Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

नोटबंदी क्या हुई, गुजरात के इस बैंक में नोटों की बहार आ गई

नोटबंदी के बाद पुराने नोटों को जमा करके नए नोट जारी करने की पूरी कवायद ढंग से हो, इसके लिए रिज़र्व बैंक ने क्या नहीं किया. दर्जन के हिसाब से रोज़ नोटिफिकेशन्स निकाले. आईडी मांगी. ऊंगली पर स्याही लगाई. पूरी कवायद कैमरे में रिकॉर्ड की. बहुतेरे प्रयास. लेकिन हिन्दुस्तानी आदमी जुगाड़ से अपना काम न निकाल ले जाए तो हिन्दुस्तानी कहलाएगा कैसे !

नोटबंदी के लगभग तुरंत बाद से ही ऐसी ख़बरें सामने आईं कि बैंकों में सेटिंग कर के काला धन सफ़ेद किया जा रहा है. इसी सीरीज़ में ताज़ा खबर गुजरात के राजकोट से है. यहां के एक सहकारी बैंक (कोऑपरेटिव बैंक) में बड़ा हेर-फेर हुआ है.

rajkot1
आंकड़े फाइनेंशियल एक्सप्रेस  के हवाले से

इस बैंक में इतना बड़ा लेन-देन आमतौर पर साल भर में भी नहीं होता है, और ये सब 50 दिन में हो गया. इनकम टैक्स विभाग की अहमदाबाद ब्रांच अब मामले की तह तक जाने की तैयारी में है. उसने बैंक से सारे ज़रूरी दस्तावेज़ मंगा लिए हैं. सब कुछ साफ़ होने में अभी वक़्त लगेगा. लेकिन यहां बड़ा घोटाला हुआ है, इसके पूरे असार हैं.

ज़्यादा गौर उन 25 हाई वैल्यू डिपॉजिट्स पर किया जाने वाला है जिनमें बिना KYC (नो योर कस्टमर) दस्तावेजों के 30 करोड़ रुपए जमा हुए हैं.

नोटबंदी के बाद से इनकम टैक्स विभाग लगातार मनी लॉन्डरिंग को पता लगाने के लिए सर्वे कर रहा है. इस बैंक पर शक तब हुआ, जब ये देखा गया कि यहां खाते खोलने से लेकर पैसे डालने-निकालने तक हर चीज़ में 8 नवम्बर के बाद ज़बरदस्त उछाल आया.

नए खाते:
नोटबंदी के 50 दिनों में यहां साढ़े छह गुना की रफ़्तार से खाते खुले. जो 4551 नए खाते खुले, उनमें से 62 खातों में एक ही मोबाइल नंबर दर्ज है. कई खातों में मिलते-जुलते पते दर्ज हैं. इसके अलावा कई खाते एक दूसरे से लिंक भी हैं.

डॉर्मंट खातों में पैसे की बाढ़:
नोटबंदी के बाद 10 करोड़ जितनी रकम डॉर्मंट बैंक खातों में जमा की गई. जिन खातों में कई महीनों तक कोई ट्रांज़ेक्शन नहीं होता, वो डॉर्मंट हो जाते हैं. माने उनसे लेनदेन पर एक अस्थाई रोक लगा दी जाती है. ऐसे ही एक खाते में (जो कि एक पेट्रोलियम कंपनी का था) में ढाई करोड़ रुपए जमा किए गए.

सिंबॉलिक इमेज
सिंबॉलिक इमेज

पे-इन स्लिप में झोल:
बैंक में कैश जमा करने में इस्तेमाल की गई पे-इन स्लिप्स में भी खूब गड़बड़ी है. इनमें से किसी में भी जमा करने वाले का पैन नंबर नहीं भरा गया है. कई में तो जमा करने वाले के दस्तख़त तक नहीं हैं. इस तरह से जमा हो रहे पैसे का सोर्स छुपाया गया.

