Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

140 किलो का ये प्लेयर जिस दिन आईपीएल में आयेगा, बॉलर पनाह मांगेंगे

शोभा डे. एक दिन इन्होंने ट्वीट किया कि मुंबई पुलिस ने भारी बंदोबस्त किया है. साथ में एक तस्वीर थी. एक मोटे पुलिसवाले की, जो कुर्सी पे बैठा था. पहली बात तो ये कि वो मध्य प्रदेश पुलिस का सिपाही था. साथ ही ये कि शोभा डे उसके मोटापे का मज़ाक उड़ा रही थीं. उन्हीं शोभा डे को ये वीडियो देख लेना चाहिए. शायद क्रिकेट के भारी बंदोबस्त को देखकर उनकी आंखें खुल जायें. (वैसे आंखें तो ट्विटराती ने उसी दिन खोल दी थीं.)

वेस्ट-इंडीज़ का क्रिकेटर. वजन 140 किलो. रह्कीम कॉर्नवॉल. बल्ले से गेंद को मारता है तो लगता है प्यार कर रहा है. लम्बाई है 6 फुट 5 इंच. बल्ले की रीच इतनी भयानक कि गुड लेंथ को भी आसानी से बल्ले पर खेल लेता है. पैर एकदम गेंद की सीध में और सीधा बल्ला. शरीर का फैट बल्ले को घूमने में अड़चन नहीं पैदा करता. छोटी गेंद पर बैकफ़ुट पर इतनी तेज़ जाता है कि टैप डांसर्स शर्मा जाएं. ऑन साइड हो चाहे ऑफ़ साइड, बल्ला हर तरफ चलता है. स्पीड से डर नहीं लगता और कनेक्टिंग टेक्नीक बेहद अच्छी. गेंद फुल लेंथ हो या शॉर्ट पिच, शॉट्स खेलने में कोई ख़ास समस्या नहीं दिखती. हां, देह की वजह से जो फ़ायदा मिलता है वो है ताकत का. तेज़ गेंदों पर भी बॉल की लाइन में आकर गेंद को सिर्फ लॉफ्ट कर देते हुए जब कॉर्नवॉल को देखा जाए तो गेम बहुत आसान लगता है. लेकिन शायद वो सब कुछ इस क्रिकेटर की देह और उसके वज़न और उसकी लम्बाई में छुप जाता है.

फिलहाल 24 साल का कॉर्नवॉल लीवर्ड आइलैंड क्रिकेट टीम से खेलता है और कैरिबियन प्रीमियर लीग में दिखेगा. 2016 में जब इंडियन टीम वेस्ट इंडीज़ के टूर पर आई थी तो टेस्ट मैच शुरू होने से पहले इंडियन टीम का एक प्रैक्टिस मैच वेस्ट इंडीज़ बोर्ड इलेवन की टीम के साथ हुआ था. उस मैच में कॉर्नवॉल ने 56 गेंद पर 41 रन बनाये थे जिसमें 7 चौके और 1 छक्का शामिल था.

एंटीगुआ से आने वाला कॉर्नवॉल ऑफ़ ब्रेक बॉलर भी है. एक क्विक आर्म ऐक्शन के साथ सही अड्डे बपार गेंद फेंकना इसकी मजबूती है. साथ ही साढ़े 6 फुट की ऊंचाईसे गेंद फेंकने की वजह से अच्छी फ्लाईट और बाउंस पाता है.

अपनी अग्रेसिव बैटिंग स्टाइल और अच्छी बॉलिंग के चलते कॉर्नवॉल टी-20 क्रिकेट में एक बढ़िया प्रॉस्पेक्ट बन सकते हैं. आईपीएल में आने के लिए ये ज़रूरी होगा कि करीबियन प्रीमियर लीग में कॉर्नवॉल बढ़िया परफॉर्म करे ताकि बाकि दुनिया को इन्हें डेढ़ सौ किलो वाला बैट्समैन कहकर न बुलाना पड़े.


 

ये भी पढ़ें:

कोहली की अर्चना विजय के साथ इस तस्वीर का सच क्या है?

ये लड़का इंडिया का अगला सनसनी तेज गेंदबाज बनेगा!

