Submit your post

Subscribe

Follow Us

जिस लड़के ने इंडिया से वर्ल्ड कप छीन लिया था, उसकी एक उंगली टूटी हुई थी

साल 2003. इंडिया की सबसे बेहतरीन जीत और सबसे बुरी हार. एक साथ एक ही टूर्नामेंट में. जीत, पाकिस्तान के खिलाफ़. सेंचुरियन में. हार, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ़. जोहांसबर्ग में. उस एक हार ने इंडिया का वर्ल्ड कप जीतने का सपना खतम कर दिया था. खतम क्या, टाल दिया था. इंडिया ने वर्ल्ड कप जीता तो 8 साल बाद. 2011 में. राहुल द्रविड़, सौरव गांगुली, अनिल कुम्बले, ज़हीर खान वर्ल्ड कप जीतने के भरपूर हकदार थे. बस जीत नहीं पाए. एक कदम दूर रह गए.

उस एक हार के नायक थे रिकी पोंटिंग और डेमियन मार्टिन. रिकी पोंटिंग की वो इनिंग्स हमेशा मुझे ओमकारा की कहानी लगती है. एक कल के लौंडे केसू फिरंगी ने लंगड़ा त्यागी के मुंह से मालपुआ भकोस लिया था. उसे बाहुबली बना दिया गया था. जबकि लंगड़ा त्यागी ओमकारा के साथ सालों से लटका हुआ था. ये सोचते हुए कि बाहुबली का असली हकदार वही है. इंडिया की हालत भी वैसी ही थी. ऐन मौके पर पांसा पलट गया. पांसा पलटने वाले – रिकी पोंटिंग और डेमियन मार्टिन.

australia world cup

रिकी पोंटिंग ने मंगलवार को एक खुलासा किया. और ये खुलासा बहुत मज़ेदार है. पोंटिंग ने खुद उस मैच में 140 रन बनाये थे. उनका भरपूर साथ दिया था डेमियन मार्टिन ने. मार्टिन ने चौथे नम्बर पर बैटिंग करते हुए अंत तक पोंटिंग का साथ दिया था और 84 गेंदों पर शानदार 88 रन बनाये थे.

डेमियन मार्टिन उस मैच के ठीक पहले अपनी उंगली तुड़वा कर बैठे हुए थे. वो अगले मैच में यानी फाइनल में खेलने वाले नहीं थे. लेकिन पोंटिंग चाहते थे कि डेमियन मार्टिन खेलें. मार्टिन ने पूरे वर्ल्ड कप में अच्छी बैटिंग की थी. फाइनल इंडिया के साथ था और इंडिया उस वर्ल्ड कप की दूसरी सबसे अच्छी टीम थी. ऑस्ट्रेलिया को वही टक्कर देने की स्थिति में मालूम दे रही थी. वो बात अलग है कि मैच में इंडिया कभी भी ऑस्ट्रेलिया का बाल भी बांका करने की स्थिति में नहीं दिख रही थी.

मैच के दो दिन पहले पोंटिंग मार्टिन के पास पहुंचे और कहा “देखो, अपनी इस उंगली का इलाज करवाओ, आज ट्रेनिंग करो. मैं देखूंगा आज तुम कैसे कैच कर रहे हो गेंदों को. और फिर जब तुम खतम कर लोगे, मेरी आंखों में देखकर कहना कि तुम फाइनल मैच खेलोगे.”

पोंटिंग ने बताया, “मैं फाइनल मैच के दिन उसके पास गया और कहा मेरी आंखों में देखकर कहो कि तुम आज का मैच खेलोगे. उसने मेरी ओर देखा और बोला, ‘हां मैं खेलूंगा.'”

उस मैच में बेहतरीन ओपेनिंग के बाद तीसरे नम्बर पर पोंटिंग और चौथे पर डेमियन मार्टिन आये थे. दोनों के बीच 234* रन की पार्टनरशिप बनी. पोंटिंग ने अपने आखिरी 90 रन मात्र 47 गेंदों में बनाये थे. पूरी इनिंग्स में 8 छक्के मारे.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

Quiz: विराट कोहली को कितने अच्छे से जानते हैं आप?