अपनों का भला:
नोटबंदी के बाद से बैंक के एक्स डायरेक्टर के बेटे के 30 खातों में कुल एक करोड़ रुपए कैश जमा हुआ है. इन सभी डिपॉजिट्स की ‘पे-इन’ स्लिप्स एक ही इंसान ने भरी हैं. बैंक के वाइस चेयरमैन की मां को इसी बैंक के खातों के ज़रिए 64 लाख रुपए मिले, जो एक ज्वेलर को ट्रांसफर कर दिए गए. इनकम टैक्स विभाग जल्द इन दोनों के बयान दर्ज करने वाला है.

8 नवंबर को जब से ऐलान हुआ कि ‘देशहित’ में देश की 86 फ़ीसदी करेंसी देश के सिस्टम से बाहर कर दी जाएगी, तो उम्मीद की गई कि सरकार की इस नेक मंशा का नतीजा अच्छा होगा. पब्लिक ने भी कुछ दिन तो भयंकर सब्र दिखाया. दिन भर लाइन में खड़े रहे, पर यही कहा कि अच्छा फैसला है. लेकिन ज्यों-ज्यों दिन बीते, नोटबंदी पर एक तरफ सरकार का स्टैंड बदलता दिखा, दूसरी ओर ऐसी ख़बरें भी आनी शुरू हुईं कि कुछ बैंकों में ‘सेटिंग’ कर ली गई है और दनादन बेनामी पैसा स्याह से सफ़ेद किया जा रहा है. लाइन में खड़े लोगों के साथ ये सबसे क्रूर मज़ाक था.

इन मामलों की ठीक से जांच करने के बाद गुनहगारों को सज़ा अगर नहीं मिलती, तो नोटबंदी की पूरी कवायद पर और उससे ज़्यादा देश के बैंकिंग सिस्टम पर से लोगों का भरोसा उठाना तय है.


ये भी पढ़ें:

400 फर्जी पैन कार्ड बनाकर बैंक से हड़प लिए सवा आठ करोड़

नोटबंदी ने इस गांव को कैशलैस बना दिया, मगर ये खबर बिल्कुल अच्छी नहीं है

400 करोड़ का अंदाजा था, 2000 करोड़ हो सकती है भजियावाले की प्रॉपर्टी

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

शहीदों को सम्मान देना है तो गौतम गंभीर से सीखिए मनोज तिवारी जी

गौतम गंभीर की जितनी तारीफ़ की जाये, कम है.

विनोद खन्ना का वो किस्सा, जो अमिताभ खुद से कभी जोड़ना नहीं चाहेंगे

एक वक्त था कि विनोद खन्ना बॉलीवुड के सबसे बड़े स्टार बन रहे थे.

मोदी जी, आपकी ये सांसद जिंदा लोगों की खाल उतरवाना जानती हैं

ये योगी आदित्यनाथ के राज में हुआ है.

लीजेंड्री एक्टर विनोद खन्ना नहीं रहे, मुंबई में निधन

मुंबई के हॉस्पिटल में अंतिम सांस ली.

अब घर बैठे आप करवा सकेंगे कॉन्डम की फ्री होम डिलीवरी

कॉन्डम भी मुफ्त में मिलेगा. यानी बिना एक भी पैसा दिए करिए सेफ सेक्स.

सिर्फ 25 बरस थी कुपवाड़ा में शहीद हुए कैप्टन आयुष की उम्र

एलओसी के पास आर्मी कैंप पर तड़के हुआ टेररिस्ट अटैक.

ये वो सिस्टम है जिसमें शहीद के शव को रोक सीएम के काफिले को हरी बत्ती दी जाती है

सिर्फ़ लाल बत्ती हटा देने से VIP कल्चर नहीं ख़त्म हो जाता.

पाकी टॉकी

भीड़ इस आदमी को मार डालती, अगर मौलवी और एक जवान उसे नहीं बचाता

वीडियो में उन्मादी भीड़ देखकर खौफ आता है. कौन सी दुनिया रच रहे हैं ये लोग.