मैक्ग्रा का खुलासा कि वो सचिन को कैसे आउट करते थे

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

BHU के इन 10 विवादों को जानेंगे तो खुदहै कहेंगे- वीसी साहब, तुमसे न हो पाएगा

वीसी गिरीश चंद्र त्रिपाठी नवंबर 2014 से वाइस चांसलर हैं.

कामयाब एक्टर बनने के बाद भी अखबार बेचते थे प्रेम चोपड़ा

बंबई के गेस्ट हाउसों में एक कमरे में चार-पांच लोगों के साथ रहते थे.

अजय देवगन की इस भुतही कॉमेडी फिल्म का ट्रेलर आ गया है

इस फिल्म में उनके साथ परिणीती चोपड़ा और तब्बू भी नजर आएंगी

ये पांच बातें बताती हैं कि राहुल गांधी अपनी गलतियों से सीख रहे हैं

अमेरिकी दौरे पर कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कई मुद्दों पर बात कर लोगों को लुभाया.

रीडर्स की चीख़ें निकाल देने वाले स्टीफन किंग की लिखी ये 6 फिल्में मस्ट वॉच हैं!

इनके नॉवेल पर आधारित 'इट' इस महीने रिलीज हुई और सबसे ज्यादा कमाई करने वाली हॉरर फिल्म बन गई है.

लकी अली के वो पांच गाने, जिन्हें अक्खा इंडिया गुनगुनाता है

लकी अली ने इंडियन पॉप म्यूजिक की नींव में ईंटे रखी हैं.

48 फिल्म स्टार्स जो अपना असली नाम नहीं बदलते तो बॉलीवुड में नहीं चलते

इनमें साउथ के सितारे भी शामिल हैं. जानें क्या हैं सबके असली नाम. कुछ नाम कल्पना से परे हैं.

हार्दिक पंड्या जब छक्के मारना शुरू करता है, तो मारता ही चला जाता है

एक ही ओवर में तीन-तीन, चार-चार सिक्सर ठोक देता है.

शबाना आज़मी: जिससे नाराज़ नहीं ज़िंदगी, हैरान है!

18 सितंबर यानी शबाना आज़मी का बर्थडे. जानिए क्यों हैं वो आज भी बेमिसाल...

पोस्टमॉर्टम हाउस

फ़िल्म रिव्यू : भूमि

संजय दत्त की रिहाई के बाद आई उनकी पहली फ़िल्म.

खुशखबरी : अगले ऑस्कर के लिए इंडिया से न्यूटन भेजी जाएगी

जिसमें एक आर्मी का अफ़सर कहता है कि ये वोटिंग मशीन एक खिलौने जैसी है.

वो 2 वजहें कि संजय भंसाली की 'पद्मावती' को अब विरोधी ही हिट करवाएंगे

जो बहाना लेकर भंसाली को पीटा गया, फिल्म का सेट तोड़ा गया वो झूठा साबित हो जाएगा.

कमज़ोर सी 'लखनऊ सेंट्रल' क्यों महान फिल्मों की लाइन में खड़ी होती है!

फिल्म रिव्यूः फरहान अख़्तर की - लखनऊ सेंट्रल.

फ़िल्म रिव्यू : सिमरन

दो नेशनल अवॉर्ड विनर्स की एक फ़िल्म.

देवाशीष मखीजा की 'अज्जी' का पहला ट्रेलरः ये फिल्म हिला देगी

इसमें कुछ विजुअल ऐसे हैं जो किसी इंडियन फिल्म में पहले नहीं दिखे.

इस प्लेयर ने KKR के लिए जैसा खेला है वैसा इंडिया के लिए खेले तो जगह पक्की हो जाये

टीम में फिनिशर की कमी है. ये पूरा कर सकता है. हैप्पी बड्डे बोल दीजिए.

फ़िल्म रिव्यू : समीर

मुसलमानों की एक बड़ी मुसीबत को खुले में लाती फ़िल्म.

फ़िल्म रिव्यू : डैडी

मुंबई के गैंगस्टर अरुण गवली के जीवन पर बनी फ़िल्म.