Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

भारत में जन्मे अनीश कपूर की चीन ने क्यों की नकल?

क्या चीन एक भारतीय मूल के कलाकार के बनाए हुए मास्टर पीस की नकल कर सकता है?

इजीनियरिंग की पढ़ाई की. मैथ्य समझ नहीं आई तो इंजीनियरिंग को कहा- टाटा. मम्मी थीं यहूदी और पापा थे इंडियन. मुंबई में आजादी के 7 साल बाद 1954 में पैदा हुए धांसू आर्टिस्ट अनीश कपूर. अनीश साहेब ने दुनिया का सबसे लंबा और ऊंचा स्लाइड आर्सेलर मित्तल ऑर्बिट बनाया. आर्सेलर मित्तल ऑर्बिट की ऊंचाई करीब 376 फुट लंबी. लंदन में लगी इस ऑर्बिट को ज्यादा खूबसूरत बनाने के लिए फिर से काम शुरू कर दिया गया है.

अनीश कपूर की सबसे ज्यादा लोकप्रिय और आकर्षक रचना है क्लाउड गेट. स्टील की एक ऐसी आर्ट, जिससे दूर गगन के बादल, इमारतें और लोग दिखाई पड़ते हैं. क्लाउड गेट लिक्वेड पारे (लिक्विड मरकरी) की तरह दिखाई देता है. अनीश को इस मास्टर पीस का ख्याल भी लिक्विड मरकरी को देखकर आया था.

हर मामले में खुद को तुर्रम खां बताने वाले चीन ने अनीश कपूर के क्लाउड गेट की नकल की. अनीश के क्लाउड गेट को देखकर चीन भी एक फर्जी सा स्टेनलेस स्टील का गेट बना रहा है. लॉजिक है नकल नहीं की, अनीश के क्लाउड गेट में बादल दिखता है और हमारे में जमीं दिखती है.

अनीश की एक कलाकृति ‘क्वींस वेजाइना’ के बाद भी खूब बवाल मचा.

 

स्टील और पत्थर से 60 मीटर लंबी और 10 मीटर ऊंची इस मास्टर पीस को अनीश ने पैलेस ऑफ वर्सेली में लगाया. जगह को नाम दिया गया डर्टी कॉर्नर. इसी पैलेस में अनीश ने लाल रंग के वैक्स से अपनी कला का एक और नमूना पेश किया, जिसका खून और ऑर्गेजम से रिलेटेड बताया गया. अनीश ने डर्टी कॉर्नर का मतलब समझाते हुए कहा कि इसका संबंध साफ तौर पर सेक्स और वैभव से है. वेजाइना ऑफ क्वीन का अर्थ शक्ति हासिल करने से है.

लंदन की रॉयल अकेडमी के बाद अनीश की ‘शूटिंग एट द कॉर्नर’ को मुंबई में प्रदर्शित किया. 2008-09 में बनी ‘शूटिंग एट द कॉर्नर’ अतीत, वर्तमान और भविष्य के कॉन्सेप्ट पर आधारित थी. अनीश की लोकप्रियता और कलाकारी कुछ ऐसी है कि अब से करीब 24 साल पहले 1991 में उन्हें प्रतिष्ठित टर्नर पुरस्कार से नवाजा गया था.

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

अगर जवाब है, तो आओ खेलो. आज ध्यानचंद की बरसी है.

KBC क्विज़: इन 15 सवालों का जवाब देकर बना था पहला करोड़पति, तुम भी खेलकर देखो

अगर सारे जवाब सही दिए तो खुद को करोड़पति मान सकते हो बिंदास!

इन 10 सवालों के जवाब दीजिए और KBC 9 में जाने का मौका पाइए!

अगर ये क्विज जीत लिया तो केबीसी 9 में कोई हरा नहीं सकता

राजेश खन्ना ने किस नेता के खिलाफ चुनाव लड़ा और जीता था?

राजेश खन्ना के कितने बड़े फैन हो, ये क्विज खेलो तो पता चलेगा.

गेम ऑफ थ्रोन्स खेलना है तो आ जाओ मैदान में

अगर ये शो देखा है तभी इस क्विज में कूदना. नहीं तो सिर्फ टाइम बरबाद होगा.

कोहिनूर वापस चाहते हो, लेकिन इसके बारे में जानते कितना हो?

पिच्चर आ रही है 'दी ब्लैक प्रिंस', जिसमें कोहिनूर की बात हो रही है. आओ, ज्ञान चेक करने वाला खेल लेते हैं.

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

आन्हां, ऐसे नहीं कि योग बस किए, दिखाना पड़ेगा कि बुद्धिबल कित्ता बढ़ा.

कौन है जो राहुल गांधी से जुड़े हर सवाल का जवाब जानता है?

क्विज है राहुल गांधी पर. आगे कुछ न बताएंगे. खेलो तो बताएं.

Quiz: संजय दत्त के कान उमेठने वाले सुनील दत्त के बारे में कितना जानते हो?

जिन्होंने अपनी फ़िल्मी मां से रियल लाइफ में शादी कर ली.

कांच की बोतल को नष्ट होने में कितना टाइम लगता है, पता है आपको?

पर्यावरण दिवस पर बात करने बस से न होगा, कुछ पता है इसके बारे में?

न्यू मॉन्क

गणेश चतुर्थी: दुनिया के पहले स्टेनोग्राफर के पांच किस्से

गणपति से जुड़ी कुछ रोचक बातें.

इन पांच दोस्तों के सहारे कृष्ण जी ने सिखाया दुनिया को दोस्ती का मतलब

कृष्ण भगवान के खूब सारे दोस्त थे, वो मस्ती भी खूब करते और उनका ख्याल भी खूब रखते थे.

ब्रह्मा की हरकतों से इतने परेशान हुए शिव कि उनका सिर धड़ से अलग कर दिया

बड़े काम की जानकारी, सीधे ब्रह्मदारण्यक उपनिषद से.

इस्लाम में नेलपॉलिश लगाने और टीवी देखने को हराम क्यों बताया गया?

और हराम होने के बावजूद भी खुद मौलाना क्यों टीवी पर दिखाई देते हैं?

सावन से जुड़े झूठ, जिन पर भरोसा किया तो भगवान शिव माफ नहीं करेंगे

भोलेनाथ की नजरों से कुछ भी नहीं छिपता.

हिन्दू धर्म में जन्म को शुभ और मौत को मनहूस क्यों माना जाता है?

दूसरे धर्म जयंती से ज़्यादा बरसी मनाते हैं.

जानिए जगन्नाथ पुरी के तीनों देवताओं के रथ एक दूसरे से कैसे-कैसे अलग हैं

ये तक तय होता है कि किस रथ में कितनी लकड़ियां लगेंगी.

सीक्रेट पन्नों में छुपा है पुरी के रथ बनने का फॉर्मूला, जो किसी के हाथ नहीं आता

जानिए जगन्नाथ पुरी रथ यात्रा के लिए कौन-कौन लोग रथ तैयार करते हैं.

श्री जगन्नाथ हर साल रथ यात्रा पर निकलने से पहले 15 दिन की 'सिक लीव' पर क्यों रहते हैं?

25 जून से जगन्नाथ पुरी की रथ यात्रा शुरू हो गई है.

भगवान जगन्नाथ की पूरी कहानी, कैसे वो लकड़ी के बन गए

राजा इंद्रद्युम्न की कहानी, जिसने जगन्नाथ रथ यात्रा की स्थापना की थी.