Submit your post

Subscribe

Follow Us

सिर्फ तीन शब्द लिखकर कैप्टन अमरिंदर ने केजरीवाल की मौज ले ली

ये ट्विटर है न… बड़ी कुत्ती चीज है. एक की लंका लगती है और मौज पूरा जमाना लेता है. होता तो ट्विटर के बाहर भी ऐसा ही है, लेकिन यहां लोगों की क्रिएटिविटी जरा खुलकर आती है. उदाहरण सहित व्याख्या भी सुन लीजिए. गांव-घर में एक कहावत इस्तेमाल होती है, ‘सूप बोले तो बोले, चलनियौ बोले जीमां 72 छेद’. अब ट्विटर पर तो ऐसी कहावतें कोई यूज करता नहीं है. वहां लिखना हो, तो लिखते हैं: ‘Look who’s talking.’ मल्लब द्याखौ… अब इहो बुलिहैं. यही बोलकर कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अरविंद केजरीवाल की खला दी है.

मुआमला ये है कि सोमवार को कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस का मैनिफेस्टो जारी किया. इवेंट रखा गया था दिल्ली में, जहां पिछले प्रधानसेवक मनमोहन सिंह भी मौजूद थे. घोषणाएं हुईं, वादे हुए, तालियां बजीं और इवेंट खत्म हो गया. फिर केजरीवाल ने फैलाया अपना रायता. ट्वीट किया:

‘कांग्रेस ने अपना मैनिफेस्टो दिल्ली में रिलीज किया है. टिकट पाने के लिए पंजाब कांग्रेस के सारे नेता दिल्ली में डेरा डाले पड़े हुए हैं. दिल्ली पंजाब कांग्रेस को चला रही है.’

सबसे मजेदार बात ये है कि केजरीवाल खुद पंजाब चुनाव जीतने के चक्कर में आम आदमी पार्टी की पूरी मशीनरी दिल्ली से उठा कर पंजाब में डाल चुके हैं. ‘आप’ के दिल्ली के लगभग सभी नेता और अधिकतर कार्यकर्ता पंजाब में चुनाव प्रचार में लगे हुए हैं. केजरीवाल ने तो दिल्ली के राजौरी गार्डेन से अपने विधायक जरनैल सिंह को इस्तीफा दिलाकर पंजाब बुला लिया है. जरनैल को पंजाब में प्रकाश बादल के खिलाफ उतारा जाएगा, क्योंकि पार्टी उनके सिख होने का ज्यादा से ज्यादा फायदा उठाना चाहती है. यूपी से आने वाले संजय सिंह और दुर्गेश पाठक भी इन दिनों पंजाब में ही डेरा डाले हुए हैं. संजय सिंह तो फिर केजरीवाल के आसपास दिख जाते हैं, लेकिन दुर्गेश पाठक हमेशा लाइमलाइट से दूर रहते हैं. दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान इन्होंने ‘आप’ के लिए खूब मेहनत की थी और अब वो यही काम पंजाब में कर रहे हैं.

तो अमरिंदर भाई भी ट्विटर की उसी गली से गुजर रहे थे. नजर पड़ी केजरीवाल के ट्वीट पर, तो रीट्वीट करते हुए लिख दिया, ‘Look who’s talking!. कैप्टन के इस ट्वीट के बाद केजरीवाल ने कई ट्वीट्स किए, लेकिन इस पर कोई जवाब नहीं दिया.

tweet

बाहरी vs भीतरी की लड़ाई

केजरीवाल और कैप्टन एक-दूसरे पर जिस चीज को लेकर तंज कस रहे हैं, वो बाहरी-भीतरी की भी लड़ाई है. पंजाब चुनाव में ये मामला हाईलाइट रहता है कि चुनाव लड़ने वाला नेता पंजाब से ताल्लुक रखता है या नहीं. यही वजह है कि केजरीवाल ज्यादा से ज्यादा सिख चेहरों को मंच पर रखना चाहते हैं. पंजाब में अभी तक हुए ओपिनियन पोल कांग्रेस के हक में नतीजे दिखा रहे हैं. वहीं एक पोल में तो ‘आप’ को सिर्फ 10 सीटें मिलती दिखाई गई हैं. हालांकि, इंडिया टुडे के सर्वे में ‘आप’ को 36-41 सीटें मिलती दिख रही हैं. आगे की लड़ाई रोचक होगी.

केजरीवाल के साथ जरनैल सिंह
केजरीवाल के साथ जरनैल सिंह


ये भी पढ़ें:

पंजाब का ये सर्वे केजरीवाल के बारे में अनोखी बात बता रहा है

AAP के नेता दुर्गेश पाठक कौन हैं, जिनसे मिलने के 10 लाख रुपये लगते हैं!

क्या गोवा में ‘आप’ की सरकार बनने जा रही है?

आपके इलाके में कब है पोलिंग, यहां जानें

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

महाश्वेता देवी: जिन्होंने सरकार के विरोध में अपना ही नाटक देखने से मनाकर दिया

एक कलम, जिसका काम पन्नों पर लिखना नहीं, बल्कि हाथों को जमीनी संघर्ष के लिए तैयार करना भी था.

अमरीश पुरी के 18 किस्से: जिनने स्टीवन स्पीलबर्ग को मना कर दिया था!

जिसे हमने बेस्ट एक्टर का एक अवॉर्ड तक न दिया, उसके बारे में स्पीलबर्ग ने कहा "अमरीश जैसा कोई नहीं, न होगा".

राहुल गांधी के हिसाब से तो मर्डर 3 में भी कांग्रेस का हाथ था

राहुल ने कांग्रेस के चिह्न से सारे धर्म जोड़ डाले, कुछ जो रह गया था, हमने जोड़ दिए.

दादी के जमाने के दस बर्तन जो अब किचन में कम दिखते हैं

उस जमाने के बर्तन जब इमाम दस्ते की आवाज से पता चल जाता था, घर में मसलहा बन रहा है.

येसुदास के 18 गाने: आखिरी वाला कभी नहीं सुना होगा, दिन भर रीप्ले न करें तो कहें!

तोप सिंगर जिसने इतने अवॉर्ड जीते कि 30 साल पहले सरकार से बोल दिया - 'अब मुझे न दो, नए लोगों को दो'.

पोस्टमॉर्टम हाउस

'ओके जानू' मूवी रिव्यू : ये क्या था 'फिगर आउट कर लेंगे'

एक लड़का और लड़की प्यार करते हैं, काम करते हैं, तो शादी करना जरूरी काहे हो जाता है?

फिल्म रिव्यू हरामखोर: ट्यूशन टीचर और नाबालिग स्टूडेंट का गैर-बॉलीवुडिया इश्क़

श्वेता त्रिपाठी ने 15 साल की लड़की का रोल निभाया है. वो साढ़े पंद्रह की भी नहीं लगी है.

पीएनएस गाज़ी को डुबाने की कहानी लेकर आ रहे हैं करण जौहर

द गाज़ी अटैक फिल्म का ट्रेलर आ गया है, इसमें ओम पुरी की झलक भी है.

मैनिफेस्टो के हिसाब से कांग्रेस पंजाब में चाय और रेजगारी की बाढ़ लाने वाली है

कैप्टन साहब, अपने आखिरी चुनाव में ऐसी छीछालेदर क्यों कर रहे हैं?