कोहली को मिला पद्मश्री, समझते हो, बड़ी चीज है. आओ टेस्टिंग हो जाए तुम्हाई.

'काबिल' देखने जाओगे? पहले ये क्विज खेल के खुद को काबिल साबित करो

सलमान ने ऐसा क्या कह दिया था जिससे हृतिक हो गए थे नाराज़? खेल लो. जान लो.

ये क्विज खेलोगे तो मोगैम्बो खुश होगा

आंख फैलाकर, नाक फुलाकर हीरो-हीरोइन को डराने वाला ये एक्टर आज के दिन दुनिया से रुखसत हो गया था.

मस्तानी के मस्तानों के लिए बर्थडे गर्ल दीपिका पर क्विज

दीपिका के 31 होने की खुशी में उनके फैन्स के लिए लल्लनटॉप क्विज.

बाबू मोशाय जिंदगी और मौत ऊपर वाले के हाथ है, ये क्विज तुम्हारे हाथ

राजेश खन्ना के फैन हो, नहीं हो तो भी ये क्विज खेल डालो. क्योंकि आज बड्डे है उनका.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

अगर जवाब है, तो आओ खेलो. आज ध्यानचंद की बरसी है.

खेलो, फवाद पर ये क्विज खेलना राष्ट्रद्रोह नहीं है

फवाद खान के बर्थडे पर सपेसल.

सॉरी शक्तिमान कहने का मौका तब मिले जब ये क्विज खेलो

हर तरफ शक्तिमान का नाम चल्लहा है. लेकिन हम शक्तिमान घोड़े की बात नहीं कर रहे. ये शक्तिमान खन्ना मुकेश वाले हैं.

क्विज़: कौन घर में हो तो अखिलेश खांस खंखार कर अंदर जाते हैं?

क्विज खेलो भैया. हमको भी पता लग जाए तनिक.

न्यू मॉन्क

अपनी चतुराई से ब्रह्मा जी को भी 'टहलाया' नारद ने

नारद कितने होशियार हैं इसका अंदाजा लगा लो.

इस गांव में द्रौपदी ने की थी छठ पूजा

छठ पर्व आने वाला है. महाभारत का छठ कनेक्शन ये है.

नारद के खानदान में एक और नारद

पुराणों में इन दोनों नारदों का जिक्र है एक साथ.

नारद कनफ्यूज हुए कि ये शाप है या वरदान

नारद को मिला वासना का गुलाम बनने का श्राप.

अर्जुन ने तीर मारकर, घोड़ों के लिए बना दी मिनरल वाटर वाली झील

अर्जुन के पास टास्क था जयद्रथ वध का, लेकिन उसी टाइम उनके घोड़ों पर आ गई आफत. फिर क्या हुआ?

इंसानों का पहला नायक, जिसके आगे धरती ने किया सरेंडर

और इसी तरह पहली बार हुआ इंसानों के खाने का ठोस इंतजाम. किस्सा है ब्रह्म पुराण का.

रावण ने अपनी होने वाली बहू से की थी छेड़खानी

रावण की हिटलिस्ट में पहली बार सीता नहीं आई थीं. उनसे पहले भी वो मोलेस्टेशन कर चुका था लेडीज का.

जब भगवान गणेश के सिर में मार दिया रावण के भाई ने

रावण वजह नहीं था. एक मूर्ति के पीछे लड़ बैठे विभीषण से, और खा बैठे थे चोट.

रेपिस्ट था रावण का भाई! आपको नहीं पता तो जान लो

और रावण का भतीजा तो और भी उस्ताद! अपनी मां के रेपिस्ट को मारने वाले को ही मारने चला था.

राम के पूर्वज के श्राप से मरा रावण

जानते हो, इनका भी श्राप लगा था रावण को.