इमाम के कहने पर बुर्कापोश तीन बहनों ने 'कथित ईशनिंदा' करने वाले को मार डाला

जिसे मारा, पहले उसके बाप से आशीर्वाद लिया. फिर सामने ही उनके बेटे को गोलियों से भून दिया.

जब आप भीड़ बनते हैं, तब आपके अंदर का राक्षस जल्दी बाहर आता है

पाकिस्तान में ईशनिंदा के शक़ में छात्र को पीट-पीट कर मार डाला गया.

यहां गलती मर्द करे, हर्जाना औरत या बच्ची को शादी करके चुकाना पड़ता है

क्या है ये 'वानी' रस्म, जिसमें अपनी घर की लड़की या बच्ची को दुश्मन के हवाले कर दिया जाता है

ये पाकिस्तानी बंदा कुलभूषण को फांसी के खिलाफ है और गाली खा रहा है

कहीं आप भी इस बंदे का मजाक तो नहीं उड़ाते थे?

पेट दर्द का बहाना लेकर देश से भाग जाने की फ़िराक में है पाकिस्तानी पीएम!

क्या सच में शरीफ बहाना ले रहे हैं.

अप्रैल फ़ूल पर सबसे गंदा मजाक पाकिस्तान के पूर्व मंत्री से हुआ है

एक साथ तीन लोगों के साथ कांड हो गया. आपको पता चला?

उसने कहा- हम पर ज़ुल्म हो रहा है, अगले दिन उसे मार दिया गया

इनके लिए खुद को मुसलमान कहने का मतलब है मौत को दावत देना.

इस पाकिस्तानी औरत का घर है या फिर 'मुग़ल गार्डन'?

लुबाबा अब्बास पौधों को ऐसे रखती हैं जैसे बच्चों को.

पाकिस्तान में एक खास तरह के पोस्ट डिलीट कर रहा फेसबुक

25 एक्सपर्ट्स की एक टीम लगी है काम पर.

भौंचक

106 साल की उम्र में आंध्र प्रदेश की ये नानी यूट्यूब क्वीन हैं

खाना बनाने की विधि यूट्यूब पर डालती हैं.

ये है दुनिया का सबसे बड़ा रुपैया

नोट बहुत बड़ा था लेकिन उसकी कीमत ना बराबर थी. अब ये नोट केवल दीवारों पर सजाने के ही काम आता है.

पानी को उड़ने से बचाने के लिए मंत्री जी ने डैम को थर्मोकॉल से ढंक दिया

तमिलनाडु के इस मंत्री ने जो किया वो बताता है कि स्कूल में साइंस की क्लास में क्यों सोना नहीं चाहिए.

जर्मनी वालों ने उड़ती कार बना ली, एक 'लेकिन' के साथ

'एक दिन कारें उड़ेंगी' ये सपना है, जो हर साल की शुरुआत में वैज्ञानिक हमें दिखाते हैं.

रातोरात 40 लाख लोग अंधेपन से मुक्त हुए, ऐसा क्या कर दिया मोदी सरकार ने

अचानक अंधे लोगों की संख्या 1.2 करोड़ से घटकर 80 लाख हो गई है.

झारखंड का 'गूगल बॉय', जिसकी याददाश्त हैरान करने वाली है

होनहार वीरवान के होत चीकने पात.

गुमशुदा हुई सड़क को ढूंढ निकालने पर 10 हज़ार रुपये का इनाम

दिल्ली की एक सड़क तीन साल से लापता है.

राष्ट्रपति, चिप, हाई कोर्ट, सिम कार्डः ये इस गांव के लोगों के नाम हैं

और आपको लगता था कि 'टैंजेंट' और 'डेफिनेट' ही क्रांति लाएंगे.

अब रविंद्र गायकवाड़ वो काम कर रहे हैं, जो 70s का विलेन करता था

आसमान में उड़ना तो दूर, उनका जमीन पर चलना भी मुश्किल हो गया है.