब

35 साल की ज़िनेब अपने तल्ख तेवरों के कारण चरमपंथियों के निशाने पर रहती हैं. ज़िनेब को हर समय स्पेशल सिक्योरिटी में रहना पड़ता है. उनका इन तमाम लोगों की भावनाएं आहत करने पर कहना है,

“सभी मूर्खों को संतुष्ट करना मुश्किल है.”

हमले के विरोध में न्यूयॉर्क टाइम्स का कार्टून
हमले के विरोध में न्यूयॉर्क टाइम्स का कार्टून

जबकि मैग्ज़ीन के वर्तमान एडिटर ‘रिस’ का कहना है,

हमारी हिफाज़त कौन करेगा. मैं अपने स्टाफ को बिना किसी कारण मरते नहीं देख सकता. अगर सिर्फ मेरी जान की बात होती तो मैं कभी नहीं रूकता.

ज़िनेब शार्ली हेब्दो पर हमले के समय मोरक्को में थीं और उनका कहना है कि शार्ली ने ही उन्हें चरमपंथ का विरोध करना सिखाया और वो इस बात को हमेशा याद रखेंगी. इस विरोध के चलते ही उन्होंने अपने साथियों को खोया है और वो इसे नहीं छोड़ेंगी.

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

जब नेहरू जी को रहना पड़ा था मवेशियों के रहने की जगह पर

पेन चुराने के लिए पड़ी थी मार.

BCCI कुम्बले से नाराज़ है, इस खबर का सच क्या है?

कुम्बले को काहे निकालने की प्लानिंग कर रहे हो मियां?

2019 में यूपी नहीं, इन जगहों पर है अमित शाह की नजर, जानिए पूरा प्लान

भारत के 6 हिस्सों में भाजपा अपनी पकड़ बनाने की कोशिश कर रही है.

पीएम मोदी के अफसरों के लिए बुरी खबर, कुछ भी करने से पहले 100 बार सोचेंगे!

पीएम मोदी अपने अफसरों पर बहुत भरोसा जताते हैं.

शोएब मलिक, आपको मोहम्मद शमी के धर्म को बीच में लाने की क्या ज़रूरत थी?

अपनी भद्द खुद ही पिटवाने का ठेका ले लिया है तो और बात है.

एटीएम के बारे में व्हाट्सैप पर फैल रहे मेसेज की सच्चाई क्या है?

आपसे अनुरोध है कि मोदी सरकार को लानतें भेजने से पहले गूगल कर लिया करें.

फेसबुक की ये दोस्ती शर्मनाक है

13 साल के लड़के ने मां बाप का सेक्स वीडियो बनाकर फेसबुक फ्रेंड को भेज दिया. ये खबर सबके लिए नसीहत भी है.

आर्मी में भर्ती होने के लिए 'फर्जी सिख' क्यों बन रहे हैं हरियाणवी

आर्मी अफसरों का कहना है ये खतरनाक ट्रेंड है.

हिंदुस्तान के इस सबसे लंबे पुल का आज फीता कटा है

इस पर आपकी लूना के साथ फौज के टैंक भी मस्त दौड़ सकते हैं.

जेवर गैंगरेप के बाद ये लगने लगा है कि यूपी में भाजपा सरकार बननी चाहिए

"बहुत हुआ महिलाओं पर वार, अबकी बार भाजपा सरकार."

पाकी टॉकी

क्या पाकिस्तान से कुलभूषण जाधव की मौत की खबर आने वाली है?

पाकिस्तान की हरकतें इसी तरफ इशारा कर रही हैं.

पाकिस्तान में रमज़ान को लेकर ऐसा कानून बनाया गया है जो बेहूदा है

'पाकिस्तान में आतंकी घूम सकते हैं, लेकिन रोजेदार के सामने कुछ खाया तो जेल में होगा.'

'द गॉडफादर' ने इस्लामिक पाकिस्तान की राजनीति में बवाल मचा दिया

पाक पीएम नवाज़ शरीफ के लिए ये नई मुसीबत है.

आज जिसको पहला पाकिस्तानी बताया जा रहा है, वो बैल की चमड़ी में सिलकर सीरिया भेजा गया था

पाक के मुताबिक मुहम्मद अली जिन्ना नहीं थे पहले पाकिस्तानी.

भीड़ इस आदमी को मार डालती, अगर मौलवी और एक जवान उसे नहीं बचाता

वीडियो में उन्मादी भीड़ देखकर खौफ आता है. कौन सी दुनिया रच रहे हैं ये लोग.

इमाम के कहने पर बुर्कापोश तीन बहनों ने 'कथित ईशनिंदा' करने वाले को मार डाला

जिसे मारा, पहले उसके बाप से आशीर्वाद लिया. फिर सामने ही उनके बेटे को गोलियों से भून दिया.

जब आप भीड़ बनते हैं, तब आपके अंदर का राक्षस जल्दी बाहर आता है

पाकिस्तान में ईशनिंदा के शक़ में छात्र को पीट-पीट कर मार डाला गया.

यहां गलती मर्द करे, हर्जाना औरत या बच्ची को शादी करके चुकाना पड़ता है

क्या है ये 'वानी' रस्म, जिसमें अपनी घर की लड़की या बच्ची को दुश्मन के हवाले कर दिया जाता है

ये पाकिस्तानी बंदा कुलभूषण को फांसी के खिलाफ है और गाली खा रहा है

कहीं आप भी इस बंदे का मजाक तो नहीं उड़ाते थे?

पेट दर्द का बहाना लेकर देश से भाग जाने की फ़िराक में है पाकिस्तानी पीएम!

क्या सच में शरीफ बहाना ले रहे हैं.

भौंचक

आपको पता है इंडियन रेलवे ने सबसे महंगा टिकट कितने का बेचा है?

और जो अमाउंट है, वो इतना कि सुनकर आप यकीन भी न कर पाएंगे.

रेप करने चला था औरत ने लिंग काट लिया

और महिला पर कोई केस भी नहीं होगा क्योंकि उसने जो भी किया खुद को बचाने के लिए किया.

ये सद्दाम हुसैन लादेन के लिए आधार कार्ड बनाने चले थे

कि कहीं वो ज़िंदा हुआ तो उसे जियो की सिम लेने में तकलीफ न हो.

एक दिन में सबसे ज़्यादा रन तब मारे गए थे, जब फटाफट क्रिकेट का नामोनिशान भी नहीं था

ये काम करना क्रिस गेल, वॉर्नर जैसे बल्लेबाज़ों के भी बस का नहीं. आज ही के दिन हुआ था ये कारनामा.

गायकवाड़ पार्ट 2ः शिवसेना पार्षद ने विधायक 'बन' कर किसानों की सभा ले ली

शिवसेना हमशक्लों वाली पार्टी बनती जा रही है.

सेल्फी खींच लो, कहीं आग बुझ ना जाए

उन्हें लगा होगा कि आग-वाग तो बुझती रहेगी, लेकिन ऐसा मौका कहां मिलता है? तुरंत जेब से फोन निकाला और चट्ट से सेल्फी खींच ली.

'फैन' पिक्चर देखी है? ये उसकी रियल लाइफ कहानी है

भारी पड़ गया एक लड़के को इस मशहूर व्यक्ति जैसा दिखना.

नाक की गूजी खाएंगे तो सेहत अच्छी रहेगी, सच में

गाली देने के पहले खबर पढ़ लेना.